News Nation Logo
Banner

वकील विनीत ढांडा ने कहा-सोमवार को SC में न्यूज नेशन की ओर से पेश सबूतों को रखेंगे

दिशा सालियान पर न्यूज़ नेशन के सनसनीखेज खुलासे पर वकील विनीत विनीत ढांडा ने कहा कि सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में न्यूज नेशन की ओर से पेश सबूतों को रखेंगे.

Written By : Arvind Singh | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 18 Sep 2020, 08:29:57 PM
tanda

सोमवार को SC में न्यूज नेशन की ओर से पेश सबूतों को रखेंगे: विनीत ढांडा (Photo Credit: न्यूज नेशन ब्यूरो )

नई दिल्ली :

दिशा सालियान पर न्यूज़ नेशन के सनसनीखेज खुलासे पर वकील विनीत विनीत ढांडा ने कहा कि सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में न्यूज नेशन की ओर से पेश सबूतों को रखेंगे. वकील विनीत ढांडा सुप्रीम कोर्ट से अर्जी पर जल्द सुनवाई की मांग करेंगे. विनीत ढांडा वो वकील हैं जिन्होंने सीबीआई (CBI) जांच की मांग को लेकर सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दायर की है.
अब न्यूज़ नेशन के खुलासे के बाद वो सोमवार को कोर्ट के सामने मेशनिग कर जल्द सुनवाई की मांग करेंगे.

वकील विनीत ढांडा ने कहा कि न्यूज़ नेशन ने बहुत सीरियस खुलासे किया है. सोमवार को मैं कोर्ट से न्यूज़ नेशन की ओर से रखे गए सबूतों के मद्देनजर दिशा की मौत की सीबीआई जांच की मांग पर जल्द सुनवाई की मांग करूंगा. इसके साथ ही महाराष्ट्र पुलिस की तफ्तीश पर सवाल खड़े किए. उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र पुलिस ने पार्ट हिरासत में नहीं लिया.

पार्टी में मौजूद लोगो की पहचानकर उनसे पूछताछ नहीं की गई. पुलिस ने सबको भगा दिया पोस्टमार्टम भी दो दिन बाद हुआ. नियमों के मुताबिक पोस्टमार्टम की वीडियोग्राफी भी नहीं की गई. पुलिस ने केस को खत्म कर ही दिया.

इसे भी पढ़ें: शोपियां मुठभेड़ में जवानों ने किया नियमों का उल्लंघन, सेना ने दिए कार्रवाई के आदेश

उन्होंने कहा कि मुंबई पुलिस जनता से सबूत मांग रही है. अगर उन लोगों से मिले सबूतों पर भी काम करना है. तो फिर उनका होने का औचित्य नहीं है.

महाराष्ट्र पुलिस किसी पावरफुल शख्स को ही बचा रही है. वरना ऐसा लचर रवैया नहीं होता. इस मामले में कोई बड़ा राजनीतिक कद का व्यक्ति भी शामिल हो सकता है, जिसे बचाने की कोशिश पुलिस कर रही है.

और पढ़ें:चश्मदीद ने किया खुलासा, दिशा के साथ जब रेप हो रहा था तो उसका मंगेतर चुपचाप कमरे में बैठा था

वकील विनीत ढांडा ने कहा कि न्यूज़ नेशन के आभारी है, आपने पुलिस की ओर से ख़त्म कर दिये गए इंसाफ दिलाने का काम किया है. पार्टी में मौजूद लोगों का पुलिस या मीडिया कैमरों से बचाना नहीं चाहिए. अगर वो बच रहे है, तो इसका मतलब वो ख़ुद भी शामिल है.

First Published : 18 Sep 2020, 08:29:57 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो