News Nation Logo
Banner

कश्मीर के माताओं से सेना की भावुक अपील, आतंक की राह पर बच्चों को ना जानें दें

राहिल की मौत पर चीनार कोर के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्लों ने जम्मू-कश्मीर के युवाओं से एक भावुक अपील की है.

News Nation Bureau | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 07 Apr 2019, 04:12:49 PM
चीनार कोर के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्लों

चीनार कोर के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्लों

नई दिल्ली:

जम्मू-कश्मीर के शोपियां में शनिवार को दो आतंकवादियों को सुरक्षाबलों ने ढेर किया था. इसमें से एक 25 साल के आतंकी राहिल ने हाल ही में हरियाणा से एमटेक में पढ़ाई की थी. उसने 3 अप्रैल को आतंक के रास्ते पर चलना शुरू किया था. राहिल की मौत पर चीनार कोर के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्लों ने जम्मू-कश्मीर के युवाओं से एक भावुक अपील की है. ढिल्लों ने युवाओं के परिजनों को संबोधित करते हुए कहा, 'आपने उन्हें उच्च शिक्षा में भेजा, लेकिन वह आतंकी संगठन जॉइन करने के कुछ दिन बाद ही मारा गया. क्या यह कश्मीरी युवकों का भविष्य है? क्या हम यह देखने के लिए काम कर रहे हैं?'

हालांकि इस दौरान केजेएस ने भी माना कि युवाओं को आतंकी समूहों से दूर रखने के लिए माताओं से की गई उनकी अपील के सकारात्मक नतीजे आने लगे हैं. ढिल्लों ने कहा, माताओं से मेरी की गई अपील के कारण सकारात्मक नतीजे आए हैं. लड़के हमसे संपर्क कर रहे हैं और कुछ का पुनर्वास किया गया है. इस साल खासकर पुलवामा के बाद हमने जैश-ए-मोहम्मद के नेतृत्व को निशाना बनाया है, आज मैं आश्वस्त कर सकता हूं जैश नेतृत्व कश्मीर घाटी में मौजूद नहीं है.

इसे भी पढ़ें: UPSC Topper 2018: UPSC Topper 2018 कनिष्क कटारिया ने इसलिए छोडी थी करोड़ो के पैकेज वाली नौकरी

बता दें कि शनिवार को ही सोपोर में एक बार फिर से दहशतगर्दों ने स्थानीय सेना के जवान को निशाना बनाया. छुट्टी पर घर लौटे जवान की गोली मारकर हत्या कर दी गई. मृतक जवान का नाम मोहम्मद रफी यातू है.

First Published : 07 Apr 2019, 04:12:42 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो