News Nation Logo
Banner

मणिशंकर अय्यर ने कहा- कांग्रेस का अध्यक्ष 'गैर-गांधी' हो सकता है, लेकिन...

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर ने कहा कि एक 'गैर गांधी' पार्टी का प्रमुख हो सकता है, लेकिन गांधी परिवार का संगठन के भीतर मौजूद रहना जरूरी होगा.

PTI | Updated on: 23 Jun 2019, 09:53:43 PM
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर

highlights

  • मणिशंकर अय्यर ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष गैर-गांधी हो सकता है
  • अय्यर ने कहा लेकिन गांधी परिवार का पार्टी में सक्रिय रहना जरूरी
  • बीजेपी के चाल को कांग्रेस नहीं होने देगी कामयाब

नई दिल्ली:

लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद राहुल गांधी कांग्रेस के अध्यक्ष पद पर नहीं रहना चाहते हैं. वो इस्तीफे को लेकर अड़े हुए हैं. वहीं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर (Mani Shankar Aiyar) ने कहा कि एक 'गैर गांधी' पार्टी का प्रमुख हो सकता है, लेकिन गांधी परिवार का संगठन के भीतर मौजूद रहना जरूरी होगा. पीटीआई को दिए इंटरव्यू में मणिशंकर अय्यर ने कहा कि बीजेपी का लक्ष्य 'गांधी मुक्त कांग्रेस' है ताकि फिर 'कांग्रेस मुक्त भारत' का उनका मकसद पूरा हो सके.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अय्यर ने कहा कि अगर राहुल गांधी (Rahul Gandhi) पार्टी अध्यक्ष बने रहते हैं तो यह सबसे अच्छा होगा लेकिन साथ ही राहुल की इच्छाओं का भी सम्मान होना चाहिए. उन्होंने आगे कहा कि मैं आश्वस्त हूं कि पार्टी का अध्यक्ष कोई नेहरू-गांधी न हो तब भी हमारा अस्तित्व कायम रहेगा बशर्ते नेहरू-गांधी परिवार पार्टी में सक्रिय रहे और ऐसे संकट का समाधान निकालने में मदद करे जहां गंभीर मतभेद उत्पन्न हो.

इसे भी पढ़ें: भारतीय नौसेना भी बालाकोट स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान पर हमले के लिए थी बिल्कुल तैयार

अय्यर ने बताया कि राहुल गांधी फिलहाल अध्यक्ष पद पर बने हुए हैं उन्होंने कोई अन्य विकल्प ढूंढने के लिए एक महीने का समय दिया है और इसे लेकर कांग्रेस के भीतर बातचीत चल रही है. हालांकि पार्टी के ज्यादातर लोग राहुल गांधी को ही पद पर बने रहने के पक्ष में हैं. हालांकि तब तक मीडिया को अटकलें लगाना बंद कर देना चाहिए जब तक की एक महीने का वक्त पूरा नहीं हो जाता है.

मणिशंकर अय्यर ने पीटीआई से बात करते हुए कहा, 'मुझे नहीं लगता कि यह व्यक्तित्व का मामला है. मैं जानता हूं कि बीजेपी का लक्ष्य गांधी मुक्त कांग्रेस और नतीजन कांग्रेस मुक्त भारत है. मेरे विचार में हम उस सोच के जाल में फंसने वाले नहीं हैं कि उन्होंने कुछ ऐसा पता लगा लिया है जिसे खोज पाने में हम असमर्थ हैं.'

और पढ़ें: राजस्थान में राम कथा के दौरान पंडाल गिरने से 18 लोगों की मौत, 50 से अधिक घायल, PM ने जताया दुख

कांग्रेस में फेरबदल के सवाल पर अय्यर ने कहा कि अगर आप सिर ही कलम कर देंगे तो धड़ फड़फड़ाने लगेगा. अय्यर ने पार्टी के इतिहास से ऐसे कई उदाहरण पेश किए जब नेहरू-गांधी परिवार से बाहर के लोग पार्टी के अध्यक्ष रहे, यू एन ढेबर से लेकर ब्रह्मानंद रेड्डी तक. उन्होंने कहा कि अब भी इस मॉडल को अपनाया जा सकता है.

First Published : 23 Jun 2019, 09:53:43 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×