News Nation Logo
Banner

मॉनसून सत्र से पहले लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला सभी पार्टियों के नेताओं से मिले

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ( Lok Sabha speaker Om Birla ) ने मानसून सत्र (Parliament Monsoon Session) से पहले सभी पार्टियों के नेताओं से मिले

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Sharma | Updated on: 18 Jul 2021, 05:07:58 PM
Lok Sabha speaker Om Birla

Lok Sabha speaker Om Birla (Photo Credit: ANI)

highlights

  • मानसून सत्र से पहले लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला सभी पार्टियों के नेताओं से मिले
  • संसद का मॉनसून सत्र कल से शुरु होगा और अगले महीने की 13 तारीख तक चलेगा
  • इससे पहले सदन के सभापति और उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने बैठक बुलाई थी

नई दिल्ली:

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ( Lok Sabha speaker Om Birla ) मानसून सत्र (Parliament Monsoon Session) से पहले सभी पार्टियों के नेताओं से मिले. संसद का मॉनसून सत्र कल से अगले महीने की 13 तारीख तक चलेगा. इस दौरान लोकसभा और राज्‍य सभा की 19 बैठकें होंगी. आपको बता दें कि इससे पहले श​​निवार को सदन के सभापति और उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू (Vice President M Venkaiah Naidu) ने राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में राज्यसभा के सदन के नेताओं (floor leaders of Rajya Sabha) की बैठक बुलाई. सदन के सभापति और उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू द्वारा बुलाई गई बैठक में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और अन्य केंद्रीय मंत्री और नेता मौजूद रहे थे.

यह भी पढ़ेंःब्लाक प्रमुख चुनाव के नामांकन के दौरान हुई हिंसा पर मायावती ने SP, BJP पर बोला हमला

संसद के सोमवार से शुरू होने वाले मानसून सत्र के दौरान केंद्र सरकार द्वारा वित्त से संबंधित दो सहित 31 विधेयकों पर विचार किए जाने की संभावना है. संसदीय कार्य मंत्री प्रल्हाद जोशी ने रविवार को हुई सर्वदलीय बैठक के दौरान जानकारी दी कि इनमें से सरकार ने 29 विधेयक लाने का प्रस्ताव किया है. इसमें छह अध्यादेश हैं जो बजट सत्र के बाद पारित किए गए थे, और वित्त से संबंधित दो विधेयक हैं. जोशी ने कहा कि संसद परिसर में सर्वदलीय बैठक की अध्यक्षता करने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कामकाज के सुचारू संचालन और इन कानूनों को पारित करने में सभी दलों का सहयोग मांगा. प्रधानमंत्री का हवाला देते हुए जोशी ने बताया कि उन्होंने 19 दिवसीय मानसून सत्र की शुरूआत में स्वस्थ और सार्थक चर्चा पर जोर दिया.

यह भी पढ़ेंःयूपी चुनाव के समय इस प्रकार की घटना संदेह पैदा करती हैः मायावती

इस बात पर जोर देते हुए कि सांसदों को इसे शांतिपूर्ण सत्र बनाने का प्रयास करना चाहिए, प्रधानमंत्री ने कहा कि सभी मुद्दों पर लोकतांत्रिक तरीके से चर्चा की जानी चाहिए और सभी दलों को सदन चलाने में सहयोग करना चाहिए. जोशी ने कहा, "प्रधानमंत्री ने यह भी आश्वासन दिया कि सरकार प्रक्रिया के तहत प्रत्येक मुद्दे पर चर्चा के लिए तैयार है." सर्वदलीय बैठक में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल, लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी, तृणमूल कांग्रेस के सांसद डेरेक ओ ब्रायन, द्रमुक के तिरुचि शिवा सहित अन्य ने भाग लिया.

First Published : 18 Jul 2021, 04:40:05 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.