News Nation Logo
Banner

8 प्‍वाइंट में जानें प्‍लाज्‍मा थेरेपी (Plazma Therepy) से कैसे हारेगा कोरोना वायरस

डॉक्‍टर एसके सरीन ने बताया, प्‍लाज्‍मा थेरेपी के काफी फायदे हैं, इस थेरेपी से हम कोरोना से लड़ाई में बढ़त बना सकते हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Sunil Mishra | Updated on: 24 Apr 2020, 02:32:44 PM
Plazma Therepy

10 प्‍वाइंट में जानें प्‍लाज्‍मा थेरेपी से कैसे हारेगा कोरोना वायरस (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) और डॉक्टर एसके सरीन ने आज प्‍लाज्‍मा थेरेपी से कोरोना वायरस के इलाज में मिली प्रारंभिक सफलता को लेकर पत्रकारों को ब्रीफ किया. इस दौरान जानकारी दी गई कि प्रारंभिक सफलता को देखते हुए दिल्‍ली सरकार ने कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों का इलाज प्‍लाज्‍मा थेरेपी से करने का फैसला किया है. बताया गया कि दिल्ली में प्लाज्मा थैरेपी (Plazma Therepy) से इलाज के बेहतर नतीजे सामने आए हैं. डॉक्‍टर एसके सरीन ने बताया, प्‍लाज्‍मा थेरेपी के काफी फायदे हैं, इस थेरेपी से हम कोरोना से लड़ाई में बढ़त बना सकते हैं. हालांकि इसमें कई दिक्‍कतें भी हैं. उन्‍होंने कहा, इसके लिए कोरोना वायरस की लड़ाई जीत चुके मरीजों को आगे आकर ब्‍लड डोनेट करना होगा, तभी हमें एंटीबॉडीज वाले ब्‍लड मिलेंगे. यह हमारी जिम्‍मेदारी है कि डोनर को कोई नुकसान न हो. डोनर की सुरक्षा अधिक जरूरी है.

  1. प्लाज़मा थेरेपी में ठीक होकर घर चले गए पेशेंट के शरीर में जो एंटी बॉडी बनता है, उसका उपयोग कोरोना वायरस के इलाज में किया जा सकता है. LNJP में उसका ट्रायल किया गया.
  2. वायरस के तीन फेज होते हैं. पहला फेज वायरस फेज होता है, जिसमें हम वायरस से प्रारंभिक तौर पर इफेक्‍टेड होते हैं.
  3. दूसरा फेज प्‍लीमिनरी फेज होता है, जिसमें वायरस से पैदा हुईं समस्‍या सामने आने लगती है.
  4. साइटोकाइन फेज अंतिम फेज होता है, जिसमें लंग्‍स और ऑर्गन फेलियर होने जैसी दिक्‍कतें सामने आती हैं.
  5. कोरोना से रिकवर होने के बाद मरीज अपना प्लाज्मा डोनेट करें. प्लाज्मा 10 दिन में फिर से डोनेट किया जा सकता है.
  6. डोनर को नुकसान नहीं होगी, यह हमारी जिम्‍मेदारी है. प्लाज़मा डोनेट करने के लिए कोरोना से रिकवर हो चुके लोगों से हम मदद की अपील कर रहे हैं.
  7. मंगलवार को वेंटिलेटर पर पहुंचे 4 मरीजों में में से 2 को प्‍लाज्‍मा दिया गया था, अब वे घर जाने की स्थिति में हैं. आज भी 2-3 मरीजों को प्‍लाज्‍मा दिया जाएगा.
  8. अभी तक हमें लिमिटेड पेशेंट की permision मिली थी. अगले सप्‍ताह हम केंद्र सरकार को रिपोर्ट सौंपेंगे. इसके प्रारंभिक नतीजे बहुत उत्‍साह जगाने वाले हैं.

First Published : 24 Apr 2020, 01:02:35 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.