News Nation Logo
Banner

नागरिकता संशोधन बिल पर राम माधव ने ममता बनर्जी को दी ये बड़ी चेतावनी, जानें क्या कहा

बीजेपी के महासचिव राम माधव (Madhav on Citizen) ने नागरिकता संशोधन विधयेक (Citizenship Amendment Bill) का विरोध करने वालों को आड़े हाथों लिया है.

न्यूज स्टेट ब्यूरो | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 09 Dec 2019, 07:14:34 PM
राम माधव

नई दिल्ली:

बीजेपी के महासचिव राम माधव (Madhav on Citizen) ने नागरिकता संशोधन विधयेक (Citizenship Amendment Bill) का विरोध करने वालों को आड़े हाथों लिया है. उन्होंने कहा कि नागरिका संशोधन बिल पर विपक्ष की दलीलें गुमराह करने वाली है. इसके साथ ही बीजेपी नेता ने पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री और टीएमसी प्रमुख बनर्जी को भी निशाने पर लिया.

उन्होंने कहा कि अगर यह विधेयक संसद के दोनों सदनों में पेश होता है तो यह संविधान का हिस्सा बन जाएगा. राज्य की मुख्यमंत्री होने के नाते, उन्हें संविधान के हर कानून को मानना होगा. अगर वह ऐसा नहीं करती हैं, तो केंद्र इस पर फैसला लेगा कि उन्हें क्या करना है.

राम माधव ने कहा कि विपक्ष लोगों को गुमराह कर रहा है. यह विधेयक उन अल्पसंख्यकों को बचाने के लिए है जो भारत आए. अगर वे यहां पिछले पांच साल से ज्यादा समय से हैं, तो वे भारत की नागरिकता के लिए आवेदन कर सकते हैं. हम बहुत से लोगों को शरणार्थी का स्टेटस देने के लिए तैयार हैं. इनमें श्रीलंका और पाकिस्तान से आने वाले लोग भी शामिल हैं.

इधर,खड़गपुर में सीएम ममता बनर्जी (CM Mamata Banerjee) ने कहा, 'नागरिकता संशोधन बिल (CAB) से डरने की जरूरत नहीं है. हम लोग आपके साथ हैं. जब तक हम यहां हैं कोई भी आप पर कुछ भी थोप नहीं सकता.'

इसे भी पढ़ें:नागरिकता बिल पर बोले मनीष तिवारी, विधेयक असंवैधानिक और देश को बांटने वाला

ममता ने कहा कि एनआरसी और कैब को लेकर चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है. हम बंगाल में कभी इसकी इजाजत नहीं देंगे. वे किसी वैध नागरिक को यूं ही देश से बाहर नहीं फेंक सकते या उसे शरणार्थी नहीं बना सकते.

First Published : 09 Dec 2019, 07:08:14 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

LiveScore Live IPL 2021 Scores & Results

वीडियो

×