News Nation Logo
Banner

किसान आंदोलन: मोदी जी मन की नहीं, जन की करें बात, पढ़ें प्रेस कॉन्फ्रेंस की 5 बड़ी बातें

सिंघु बॉर्डर पर 20 दिसंबर को प्रेस वार्ता का आयोजन किया गया. जिसमें किसानों के नेता राकेश टिकैत, दर्शनपाल, रलधु सिंह, सरजीत सिंह फूल सहित कई किसान नेताओं ने संबोधित किया.

News Nation Bureau | Edited By : Sushil Kumar | Updated on: 20 Dec 2020, 07:59:35 PM
प्रेस कॉन्फ्रेंस करते किसान नेता

प्रेस कॉन्फ्रेंस करते किसान नेता (Photo Credit: ट्विटर ANI)

नई दिल्ली:  

सिंघु बॉर्डर पर 20 दिसंबर को प्रेस वार्ता का आयोजन किया गया. जिसमें किसानों के नेता राकेश टिकैत, दर्शनपाल, रलधु सिंह, सरजीत सिंह फूल सहित कई किसान नेताओं ने संबोधित किया. भाकियू प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि भाजपा ओछी हरकत कर रही है. किसानों के नाम अनुयायिओं को पैसे देकर रैली निकलवा रही है. किसानों को 50 लाख के मुचलके भरवा रही है. हम इससे डरने वाले नहीं है. आगे निम्न कार्यक्रम होंगे.

1. 21 से 23 तारीख तक सभी धरनों पर 11 किसान एक दिन की भूख हड़ताल करेंगे.

2. 23 दिसंबर को किसान दिवस पर देश के किसान दोपहर का भोजन नहीं बनाएंगे.

3. 25 दिसंबर को भाकियू कार्यकर्ता भाजपा नेताओं को ज्ञापन देकर जवाब लेंगे.

4. 26 दिसंबर को मोदी सरकार के घटक दलों को ज्ञापन देकर कानून वापसी की मांग करेंगे.

5. 26 से 27 दिसंबर को हरियाणा के टोल प्लाजा फ्री करेंगे.

6. कल से अडानी के सभी खाद्य उत्पाद जैसे फॉर्च्यून का आटा, तेल, रिफाइंड आदि का बहिष्कार करेंगे.

7. 27 दिसंबर को मोदी जी की मन की बात के समय किसान देश भर में थाली, ताली के शोर में उनकी आवाज को दबा देंगे.

First Published : 20 Dec 2020, 07:59:35 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.