News Nation Logo

इंसाफ की गुहार के लिए ममता बनर्जीे को भेजा मैसेज और हो गया गिरफ्तार

अगर आप सीएम को मैसेज भेजें और फिर आपको पुलिस पकड़ कर ले जाए, ऐसा कभी सुना है आपने ?

News Nation Bureau | Edited By : Soumya Tiwari | Updated on: 28 Sep 2016, 09:00:25 AM

Kolkata:

अगर आप सीएम को मैसेज भेजें और फिर आपको पुलिस पकड़ कर ले जाए, ऐसा कभी देखा है आपने ? कोलकाता के बर्धमान जिले के एक वकील ने ये दावा किया है कि उसे पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से टेक्स्ट मैसेज के जरिए मदद मांगना बहुत भारी पड़ा। बर्धमान कोर्ट में वकालत करने वाले 37 वर्षीय सुदीप्तो रॉय के मुताबिक उन्हें मुख्यमंत्री को एसएमएस भेजने के लिए गिरफ्तार कर लिया गया।

सुदीप्तो अपनी मां को इंसाफ दिलाने के लिए लड़ रहे हैं। सुदीप्तो का कहना है कि सीपीएम कार्यकर्ताओं ने 2012 में उनकी मां का यौन उत्पीड़न किया था। इसी सिलसिले में मदद के लिए मुख्यमंत्री को एसएमएस भेजा था। रविवार दोपहर को बर्धमान पुलिस स्टेशन से कुछ अधिकारी उनके घर पर आए।

उन्होंने सुदीप्तो से सवाल किया कि क्या मुख्यमंत्री को एसएमएस भेजने वाला वही शख्स है। इसके बाद पुलिस अधिकारियों ने बताया कि उन्हें मुख्यमंत्री को एसएमएस भेजने की वजह से हिरासत में लिया जाता है। 2012 में सीपीएम नेता बिशेश्वर रे ने उनकी मां से रेप की कोशिश की थी, लेकिन कोई न्याय नहीं मिला।

पुलिस ने बताया आरोपों को गलत

जिला पुलिस ने सुदीप्तो रॉय के दावों को गलत बताया है। बर्धमान के एएसपी द्युतिमान भट्टाचार्य ने कहा, 'रविवार को बर्धमान पुलिस स्टेशन में एक महिला की ओर से शिकायत दर्ज की गई थी। सोनाली रॉय नाम की इस महिला ने अपने पति सुदीप्तो रॉय के खिलाफ लगातार धमकाने और यातनाएं देने का आरोप लगाया था।'

इस मामले में पुलिस टीम जांच कर रही है। इस मामले में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का कोई बयान नहीं आया है।

First Published : 28 Sep 2016, 08:47:00 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.