News Nation Logo
Banner

एनडीए 2.0 में फेरबदल: गुजरात से दो पुराने और तीन नए चेहरे

एनडीए 2.0 में फेरबदल: गुजरात से दो पुराने और तीन नए चेहरे

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 08 Jul 2021, 12:00:01 AM
Mansukh L

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

गांधीनगर 7 जुलाई: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार की दूसरी पारी में पहले कैबिनेट फेरबदल में गुजरात से पांच चेहरे शामिल किए गए जिनमें दो मौजूदा और तीन नए चेहरे हैं।

जैसा कि मोदी सरकार अपनी दूसरी पारी में अपने पांच साल के कार्यकाल के आधे पड़ाव पर है, बुधवार को मंत्रिमंडल में फेरबदल किया गया।

कुल 43 नए लोगों में से तीन चेहरे गुजरात के हैं।

बंदरगाह, जहाजरानी, रसायन और उर्वरक राज्य मंत्री मनसुख मंडाविया को कैबिनेट में बरकरार रखा गया है और संभवत: उन्हें कैबिनेट रैंक में पदोन्नत किया जाएगा। मंडाविया ने भावनगर विश्वविद्यालय से राजनीति विज्ञान में मास्टर्स डिग्री हासिल की है और पीएचडी भी कर रहे हैं। मंडाविया 2002 से 2007 तक राज्य में विधायक थे। वह 2012 से 2018 तक राज्यसभा सदस्य थे और सांसद के रूप में उनका दूसरा कार्यकाल 2018 से शुरू हुआ। वह 2013 में गुजरात भाजपा के सचिव और 2015 में राज्य महासचिव भी रहे।

दूसरा मौजूदा चेहरा पुरुषोत्तम रूपाला पंचायती राज, कृषि और किसान कल्याण राज्य मंत्री हैं। रूपाला भाजपा के पुराने चेहरे हैं और गुजरात में भगवा पार्टी की सफलता का स्तंभ माने जाते हैं।

बीजेपी के सूत्रों के मुताबिक, रूपाला को नवगठित सहयोग मंत्रालय का स्वतंत्र प्रभार दिया जा सकता है। सहकार से समृद्धि के विजन के साथ यह नया मंत्रालय देश में सहकारी समितियों को मजबूत करने के लिए एक अलग प्रशासनिक, कानूनी और नीतिगत ढांचा उपलब्ध कराएगा।

गुजरात से तीन नए चेहरों में सूरत से दर्शन जरदोश, खेड़ा से देवुसिंह चौहान और सुरेंद्रनगर से डॉ महेंद्रभाई मुंजापारा शामिल हैं।

दर्शन विक्रम जरदोश लगातार तीसरे कार्यकाल के लिए सूरत नगर निगम के पार्षद और गुजरात समाज कल्याण बोर्ड के सदस्य रहे हैं। उन्होंने सार्वजनिक जीवन में 4 दशक बिताए हैं। वह एक कला और सांस्कृतिक संगठन संस्कृति की निदेशक भी हैं। उन्होंने सूरत के के पी कॉमर्स कॉलेज से बी कॉम किया है।

एक डिप्लोमा इलेक्ट्रिकल इंजीनियर देवुसिंह चौहान सांसद के रूप में अपना दूसरा कार्यकाल पूरा कर रहे हैं। इससे पहले वे 2 बार विधायक रह चुके हैं। राजनीति में प्रवेश करने से पहले, उन्होंने ऑल इंडिया रेडियो में एक इंजीनियर के रूप में कार्य किया। वह अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) समुदाय का प्रतिनिधित्व करते हैं।

राजनीति में नवागंतुक डॉ महेंद्रभाई मुंजापारा, गुजरात के एक सफल हृदय रोग विशेषज्ञ और मेडिसिन के प्रोफेसर हैं। उन्होंने गुजरात विश्वविद्यालय से सामान्य चिकित्सा और चिकित्सा विज्ञान में एमडी की डिग्री प्राप्त की है।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 08 Jul 2021, 12:00:01 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.