News Nation Logo

JNU हिंसा मामले पर बोले VC जगदीश कुमार, हिंसा समाधान नहीं, नई शुरुआत करें छात्र

जेएनयू (JNU) वाइस चांसलर एम जगदीश कुमार ने कहा कि यूनिवर्सिटी का माहौल फिर से सामान्य करने के लिए कदम उठा रहे हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 07 Jan 2020, 03:47:51 PM
जेएनयू वीसी एम जगदीश कुमार

जेएनयू वीसी एम जगदीश कुमार (Photo Credit: ANI)

नई दिल्ली:

जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी में हमले के बाद जो माहौल है उसे बदलने की कोशिश में यूनिवर्सिटी प्रशासन लगी हुई है. यूनिवर्सिटी का माहौल सामान्य हो उसके लिए कदम उठाए जा रहे हैं. जेएनयू (JNU) वाइस चांसलर एम जगदीश कुमार ने कहा कि यूनिवर्सिटी का माहौल फिर से सामान्य करने के लिए कदम उठा रहे हैं.

मीडिया से बातचीत में जेएनयू के वीसी ने कहा, 'रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया फिर से शुरू कर दी गई है.ठप पड़ा सर्वर सिस्टम भी फिर से चलने लगा है. छात्र अब शीतकालीन सत्र के लिए पंजीकरण कर सकते हैं. अतीत को पीछे छोड़ते हुए एक नई शुरुआत करते हैं.'

इसके साथ ही जगदीश कुमार ने कहा, '5 जनवरी रविवार को जो भी हुआ वह दुर्भाग्यपूर्ण था. हमारा कैंपस किसी भी मुद्दे को बातचीत और डिबेट के जरिए सुलझाने के लिए जाना जाता है. हम लोग स्थिति सामान्य करने के लिए हर अवसर का प्रयोग करेंगे.'

वीसी जगदीश ने छात्रों को नई शुरुआत करने की सलाह देते हुए कहा कि हिंसा में शामिल लोगों के खिलाफ एक्शन जरूर लिया जाएगा.हिंसा किसी भी चीज का समाधान नहीं हो सकती.

इसे भी पढ़ें:NRC-CAA पर बोली ममता बनर्जी, कहा- अगर कोई आपका अधिकार छीनेगा, तो उसे मेरी लाश पर से गुजरना होगा

जेएनयू पर हुए हमले पर जगदीश कुमार ने कहा कि फिलहाल क्राइम ब्रांच घटना की जांच कर रहा है और वह इसपर ज्यादा कुछ नहीं कह सकते हैं. पुलिस की हर तरह से मदद की जाएगी. सीसीटीवी फुटेज या अन्य जो भी सबूत होंगे वह उन्हें दिए जाएंगे.

और पढ़ें:दिल्ली के चुनावी अखाड़े में अपने बलबूते उतरेगी JDU, मगर डगर नहीं आसान

बता दें कि रविवार रात को जेएनयू पर नकाबपोश लड़कों ने हमला किया. जिसमें जेएनयू की अध्यक्ष आईशी घोष समेत 34 लोग जख्मी हो गए. जिनका इलाज एम्स में हुआ. वहीं पुलिस इस मामले में जांच शुरू कर दी है. फिलहाल इस मामले में कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है.

First Published : 07 Jan 2020, 03:47:51 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.