News Nation Logo

पुलवामा हमले के बाद अब तक मारे गए 18 आतंकी, मास्टर माइंड मुदस्सिर भी ढेर

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआपीएफ के काफिले पर हुए आतंकी हमले के मास्टरमाइंट को आज त्राल में सुरक्षबलों ने एनकाउंटर में मार गिराया है.

News Nation Bureau | Edited By : Kunal Kaushal | Updated on: 11 Mar 2019, 04:20:43 PM
जेएस ढिल्लन (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:  

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआपीएफ के काफिले पर हुए आतंकी हमले के मास्टरमाइंट को आज त्राल में सुरक्षबलों ने एनकाउंटर में मार गिराया है. त्राल में मारे गए पुलवामा हमले के मास्टरमाइंड का नाम मुदस्सिर अहमद खान है. इस कुख्यात आतंकी के मारे जाने के बाद सेना, सीआरपीएफ और जम्मू-कश्मीर पुलिस ने संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अहम जानकारी दी. सेना की तरफ से बताया गया है कि पुलवामा में हुए हमके के बाद घाटी में 21 दिनों के अंदर अबतक 18 आतंकी मारे जा चुके हैं और आतंकियों के खिलाफ यह कार्रवाई आगे भी जारी रहेगी. सेना की तरफ केजीएस ढिल्लन ने जानकारी देते हुए कहा कि जितने आतंकी पुलवामा हमले के बाद मारे गए हैं उसमें 8 पाकिस्तान के रहने वाले थे.

ढिल्लन ने बताया कि साल 2019 के शुरुआती 70 दिनों में भारतीय सुरक्षा एजेंसियां अब तक 44 आतंकियों का खात्मा कर चुकी है जिसमें ज्यादातर जैश-ए-मोहम्मद के हैं, साल 2018 में पाकिस्तान ने 1629 बार सीजफायर का उल्लंघन किया था और इस साल अबतक 478 बार पाकिस्तान सीजफायर तोड़ चुका है.

भारतीय सेना की तरफ से प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया गया कि जब पाकिस्तान हमें निशाना नहीं बना पा रही तो वो भारत के सीमाई क्षेत्र में रहने वाले आम लोगों को निशाना बनाकर फायरिंग कर रहे हैं.

बता दें कि 14 फरवरी को पुलवामा के अवंतीपुरा में आत्मघाती हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हुए थे. इस हमले की जिम्मेदारी जैश ने ली थी. रविवार को त्राल में आतंकियों की मौजूदगी के बारे में खुफिया जानकारी मिलने के बाद सुरक्षाबलों ने पिंगलिश इलाके को घेरकर सर्च ऑपरेशन शुरू किया था. घेरेबंदी के बाद आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर खुली फायरिंग कर दी थी जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गया था.

अधिकारियों ने बताया कि जेईएम आतंकी खान की पहचान पुलवामा हमले के पीछे साजिशकर्ता के रूप में की जा रही है. सुरक्षाबलों ने कहा कि 23 वर्षीय खान पुलवामा का रहने वाला ग्रेजुएट इलेक्ट्रीशियन था, उसी ने पुलवामा आतंकी हमले में गाड़ी और विस्फोटकों का प्रबंध किया था.

अधिकारियों के मुताबिक, त्राल के मीर मोहल्ला का रहने वाला खान 2017 में जैश-ए-मोहम्मद में शामिल हुआ था. पुलवामा हमले में शामिल आत्मघाती हमलावर आदिल अहमद डार लगातार खान के संपर्क में था.

मुदस्सिर खान को फरवरी 2018 में सुंजवान आर्मी कैंप पर हुए आंतकी हमले में भी संलिप्त माना जाता है जिसमें 6 सुरक्षाबल और एक नागरिक की मौत हुई थी. इसके अलावा जनवरी 2018 में लेथपोरा में सीआरपीएफ कैंप पर हुए आतंकी हमले में उसकी भूमिका सामने आई थी, जिसमें 5 सीआरपीएफ जवान शहीद हुए थे.

पुलवामा आतंकी हमले की जांच कर रही राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने 27 फरवरी को खान के घर की तलाशी ली थी. इसके साथ सज्जाद भट के घर की भी तलाशी ली गई थी.

जांच एजेंसी ने कहा था कि भट ने जेईएम के आत्मघाती हमलावर आदिल अहमद डार को अपनी मारुति इको कार मुहैया कराई थी. एनआईए ने पुलवामा आतंकवादी हमले की जांच के लिए 20 फरवरी को एक मामला दर्ज किया था.

First Published : 11 Mar 2019, 04:20:39 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.