News Nation Logo
मुंबई भी पहुंचा ओमीक्रॉन वैरिएंट, एक और मरीज मिला प्रियंका गांधी का बड़ा आरोप- UP TET घोटाले में दाल में कुछ काला ही नहीं, पूरी दाल ही काली है BJP योगी के नेतृत्व में लड़ेगी यूपी चुनाव: अमित शाहRead More » IPL 2022 : RCB के साथ फिर जुड़ेंगे एबी डिविलियर्स, विराट कोहली के साथ...!Read More » नवजोत सिंह सिद्धू ने फिर की भारत-पाक बार्डर खोलने की मांग ओमीक्रॉन को लेकर केंद्र की राज्यों को चिट्ठी, Omicron पर ट्रेसिंग और टेस्टिंग बढ़ाना जरूरी MSP गारंटी पर कमेटी के लिए 5 नामों पर बनी सहमति PM मोदी ने देवभूमि को किया प्रणाम, पढ़ी ये कविता 'जहां पर्वत गर्व सिखाते हैं...'Read More » ओमीक्रॉन खौफ के बीच टीम इंडिया का दक्षिण अफ्रीका दौरा टला न्यूजीलैंड में शामिल मुंबई के लड़के एजाज पटेल ने किया कमाल. लिए 10 विकेट

विपक्ष ने गतिरोध के लिए केंद्र को जिम्मेदार ठहराते हुए राज्यसभा में कहा, पेगासस पर चर्चा को तैयार

विपक्ष ने गतिरोध के लिए केंद्र को जिम्मेदार ठहराते हुए राज्यसभा में कहा, पेगासस पर चर्चा को तैयार

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 05 Aug 2021, 05:20:01 PM
Mallikarjun Kharge

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

नई दिल्ली: राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने गुरुवार को गतिरोध के लिए केंद्र को जिम्मेदार ठहराया और कहा कि विपक्ष पेगासस जासूसी मुद्दे पर चर्चा के लिए तैयार है।

उन्होंने कहा, चर्चा अभी शुरू करें, हम तैयार हैं।

कांग्रेस नेता ने कहा कि उन्हें रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह का फोन आया था कि वह एक बार विदेश से आने पर इस मुद्दे को सुलझा लेंगे, लेकिन विपक्ष के किसी सदस्य को अभी तक किसी बैठक के लिए आधिकारिक आमंत्रण नहीं मिला है।

खड़गे के आरोप के जवाब में रक्षा मंत्री ने कहा कि उन्होंने कोई आश्वासन नहीं दिया था और केवल इतना कहा था कि सदन में उचित चर्चा होनी चाहिए और हंगामा बंद हो जाना चाहिए।

खड़गे ने सरकार पर पेगासस और विपक्ष द्वारा उठाए गए अन्य मुद्दों पर चर्चा नहीं होने देने का आरोप लगाया। उन्होंने सरकार पर मीडिया में यह धारणा बनाने की कोशिश करने का आरोप लगाया कि विपक्ष संसद को नहीं चलने दे रहा है।

खड़गे ने यह मुद्दा तब उठाया, जब आवश्यक रक्षा सेवा विधेयक, 2021 पर चर्चा हो रही थी और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने इसका जवाब दिया।

केंद्र ने गुरुवार को सात विधेयकों को राज्यसभा में विचार और पारित करने के लिए रखा था। दोपहर तक संक्षिप्त स्थगन के साथ दो विधेयक पारित किए गए।

अपराह्न् 3 बजे तक अनुसूचित जनजातियों की सूची को संशोधित करने के लिए संविधान (अनुसूचित जनजाति) आदेश, 1950 विधेयक अरुणाचल प्रदेश राज्य के संबंध में पारित किया गया, जबकि दूसरा विधेयक राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र और आसपास के क्षेत्रों में वायु गुणवत्ता प्रबंधन आयोग विधेयक, 2021 पारित किया गया।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 05 Aug 2021, 05:20:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.