News Nation Logo
Banner

अमरकंटक में पीएम मोदी, बोले- मां नर्मदा की हमने परवाह नहीं की

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मध्यप्रदेश में नर्मदा सेवा यात्रा के समापन कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे हुए हैं। प्रधानमंत्री मोदी मध्यप्रदेश के अमरकंटक में हैं। यहां नर्मदा नदी की पूजा-अर्चना के बाद प्रधानमंत्री 'नमामि देवी नर्मदे' सेवा यात्रा कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे।

News Nation Bureau | Edited By : Shivani Bansal | Updated on: 15 May 2017, 06:00:13 PM
नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मध्यप्रदेश में नर्मदा सेवा यात्रा के समापन कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे हुए हैं। प्रधानमंत्री मोदी मध्यप्रदेश के अमरकंटक में हैं। यहां नर्मदा नदी की पूजा-अर्चना के बाद प्रधानमंत्री 'नमामि देवी नर्मदे' सेवा यात्रा कार्यक्रम में हिस्सा लेने आए हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने यहां नर्मदा सेवा यात्रा समापन कार्यक्रम में शिरकत करते हुए कहा कि हमने मां नर्मदा की परवाह नहीं की है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा अब हमें अपने दायित्वों को निभाना होगा। 

उन्होंने कहा कि मां नर्मदा ने हमें हज़ारों साल बचाया है। अब आज हमें नर्मदा को बचाने की नौबत आ गई है। प्रधानमंत्री ने कहा कि नर्मदा को बचाने के लिए पेड़-पौधे लगाने होंगे। 

वहीं उन्होंने मध्यप्रदेश सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि मप्र सरकार ने बेहतरीन काम किया है। उन्होंने कहा कि देश में कई जगह पानी का नामों-निशान तक नहीं है। 

बता दें इससे पहले इस कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए प्रधानमंत्री मोदी सोमवार दोपहर जबलपुर के डुमना विमानतल पहुंचे थे जहां मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उनका स्वागत किया।

इस बीच प्रधानमंत्री के आगमन को लेकर अमरकंटक में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। इसके अलावा नर्मदा नदी के किनारों पर भी भारी सुरक्षा बल तैनात है।

नर्मदा यात्रा

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा 11 दिसंबर, 2016 को नर्मदा सेवा यात्रा शुरु की गई थी। 148 दिन में लगभग साढ़े तीन हजार किलोमीटर का रास्ता तय करके यह यात्रा वापस अमरकंटक पहुंची है। जिसका समापन सोमवार को होना है।

नीतीश ने कहा, 2019 में मैं पीएम का चेहरा नहीं, मोदी में क्षमता दिखी इसलिए PM बने

नर्मदा को प्रदूषण मुक्त बनाने के लिए निकाली गई इस यात्रा को प्रदेश, देश और विदेश से जोड़ा गया था। नेता, मंत्री, अभिनेता, सामाजिक कार्यकर्ता और कई महात्माओं ने इस यात्रा में अपना योगदान दिया है।

यह यात्रा अब तक 615 ग्राम, एक हजार से ज्यादा गांव और 50 से ज्यादा विकास खंडों से होकर गुजरी है। मुख्य यात्रा में 1862 उप यात्राएं शामिल हो चुकी हैं।

इस जन संवाद और जागरूक अभियान में तटों की सफाई, पानी को गंदा न करें, पौधा रोपण, पानी में कुछ भी विसर्जन न करें, नशा मुक्ति, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ आदि संदेश देने की कोशिश की गई।

इस अभियान को बढ़ावा देने के लिए एक मानव श्रंखला भी बनाई गई थी। 9 जनवरी को होशंगाबाद जिले में नागरिकों के समर्थन से मानव श्रंखला का विश्व रिकॉर्ड बनाया गया था। 78 स्थान पर 125 किमी तक 25 हजार लोगों की श्रंखला बनाई थी।

बता दें कि नर्मदा नदी भारतीय उप महाद्वीप की पांचवीं सबसे बड़ी नदी है।

यह भी पढ़ें: Sunny Leone Birthday: सनी लियोनी की इन हॉट फोटोज को देखकर हर कोई हो जाएगा दीवाना

IPL से जुड़ी ख़बरों को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 15 May 2017, 02:27:00 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.