News Nation Logo
Banner

महाराष्ट्र में सरकार गठन की कवायद तेज, एनसीपी ने दिए शिवसेना को सशर्त समर्थन के संकेत

बीजेपी ने सरकार गठन को लेकर अभी तक कोई स्पष्ट संकेत नहीं दिए हैं और रविवार दोपहर कोर कमेटी की बैठक बुलाई है. इस बीच एनसीपी ने बीजेपी के सरकार बनाने में असफल साबित रहने पर अपनी कोशिश शुरू करने के संकेत दिए हैं.

By : Nihar Saxena | Updated on: 10 Nov 2019, 08:44:00 AM
एनसीपी नेता नवाब मलिक ने दिए शिवसेना को सशर्त समर्थन के संकेत.

एनसीपी नेता नवाब मलिक ने दिए शिवसेना को सशर्त समर्थन के संकेत. (Photo Credit: (फाइल फोटो))

highlights

  • महाराष्ट्र बीजेपी की कोर कमेटी की बैठक आज. सरकार के गठन और फ्लोर टेस्ट पर होगी चर्चा.
  • इस बीच एनसीपी ने शिवसेना को दिए समर्थन के संकेत, बशर्ते वह बीजेपी के खिलाफ वोट दे.
  • हालांकि सूत्रों के मुताबिक शिवसेना और बीजेपी की टूट अभी तक पूरी तरह से नहीं.

नई दिल्ली:

महाराष्ट्र में 'कौन बनेगा मुख्यमंत्री' का पेंच अभी तक सुलझ नहीं सका है. खासकर शिवसेना से बढ़ी कड़वाहट के बीच राज्यपाल भगत सिंह कोशियारी ने बीजेपी को सरकार बनाने का न्योता देते हुए 11 नवंबर तक बहुमत साबित करने को कहा है. हालांकि बीजेपी ने सरकार गठन को लेकर अभी तक कोई स्पष्ट संकेत नहीं दिए हैं और रविवार दोपहर कोर कमेटी की बैठक बुलाई है. इस बीच एनसीपी ने बीजेपी के सरकार बनाने में असफल साबित रहने पर अपनी कोशिश शुरू करने के संकेत दिए हैं. इन स्थितियों में सरकार के गठन को लेकर अनिश्चितता और बढ़ गई है. बता दें, शनिवार मध्य रात्रि को महाराष्ट्र की 13वीं विधानसभा का कार्यकाल पूरा हो गया लेकिन अगली सरकार को लेकर अभी तक रुख स्पष्ट नहीं है.

यह भी पढ़ेंः आरबीआई के डिप्टी गवर्नर की दौड़ में चेतन घाटे और माइकल पात्रा सबसे आगे

बीजेपी की कोर कमेटी की बैठक आज
महाराष्ट्र के बीजेपी अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने न्यूज एजेंसी पीटीआई से कहा, 'हमें राज्यपाल की ओर से पत्र मिला है. पार्टी की कोर कमेटी रविवार को बैठक करेगी और अगले कदम पर चर्चा करेंगे.' हालांकि शिवसेना ने बीजेपी को सरकार बनाने का न्योता देने का स्वागत करते हुए एक तरह से चुनौती पेश कर दी है. गौरतलब है कि संभावित खरीद-फरोख्त से आशंकित शिवसेना और कांग्रेस ने अपने-अपने विधायकों को सुरक्षित कर लिया है. कांग्रेस ने जहां अपने विधायकों को राजस्थान भेज दिया है, वहीं शिवसेना ने उन्हें मुंबई के ही एक होटल में सुरक्षित रख छोड़ा है.

यह भी पढ़ेंः मुहूर्त देखकर 2020 से शुरू होगा भव्य राम मंदिर का निर्माण, लग सकते हैं 5 साल

एनसीपी ने दिए शिवसेना को सशर्त समर्थन देने के संकेत
इस बीच एनसीपी नेता नवाब मलिक ने 'हॉर्स ट्रेडिंग' को लेकर राज्यपाल को आगाह किया है. इसके साथ ही एनसीपी ने संकेत दिए हैं कि विधानसभा में अगर बीजेपी की सरकार गिर जाती है, तो एनसीपी महाराष्ट्र की जनता के हितों को ध्यान में रखते हुए सरकार बनाने की कोशिश करेगी. एनसीपी ने इसके साथ ही शिवसेना की तरफ परोक्ष रूप से हाथ बढ़ा दिया है. एनसीपी विधायक नवाब मलिक के मुताबिक अगर शिवसेना ने बीजेपी सरकार गिराने के लिए सदन में वोट किया तो हम उन्हें समर्थन देने पर विचार करेंगे. आगे की रणनीति के लिए एनसीपी ने अपने विधायकों की मीटिंग 12 नवंबर को बुलाई है.

First Published : 10 Nov 2019, 08:44:00 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×