News Nation Logo
उत्तर प्रदेश : आज तीन बड़े मामले ज्ञानवापी, श्रीकृष्ण जन्मभूमि मथुरा और ताजमहल पर सुनवाई प्रधानमंत्री आवास पर कैबिनेट और CCEA की बैठक, कुछ MoU समेत अहम मुद्दों पर हो सकता है फैसला कपिल सिब्बल सपा कार्यालय में अखिलेश यादव के साथ मौजूद, बनेंगे राज्यसभा उम्मीदवार राज्यसभा के लिए कपिल सिब्बल, डिंपल यादव और जावेद अली होंगे समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार- सूत्र पंजाब : ग्रुप सी और डी के पदों के लिए पंजाबी योग्यता टेस्ट कंपलसरी, भगवंत मान सरकार का फैसला मथुरा : जिला अदालत में श्रीकृष्ण जन्मभूमि मामले में 31 मई को होगी अगली सुनवाई मुंबई : मोटरसाइकिल पर दोनों सवारों को हेलमेट पहनना अनिवार्य होगा, 15 दिनों में नियम पर अमल यासीन मलिक की सजा पर बहस पूरी- ऑर्डर रिजर्व, दोपहर बाद विशेष NIA कोर्ट सुनाएगी सजा ज्ञानवापी हिंदुओं को सौंपने-पूजा की मांग वाला नया मामला सिविल जज फास्ट ट्रैक कोर्ट में स्थानांतरित अयोध्या : 1 जून को श्रीराम जन्मभूमि मंदिर के गर्भगृह का शिला पूजन होगा, सीएम योगी होंगे शामिल उत्तराखंड : मौसम सामान्य होने के बाद आज दोबारा सुचारू रूप से शुरू हुई चारधाम यात्रा औरंगजेब की कब्र के बाद अब सतारा में मौजूद अफजल खान के कब्र पर बढ़ाई गई सुरक्षा
Banner

केएमसी चुनाव : 7 तृणमूल पार्षदों को 90 फीसदी से ज्यादा वोट मिले

केएमसी चुनाव : 7 तृणमूल पार्षदों को 90 फीसदी से ज्यादा वोट मिले

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 22 Dec 2021, 09:10:01 PM
KMC election

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

कोलकाता:   पश्चिम बंगाल राज्य चुनाव आयोग के पास उपलब्ध आंकड़ों से पता चलता है कि कोलकाता नगर निगम (केएमसी) चुनाव में तृणमूल कांग्रेस को न केवल 70 फीसदी वोट मिले और 134 सीटें मिलीं, बल्कि सत्ताधारी दल के सात पार्षदों ने 90 फीसदी वोट पाकर एक रिकॉर्ड बनाया।

उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक, तृणमूल कांग्रेस के सात पार्षदों को मिले मतों का 90 फीसदी और 24 उम्मीदवारों को 80 फीसदी से अधिक मत मिले।

राज्य चुनाव आयोग के आंकड़ों के मुताबिक, गार्डन रीच इलाके के वार्ड 134 के शम्स इकबाल को 98.28 फीसदी वोट मिले हैं, जो सभी पार्षदों में सबसे ज्यादा है। इकबाल को जहां 24,708 वोट मिले, वहीं उनके निकटतम प्रतिद्वंद्वी निर्दलीय उम्मीदवार कैसर अहमद को केवल 418 वोट ही मिले।

इसके अलावा, तृणमूल कांग्रेस के कम से कम सात पार्षद ऐसे हैं जो 90 प्रतिशत से अधिक वोट हासिल करने में सफल रहे। वार्डवार नतीजे बताते हैं कि मंजूर इकबाल को सेंट्रल कोलकाता के वार्ड नंबर 71 में 91.83 फीसदी वोट मिले।

वार्ड संख्या 57 में जीवन साहा को 90.60 प्रतिशत और वार्ड संख्या 54 में अमीरुद्दीन को 91.8 प्रतिशत मत मिले। तृणमूल के अन्य उम्मीदवारों- सुनंदा सरकार, शांति रंजन कुंडू और आलोकानंद दास को भी 90 प्रतिशत से अधिक मत मिले।

इसके अलावा कम से कम 24 उम्मीदवार ऐसे हैं, जो केएमसी चुनाव में इतिहास रचते हुए 80 फीसदी से ज्यादा वोट हासिल करने में सफल रहे हैं।

पार्टी ने पहले ही न केवल 134 सीटें जीतकर, बल्कि 72 प्रतिशत से अधिक वोट शेयर अपने पक्ष में लाकर एक रिकॉर्ड बनाया है।

राज्य चुनाव आयोग के पास उपलब्ध आंकड़ों से पता चलता है कि सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस का वोट शेयर 72.1 फीसदी है, जबकि विपक्षी वाम मोर्चा दहाई के आंकड़े तक भी नहीं पहुंच सका।

इस चुनाव में भाजपा ने 9.2 प्रतिशत मत हासिल किए, जबकि कांग्रेस मात्र 4.1 प्रतिशत वोट पाकर राजनीतिक रूप से महत्वहीन हो गई। दिलचस्प बात यह है कि वाम मोर्चा 11.9 प्रतिशत वोट शेयर के साथ दूसरे स्थान पर रहा।

एसईसी के एक अधिकारी ने कहा कि नियम है कि न्यूनतम 10 प्रतिशत वोट शेयर और न्यूनतम 14 सीटें जीतने वाली पार्टी को विपक्ष के रूप में मान्यता दी जाएगी, लेकिन मौजूदा स्थिति में, कोई विपक्षी पार्टी यह दर्जा पाने की हैसियत में नहीं है।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 22 Dec 2021, 09:10:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.