News Nation Logo

जमात के लोगों को उकसाने वाले मोहम्मद साद का शामली में है आलीशान फार्महाउस

News State | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 05 Apr 2020, 03:31:00 PM
Maulana Saad Farm House Shamli

शामली स्थित मौलाना साद के फार्म हाउस में है हर सुख-सुविधा का इंतजाम. (Photo Credit: न्यूज स्टेट)

highlights

  • मोहम्मद साद का शामली में 24 बीघा में फैला एक बड़ा फार्महाउस भी है.
  • इसमें स्वीमिंग पूल, गेस्ट हाउस समेत लक्जरी कारों का काफिला मौजूद.
  • जमात से जुड़े विवाद के सामने आने के बाद बंद पड़ा है फार्म हाउस.

नई दिल्ली:  

निजामुद्दीन मरकज (Nijamuddin Markaz) से जुड़ी दिल्ली तबलीगी जमात के प्रमुख मोहम्मद साद (Maulana Saad) का शामली जिले में स्थित कांधला में 24 बीघा में फैला एक बड़ा फार्महाउस (Farm House) भी है. फार्महाउस के चारों ओर ऊंची दीवार, बिजलीयुक्त बाड़े के साथ ही उन्होंने खुंखार कुत्ते भी पाल रखे हैं, जो इसकी सुरक्षा करते हैं. ऐसा कहा जाता है कि इस फार्महाउस में हर तरह की सुविधा है. हालांकि अब इसे बंद कर दिया गया है. मोहम्मद साद वही शख्स हैं, जिन्होंने कोरोना वायरस (Corona Virus) लॉकडाउन को धता बता मुसलमानों से मस्जिदों में आने की अपील की थी.

यह भी पढ़ेंः कोरोना के पीछे हो सकता है चीनी लैब! ब्रिटिश सरकार को मिली खुफिया जानकारी

स्वीमिंग पूल औऱ लक्जरी कारें
इस फार्म हाउस में स्वीमिंग पूल, बैठक के कमरे, गेस्ट हाउस और दर्जनभर से अधिक लक्जरी कारें हैं. साथ ही यहां बड़ी संख्या में नौकर, माली और सफाईकर्मी भी नियुक्त किए गए हैं. फार्महाउस का दौरा करने वाले एक सूत्र ने कहा, 'फार्महाउस में बड़ी संख्या में स्वादिष्ट फलों के पेड़ हैं.' यह फार्महाउस मोहम्मद साद के पैतृक संपत्ति का एक हिस्सा है जो उन्हें विरासत के तौर पर अपने पूर्वजों से मिला है. मलकपुर गांव के पास स्थित एक नहर के किनारे बने फार्महाउस में 300 गज का बिल्टअप एरिया भी है, जहां आधा दर्जन कमरे और बरामदे हैं.

यह भी पढ़ेंः तबलीगी जमात से जुड़े 8 लोग IGI एयरपोर्ट पर पकड़े गए, भागने की फिराक में थे 8 मलेशियाई

बेटे के नाम पर बिजली कनेक्शन
पावर कॉपोर्रेशन के एक अधिकारी ने कहा कि फार्महाउस में मोहम्मद साद के बेटे यूसुफ के नाम पर 10 किलोवाट का बिजली कनेक्शन भी है और साथ ही एक नल का कनेक्शन भी है. पूर्व कर्मचारी ने कहा, 'फार्महाउस में मोटरेबल सड़कें, मैनीक्योर लॉन और आंतरिक हिस्सा काफी आलीशान हैं.' पिछले महीने तबलीगी जमात विवाद के बाद से फार्महाउस पूरी तरह से बंद हो गया है और अब किसी को भी यहां आने की अनुमति नहीं है.

यह भी पढ़ेंः तबलीगी जमात के खिलाफ टिप्पणी करने पर युवक की गोली मारकर हत्या, CM योगी ने लिया संज्ञान

मौलाना ने भड़काया जमात के लोगों को
गौरतलब है कि निजामुद्दीन मरकज की ओर से तबलीगी जमात के कार्यक्रम में आने वाले विदेशी प्रचारकों समेत देश के कोने-कोने से आए लोगों की जानकारी छिपाने का आरोप है. इसको लेकर मोहम्मद साद के खिलाफ एफआईआर तक हो चुकी है और क्राम ब्रांच पूछताछ के लिए एक नोटिस भी जारी कर चुकी है. इसके पहले निजामुद्दीन मरकज से जुड़ी एक ऑडियो क्लिप वायरल हुई थी, जिसमें वह मुसलमानों से कहते नजर आए थे कि मरने के लिए मस्जिद से बेहतर और कोई जगह नहीं. उन्होंने यहां तक कह दिया था कि लॉकडाउन मुसलमानों को अलग-थलग करने की एक साजिश है. ऐसे में मुसलमानों को कोरोना से डरने की कोई जरूरत नहीं है कि क्योंकि 70 हजार हूरें अल्लाह के बंदों की हिफाजत के लिए हैं.

First Published : 05 Apr 2020, 03:31:00 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.