News Nation Logo
Banner

मसूरी के कैम्पटी फॉल का वीडियो दिखा सरकार ने कहा- ऐसे कैसे रुकेगी तीसरी लहर 

देश में कई दिनों तक कोरोना संक्रमण (Corona Virus) की दूसरी लहर के तबाही मचाने के बाद केंद्र सरकार लगातार संभावित तीसरी लहर से बचने के उपाय कर रही है, लेकिन लोग अब भी लापरवाही करने से बाज नहीं आ रहे हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 09 Jul 2021, 10:53:58 PM
covid19

कैम्पटी फॉल का वीडियो दिखा सरकार बोली- ऐसे कैसे रुकेगी तीसरी लहर (Photo Credit: ANI)

highlights

  • स्वास्थ्य मंत्रालय ने पूछा- क्या यह कोरोना संक्रमण को खुला न्योता नहीं है?
  • पर्यटन स्थलों में कोविड प्रोटोकॉल का किया जा रहा है उल्लंघन

नई दिल्ली:

देश में कई दिनों तक कोरोना संक्रमण (Corona Virus) की दूसरी लहर के तबाही मचाने के बाद केंद्र सरकार लगातार संभावित तीसरी लहर से बचने के उपाय कर रही है, लेकिन लोग अब भी लापरवाही करने से बाज नहीं आ रहे हैं. कई टूरिस्ट प्लेस पर मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग जैसे कोविड प्रोटोकॉल्स का उल्लंघन किया जा रहा है. उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश आदि कई शहरों में पर्यटकों की लापरवाही बरतते हुए भारी भीड़ उमड़ रही है. केंद्र सरकार ने हाल ही में सोशल मीडिया पर वायरल हुए उत्तराखंड के मसूरी के कैम्पटी फॉल के वीडियो का जिक्र करके सवाल किया. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने दैनिक प्रेसवार्ता में पूछा कि क्या यह हम लोग सही कर रहे हैं? क्या यह कोरोना संक्रमण को खुला न्योता नहीं है?

यह भी पढ़ें : पैकेज से कोरोना के खिलाफ लड़ाई को मिलेगी मजबूती : प्रधानमंत्री

पर्यटकों ने कैम्पटी फॉल में कोरोना के नियमों का किया उल्लंघन

जबसे कोरोना वायरस की दूसरी लहर धीमी हुई है, तबसे पहाड़ी इलाकों में पर्यटकों की भीड़ भी बढ़ गई. मसूरी के कैम्पटी फॉल में बिना किसी सोशल डिस्टेंसिंग और बिना मास्क पहने हुए लोग बेधड़क जा रहे हैं. सामने आए वीडियो के बाद संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसमें मसूरी के कैम्पटी फॉल में सैकड़ों सैलानी उमड़ पड़े. 

साथ ही लव अग्रवाल ने ब्रिटेन और बांग्लादेश का उदाहरण देते हुए कहा कि यूरो फुटबॉल मैच के बाद यूके में दैनिक कोरोना मामलों में बढ़ोत्तरी हुई है. कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी रोकने को कोविड प्रोटोकॉल्स का पालन करना बेहद जरूरी है. बांग्लादेश में दूसरी लहर की तुलना में तीसरी लहर में अधिक नए केस देखे गए हैं. देश में सरकार ने लॉकडाउन कर दिया है.

यह भी पढ़ें : कोरोना से संक्रमित लोगों को किडनी का ध्यान रखना चाहिए : विशेषज्ञ

कोरोना वायरस का नया वेरिएंट लैम्ब्डा, सावधान रहने की जरूरत: डॉ वीके पॉल

कोरोना वायरस से देश अभी पूरी तरह ऊबरा भी नहीं की एक और वैरिएंट ने दस्तक दे दी. नीति आयोग के सदस्य-स्वास्थ्य डॉ वीके पॉल ने कहा कि कोरोना वायरस का नया लैम्ब्डा वेरिएंट है. हमें इससे सावधान रहना चाहिए. अभी तक, इस बात का कोई सबूत नहीं है कि भारत में इस प्रकार की पहचान की गई है. 

डॉ. वीके पॉल ने कहा कि मंत्रालय की ओर से गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण को लेकर दिशा-निर्देश जारी कर दिए गए हैं। तीन टीकों का उपयोग करने के हकदार हैं. गर्भवती महिलाओं को टीका लगवाना चाहिए, यह बेहद जरूरी. उन्होंने कहा कि हम अपने गार्ड को कम नहीं कर सकते. पर्यटन स्थलों पर एक नया जोखिम देखने को मिल रहा है जहां भीड़ का जमावड़ा देखा जा रहा है, सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क प्रोटोकॉल का पालन नहीं किया जा रहा है। यह गंभीर चिंता का विषय है.

First Published : 09 Jul 2021, 10:40:32 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.