News Nation Logo
Banner

मोदी सरकार ने स्वयंभू बाबा नित्यानंद का पासपोर्ट किया रद्द, नए की भी अर्जी खारिज

मोदी सरकार (Modi Government) ने विवादास्पद भगोड़े स्वयंभू बाबा नित्यानंद (Swami Nithyananda) को लेकर बड़ा फैसला लिया है.

न्यूज स्टेट ब्यूरो | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 06 Dec 2019, 06:27:13 PM
स्वयंभू बाबा नित्यानंद का पासपोर्ट रद्द

नई दिल्‍ली:

मोदी सरकार (Modi Government) ने विवादास्पद भगोड़े स्वयंभू बाबा नित्यानंद (Swami Nithyananda) को लेकर बड़ा फैसला लिया है. विदेश मंत्रालय ने शुक्रवार को कहा कि सरकार ने विवादास्पद स्वयंभू बाबा नित्यानंद का पासपोर्ट रद्द कर दिया है और नए पासपोर्ट की उसकी याचिका भी खारिज कर दी है. मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने यह भी कहा कि मंत्रालय ने विदेशों में स्थित सभी मिशनों और पोस्टों को नित्यानंद के बारे में सतर्क कर दिया है.

यह भी पढ़ेंःहैदराबाद गैंगरेप: आरोपियों के एनकाउंटर के बाद 5 प्वाइंट में जानें पुलिस की पूरी कहानी

विदेश मंत्रालय ने शुक्रवार को कहा, सरकार ने विवादास्पद स्वयंभू बाबा नित्यानंद का पासपोर्ट रद्द कर दिया है और उसकी नए पासपोर्ट की याचिका भी खारिज कर दी है. मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने यह भी कहा कि मंत्रालय ने विदेशों में स्थित सभी मिशनों और पोस्टों को नित्यानंद के बारे में सतर्क कर दिया है. 

बता दें कि 2010 में नित्यानंद की एक सेक्स CD सामने आई थी. इसके बाद उसे अरेस्ट भी किया गया था. बाद में वह जमानत पर छूट कर बाहर आ गया था. वर्ष 2012 में उसके ऊपर बलात्कार के भी आरोप लगे और अभी भी उसका ट्रायल चल रहा है. यही नहीं गुजरात में भी उसके ऊपर नाबालिग लड़के लड़कियों को बंधक बनाने और उन्हें टॉर्चर करने के आरोप में आपराधिक मामले चल रहे हैं.

पिछले दिनों गुजरात पुलिस ने बताया था कि स्वयंभू बाबा नित्यानंद देश छोड़कर भाग गया है. उनके खिलाफ फौजदारी मामला दर्ज है. इस मामले में उसके खिलाफ सबूत जुटाने के लिए पुलिस ने उसकी दो महिला अनुयायियों को भी गिरफ्तार किया है. अहमदाबाद (ग्रामीण) के पुलिस अधीक्षक एसवी असारी ने बताया था कि नित्यानंद कर्नाटक में उसके खिलाफ बलात्कार का मामला दर्ज होने के बाद ही देश छोड़कर भाग गया था. गुजरात पुलिस उचित माध्यम से उसकी हिरासत हासिल करेगी.

यह भी पढ़ेंःउन्नाव गैंगरेप: पीड़िता के परिजनों को मिली जान से मारने की धमकी, पुलिस बोली- यह गलत है

पुलिस ने उसकी दो महिला अनुयायियों साध्वी प्राण प्रियानंद और प्रियातत्व रिद्धि किरण को भी गिरफ्तार किया था. दोनों पर चार बच्चों को कथित तौर पर अगवा करने और उन्हें एक फ्लैट में बंधक बनाकर रखने का आरोप है. पुलिस नित्यानंद के आश्रम से लापता हुई एक महिला के मामले में जांच कर रही है. महिला के पिता जनार्दन शर्मा ने शिकायत दर्ज कराई थी.

वहीं, रेप के आरोपी बाबा नित्यानंद उर्फ जनार्दन शर्मा देश की सुरक्षा एजेंसियों को धोखा देकर विदेश भाग गया था. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, नित्यानंद ने अपना एक अलग देश ही बना लिया है. इस देश का नाम 'कैलाशा' रखा गया है. जानकारी के मुताबिक, कैलाशा पूरी तरह से एक हिंदू राष्ट्र है और उसका राष्ट्रीय पशु नंदी है. यही नहीं 'कैलाशा' का अपना पासपोर्ट और झंडा भी है. झंडे पर नित्यानंद की तस्वीर के साथ नंदी बैल है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक नित्यानंद का सपना एक धार्मिक अर्थव्यवस्था के रूप में विकसित करने का है.

First Published : 06 Dec 2019, 06:18:14 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो