News Nation Logo
Banner

मणिशंकर अय्यर ने कांग्रेस को एक बार फिर मुसीबत में डाला, लाहौर में दिए बयान पर देश में उबाल

कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर (Congress Leader Mani Shankar Aiyer) के पाकिस्‍तान (Pakistan) जाने और वहां भारत और मोदी सरकार को लेकर दिए गए बयान से भारतीय राजनीति में फिर से उबाल आ गया है.

News Nation Bureau | Edited By : Sunil Mishra | Updated on: 16 Jan 2020, 09:49:06 AM
मणिशंकर अय्यर ने कांग्रेस को एक बार फिर मुसीबत में डाला

मणिशंकर अय्यर ने कांग्रेस को एक बार फिर मुसीबत में डाला (Photo Credit: File Photo)

नई दिल्‍ली:

कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर (Congress Leader Mani Shankar Aiyer) के पाकिस्‍तान (Pakistan) जाने और वहां भारत और मोदी सरकार को लेकर दिए गए बयान से भारतीय राजनीति में फिर से उबाल आ गया है. बीजेपी ने कांग्रेस से इस बाबत सफाई मांगी है. हालांकि कांग्रेस की ओर से अभी तक मणिशंकर अय्यर के बयान पर कुछ नहीं कहा गया है. पाकिस्‍तान के लाहौर में एक कार्यक्रम में मणिशंकर अय्यर ने कहा, “मैं अपन देश के माहौल से निराश हूं. मुझे ऐसा नहीं लगता कि 2014 के बाद मैं उसी मुल्क में रह रहा हूं, जहां मैं 1941 में पैदा हुआ और 6 साल की उम्र में खुद को आजाद भारत का नागरिक महसूस किया.”

अय्यर बोले, “मैं काफी आशा के साथ आया हूं क्योंकि भारत में पिछले चार हफ्ते में जो कुछ हुआ, उसमें वो पॉपुलर काउंटर रिवोल्यूशन है." मणिशंकर अय्यर ने यह बयान इमरान खान के नजदीकी की मौजूदगी में कही थी.

यह भी पढ़ें : पाकिस्तान की फिर हुई फजीहत, UNSC में कश्मीर का मुद्दा उठाने की कोशिश नाकाम

लाहौर में जानें मणिशंकर अय्यर ने और क्‍या कहा : 

  • भारत का जो विचार महात्मा गांधी और नेहरू ने आजादी के बाद सौंपा था, उसे अब हिंदुत्व के उस विचार से चुनौती मिल रही है, जो 100 साल पहले 1923 में पनपा था और इसे अचानक जीत मिली.
  • तीन हफ्तों से सरकार के विरोध में जो क्रांति देखी जा रही है, उसमें साउथ वेस्ट दिल्ली के शाहीन बाग का प्रोटेस्ट काफी असरदार है. वहां महिलाएं पिछले तीन हफ्तों से लगातार 24 घंटे प्रदर्शन कर रही हैं.
  • जब CAA लाया गया तो BJP ने कहा था कि इसका किसी भारतीय से कोई लेना-देना नहीं है लेकिन एक्ट कहता है कि मुस्लिम शरणार्थी इसमें शामिल नहीं होंगे और रोहिंग्या इसका उदाहरण हैं. भारत में 36 से 40 हजार रोहिंग्या हैं लेकिन उन्हें शरण नहीं मिलेगी.
  • अभी ऐसा नहीं लगता कि भारत PoK के बारे में सोच रहा है क्योंकि मोदी के साथ काफी बुद्धिमान लोग हैं.
  • शाहीनबाग के लोगों से बोले- जो भी कुर्बानियों देनी हों, उसमें मैं भी शामिल होने के लिए तैयार हूं. अब देखें कि किसका हाथ मजबूत है, हमारा या उस कातिल का. इनका मकसद आप लोगों को तंग करना है. आपको मुबारकबाद देना चाहता हूं कि आपने इस बात को समझ लिया है कि इन नापाक लोगों का मकसद क्या है.

यह भी पढ़ें : बहुत बड़ा खुलासा : टीम इंडिया के दो खिलाड़ियों को हनीट्रैप में फंसाने की कोशिश, अभिनेत्री पर शक

जानें मणिशंकर अय्यर ने कब-कब दिया है विवादित बयान

  • 12 अगस्‍त 2019 : मणिशंकर अय्यर ने कहा था, 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने जम्मू-कश्मीर को फिलिस्तीन बना दिया है. मोदी-शाह ने अपने गुरु बेंजामिन नेतन्याहू और मेनकेम बेग से काफी कुछ सीखा है. उन्होंने सीखा है कि कैसे कश्मीरियों की स्वतंत्रता, गरिमा और आत्मसम्मान को रौंदना है जैसे फिलिस्तीन में इजरायल ने रौंदा.'
  • 5 अगस्‍त 2019: मणिशंकर अय्यर ने जम्‍मू-कश्‍मीर में अनुच्‍छेद 370 को निष्‍प्रभावी करने के मोदी सरकार के फैसले पर नाराजगी जताते हुए कहा था, 'इस सरकार ने भारत के खिलाफ जिन्ना के सपने को पूरा कर दिया है. भारत के लिए जिन्ना जो चाहता था, आज आर्टिकल 370 हटने के बाद से वही होगा.'

यह भी पढ़ें : नोट पर छापें लक्ष्मी की फोटो तो सुधरेगी रुपये की स्थिति, सुब्रमण्यम स्वामी की सलाह

  • 15 मई 2019 : मणिशंकर अय्यर ने अपना आपा खोते हुए एक पत्रकार को कहा था कि मैं तुम्‍हें मार दूंगा. पत्रकार ने पीएम नरेंद्र मोदी को लेकर सवाल पूछे थे. इस पर मणिशंकर अय्यर नाराज हो गए थे.
  • 14 मई 2019 : 2017 में गुजरात विधानसभा चुनाव के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी को 'नीच आदमी' कहने वाले मणिशंकर अय्यर ने एक अंग्रेजी वेबसाइट के लिए लिखे लेख में लिखा- मैंने 2017 में मोदी को जो कहा था क्या वह बिल्कुल सही भविष्यवाणी नहीं थी? उन्‍होंने लिखा था- 'याद है 2017 में मैंने मोदी को क्‍या कहा था? क्‍या मैंने सही भविष्‍यवाणी नहीं की थी?'
  • 07 जनवरी 2019 : मणिशंकर अय्यर ने दिल्ली में सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया द्वारा आयोजित 'एक शाम बाबरी मस्जिद के नाम' कार्यक्रम में कहा था, क्या अल्लाह में भरोसा रखना हिंदुस्तानियों के लिए गलत चीज है. दशरथ एक बहुत बड़े महाराजा थे. कहा जाता है कि उनके महल में 10,000 कमरे थे तो कौन जानता है कि कौन-सा कमरा कहां था. इसलिए ये कहना कि हमारे भगवान राम यहीं पैदा हुए थे और इसलिए मंदिर यहीं बनाएंगे क्योंकि एक मस्जिद है वहां, उसको हम पहले तोड़ेंगे और उसकी जगह हम बनाएंगे.'

यह भी पढ़ें : दिल्ली चुनाव 2020: भाजपा के साथ तालमेल की कोशिश में लगी जदयू

  • 11 अगस्‍त 2018 : मणिशंकर अय्यर ने गुजरात के 2002 दंगों को लेकर पीएम मोदी पर सीधा निशाना साधा था. अय्यर ने कहा था, 'उन्होंने 2014 से पहले नहीं सोचा था कि मुसलमानों को पिल्ला समझने वाला एक मुख्यमंत्री भारत का प्रधानमंत्री बन सकता है.' समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक मणिशंकर अय्यर ने कहा, 'जब उनसे (नरेन्द्र मोदी) से पूछा गया था कि क्या आपको दुख है कि 2002 में इतने मुसलमानों को जान की कुर्बानी देनी पड़ी, उन्होंने कहा, 'एक पिल्ला भी गाड़ी के नीचे आ जाय तो दिल में कुछ चोट लगता है.''
  • 07 मई 2018 : पाकिस्तान के दौरे पर गए मणिशंकर अय्यर ने लाहौर में आयोजित एक कार्यक्रम में कहा था- मौजूदा समय में भारत की स्थिति वीभत्स है. 1923 में एक व्यक्ति वीडी सावरकर ने 'हिंदुत्व' शब्द का आविष्कार किया था, जिसका किसी धार्मिक ग्रंथों से संबंध नहीं है. इसलिए भारत में जो अभी सत्ता में हैं उनके वैचारिक गुरु दो राष्ट्र के सिद्धांत का सबसे पहले प्रस्तावक थे. टू नेशन थ्योरी का फॉर्मूला देने वाले सावरकर वर्तमान सरकार में बैठे लोगों के वैचारिक गुरु हैं.'
  • 12 फरवरी 2018 : मणिशंकर अय्यर ने विवादित बयान देते हुए कहा था, मैं पाकिस्तान से प्यार करता हूं, क्योंकि मैं हिन्दुस्तान से प्यार करता हूं. अय्यर के इस बयान पर एक बार फिर विवाद होना तय माना जा रहा है.

यह भी पढ़ें : Gold Rate Today 16 Jan: MCX पर आज कैसी रहेगी सोने-चांदी की चाल, देखें टॉप ट्रेडिंग कॉल्स

  • 07 दिसंबर 2017 : मणिशंकर अय्यर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 'नीच' आदमी बताते हुए कहा कि वह सिर्फ 'गंदी' राजनीति करते हैं. उन्होंने कहा, 'मुझे लगता है कि यह आदमी बहुत नीच किस्म का आदमी है. इसमें कोई सभ्यता नहीं है और ऐसे मौके पर इस किस्म की गंदी राजनीति करने की क्या आवश्यकता है?'

First Published : 16 Jan 2020, 09:05:18 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.