News Nation Logo

BREAKING

किसान बोले- पीएम मोदी हमसे बात करने को नहीं तैयार, सिर्फ करते हैं अपने मन की बात

कृषि कानूनों को लेकर किसान पिछले 2 महीने से आंदोलन कर रहे हैं और अब यह लड़ाई दिल्ली के करीब तक आ गई है. किसान पिछले 4 दिन से दिल्ली बॉर्डर पर डटे हुए हैं और उनकी मांग जंतर-मंतर पर प्रदर्शन करने की है.

News Nation Bureau | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 30 Nov 2020, 01:21:51 PM
Farmers Protest Live Updates

किसानों की रैली (Photo Credit: न्यूज नेशन )

नई दिल्ली:

कृषि कानूनों को लेकर किसान पिछले 2 महीने से आंदोलन कर रहे हैं और अब यह लड़ाई दिल्ली के करीब तक आ गई है. किसान पिछले 4 दिन से दिल्ली बॉर्डर पर डटे हुए हैं और उनकी मांग जंतर-मंतर पर प्रदर्शन करने की है. रविवार का दिन किसान आंदोलन की वजह से खासा व्यस्त रहा. किसानों ने प्रदर्शन के लिए बुराड़ी जाने से मना कर दिया तो देर रात बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा के घर पर हाई लेवल बैठक हुई जो करीब 2 घंटे तक चली.

Live : किसान बोले- पीएम मोदी हमसे बात करने को नहीं तैयार, सिर्फ करते हैं अपने मन की बात

किसान बोले- पीएम मोदी हमसे बात करने को नहीं तैयार, सिर्फ करते हैं अपने मन की बात. हम सभी राज्यों के किसान संगठनों के साथ बैठक नहीं कर सकते. हम केवल पंजाब के 30 संगठनों के साथ ही ऐसा कर सकते थे. हमने मोदीजी के सशर्त निमंत्रण को अस्वीकार कर दिया.  

दिल्ली के सिंघु बॉर्डर पर  3 से 4 हज़ार किसान अभी भी जमे हुए है. वहीं दिल्ली पुलिस समेत लगभग 1 हज़ार सुरक्षाकर्मी यहां तैनात किए गए है. किसान अपने आंदोलन के 5वें दिन भी इस बात पर अड़े हुए है कि उनसे बिना शर्त बात की जाए.

गाजियाबाद : यूपी दिल्ली गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों ने बैनर लगा दिया है और लिख है धारा 288 लागू है यह धारा किसानों ने खुद बनाई है. किसानों का कहना है यह क्षेत्र किसानों के अलावा सभी के लिए वर्जित है.

बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने नए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों पर कहा कि केंद्रीय सरकार खरीद तंत्र में मुद्दों के डर को दूर करने के लिए किसानों से बात करना चाहती है. इसलिए मेरा मानना है कि बातचीत होनी चाहिए. विरोध प्रदर्शन गलत धारणाओं के कारण हो रहे हैं.


किसान आंदोलन को लेकर बोले बीजेपी सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया. तीनों विधेयक किसान हित में है. बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा का जो मंत्र, अमित शाह का जो मंत्र है वो किसान हित में है. पहले कृषि के क्षेत्र में कुछ पाबंदियां लगी थी. उन जंजीरों को पीएम मोदी ने तोड़ दिया है. कुछ लोग अन्नदाताओं को गुमराह करने का प्रयास कर रहे है. 

दिल्ली के सिंधु बॉर्डर पर एक मेडिकल कैंप की व्यवस्था की गई है. डॉक्टर का कहना है कि हम यहां कोरोना का टेस्ट करेंगे. ताकि पता चल सके कि यहां कोई कोरोना का सुपर स्प्रेडर तो नहीं है.


कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों ने गुरुनानक जयंती के अवसर पर टिकरी सीमा पर अरदास की.


नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसान प्रदर्शनकारी दिल्ली-यूपी बॉर्डर पर डटे हुए हैं.


किसान आंदोलन के चलते बॉर्डर बंद होने से मंडियो में किसान ही बेहाल हो रहे हैं. 14 से 20 घंटे ज्यादा समय मे मंडी पहुंच रहे है. रास्ते मे हो रही सब्ज़िया खराब ट्रक मंडी की बिक्री के समय के बाद पहुंच रहे है और फिर अगले दिन बेचने के इंतज़ार में मंडी में ही खड़े रहते है. अगले दिन सुखी सब्ज़ी के दाम आधे हो जाते है. अमृतसर से मटर का ट्रक लेकर आए किसान का देर से आने की वजह सेक एक तिहाई माल बिका वो भी कम दाम में अब अगले दिन की नीलामी के समय तक कर रहा इंतेज़ार  अगले दिन पुरानी मटर के भाव और गिर जाएंगे ट्रक का भाड़ा चढ़ेगा अलग.

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने ट्वीट कर लिखा- नए कृषि कानून APMC मंडियों को समाप्त नहीं करते हैं. मंडियां पहले की तरह ही चलती रहेंगी. नए कानून ने किसानों को अपनी फसल कहीं भी बेचने की आज़ादी दी है. जो भी किसानों को सबसे अच्छा दाम देगा वो फसल खरीद पायेगा चाहे वो मंडी में हो या मंडी के बाहर.


>

दिल्ली गुरुग्राम बॉर्डर पर किसानों के आंदोलन के मद्देनजर पैरामिलिट्री फोर्स की तैनाती की गई.

राहुल गांधी ने किसानों के मुद्दों को लेकर केंद्र सरकार पर हमला बोला


दिल्ली पुलिस के अनुसार, टिकरी और सिंधु बॉर्डर पर किसी तरह की ट्रैफिक मूवमेंट की इजाजत नहीं है. 


दिल्ली: गाज़ीपुर-गाजियाबाद (दिल्ली-यूपी) सीमा पर सुरक्षा कड़ी और बैरिकेडिंग की जा रही है जहां किसान फ़ार्म कानूनों के विरोध में एकत्र हुए हैं.


किसान Singhu सीमा (दिल्ली-हरियाणा सीमा) पर बैठे हैं. उनका केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के खिलाफ विरोध जारी है.


यूपी दिल्ली गाजीपुर बॉर्डर पर सुबह सुबह किसान उग्र. दिल्ली पुलिस द्वारा लगाई गई फर्स्ट लेयर बैरिकेडिंग को किसानों ने तोड़ा .किसानों का कहना इस बार आर-पार की लड़ाई है.

UP-दिल्ली बॉर्डर पर किसान उग्र, फर्स्ट लेयर बैरिकेडिंग को तोड़ा

First Published : 30 Nov 2020, 07:10:25 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.