News Nation Logo

लखनऊ में नरेंद्र मोदी की महारैली के पोस्टर से वाजपेयी गायब, लखनऊ से पांच बार सांसद रह चुके हैं पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी

लखनऊ की रैली में सबसे दिलचस्प बात यह है कि बीजेपी की रैली के पोस्टरों में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को जगह नहीं दी गई है।

News Nation Bureau | Edited By : Abhishek Parashar | Updated on: 02 Jan 2017, 03:14:48 PM
फाइल फोटो

highlights

  • नोटबंदी के एक महीने पूरे होने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लखनऊ में बड़ी रैली करने जा रहे हैं
  • बीजेपी की रैली के पोस्टरों में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को जगह नहीं दी गई है
  • लखनऊ से पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी पांच बार सांसद रहे हैं

New Delhi:  

नोटबंदी के एक महीने पूरे होने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लखनऊ में बड़ी रैली करने जा रहे हैं। माना जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस रैली में विधानसभा चुनाव से पहले उत्तर प्रदेश के लोगों के लिए कई बड़ी घोषणाएं कर सकते हैं।

नोटबंदी के एक महीने पूरे होने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कई होम लोन को सस्ता किए जाने के साथ ही कई बड़ी रियायतों की घोषणा की थी। हालांकि इस दौरान उन्होंने किसी राज्य विशेष को लेकर कोई बड़ी घोषणा नहीं की थी। उत्तर प्रदेश की रैली में प्रधानमंत्री उत्तर प्रदेश के लोगों के लिए कई बड़ी रियायतों का जिक्र कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: पीएम मोदी बोले, यूपी में बीजेपी का 14 साल का वनवास खत्म होगा

उत्तर प्रदेश में बीजेपी ने अन्य दलों के उलट किसी नेता को मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित किए जाने के अलावा मोदी को ही अपना चेहरा बनाया है। लखनऊ की रैली में सबसे दिलचस्प बात यह है कि बीजेपी की रैली के पोस्टरों में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को जगह नहीं दी गई है।

लखनऊ पूर्व प्रधानंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का संसदीय क्षेत्र रहा है। हालांकि अब इस सीट राजनाथ सिंह संसद पहुंचे हैं। पार्टी के पोस्टर में में पीएम मोदी और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह की तस्वीर लगी है। वहीं दूसरी तरफ उत्तर प्रदेश के बड़े नेताओं को पोस्टर में जगह दी गई है।

इसे भी पढ़ें: लखनऊ रैली में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, यूपी में बीजेपी का राजनीतिक नहीं बल्कि विकास का वनवास खत्म होगा

लखनऊ पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी का संसदीय क्षेत्र रहा था। वाजपेयी पहली बार 1991 में लखनऊ से सांसद चुने गए थे। इसके बाद वह 11वीं लोकसभा के लिए 1996 में लखनऊ से दूसरी बार सांसद बने।

तीसरी बार 1998 में वह लखनऊ से सांसद चुने गए फिर 1999 से वह 13वीं लोकसभा के लिए सांसद चुने गए। आखिरी बार वाजपेयी 14वीं लोकसभा के लिए 2004 में लखनऊ से सांसद चुने गए।

First Published : 02 Jan 2017, 01:33:00 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.