News Nation Logo

बांग्लादेश में 2 समलैंगिक कार्यकर्ताओं के हत्यारों को मौत की सजा

बांग्लादेश में 2 समलैंगिक कार्यकर्ताओं के हत्यारों को मौत की सजा

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 01 Sep 2021, 02:15:01 PM
Killer of

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

ढाका: बांग्लादेश में दो समलैंगिक अधिकार कार्यकर्ताओं की निर्मम हत्याओं के पांच साल बाद मंगलवार को एक स्थानीय अदालत ने छह दोषियों को, जो प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन अंसार अल-इस्लाम के सभी सदस्य हैं, मौत की सजा सुनाई है।

25 अप्रैल, 2016 को, एलजीबीटीक्यू प्लस समुदाय के लिए देश की पहली पत्रिका रूपबान के संपादक जुल्हाज मन्नान और उनके सहयोगी और समूह थिएटर कलाकार महबूब रब्बी टोनॉय की ढाका के कलाबागान इलाके में उनके अपार्टमेंट के अंदर हत्या कर दी गई थी।

आतंकवाद निरोधी विशेष न्यायाधिकरण के न्यायाधीश मोजीबुर्रहमान ने मंगलवार दोपहर चार दोषियों की उपस्थिति में यह आदेश पारित किया।

अदालत ने कहा कि मन्नान और तनॉय पर हमला धर्मनिरपेक्ष कार्यकर्ताओं और धार्मिक अल्पसंख्यकों पर आतंकवादियों द्वारा किए गए हमलों की एक पूर्वनियोजित श्रृंखला का हिस्सा था।

जांच में पाया गया कि मन्नान और टोनॉय की हत्याओं के लिए इस्लामी आतंकवादी जिम्मेदार थे।

दोषी ठहराए गए लोगों में सैयद जियाउल हक, एक बर्खास्त सेना प्रमुख, जिसे मास्टरमाइंड माना जाता है। अकरम हुसैन, मोजम्मेल हुसैन उर्फ सैमोन, मोहम्मद अराफात रहमान, मोहम्मद शेख अब्दुल्ला और असदुल्ला उर्फ फकरुल उर्फ फैसल शामिल हैं।

अदालत ने सब्बीरुल हक चौधरी और जुनैद अहमद उर्फ मौलाना जुनैद को यह कहते हुए बरी कर दिया कि उनके खिलाफ आरोप साबित नहीं हो सके।

दो दोषियों - जिया और अकरम - अभी भी फरार हैं और उनकी अनुपस्थिति में मुकदमा चलाया गया था।

अभियोजन पक्ष और बचाव पक्ष की दलीलें पूरी होने के बाद न्यायाधीश ने 23 अगस्त को फैसला सुनाने की तारीख तय की थी।

ट्रिब्यूनल ने अभियोजन पक्ष के 24 गवाहों के बयान दर्ज किए थे।

28 जुलाई, 2019 को ढाका मेट्रोपॉलिटन पुलिस की काउंटर टेररिज्म एंड ट्रांसनेशनल क्राइम यूनिट ने आठ आतंकवादियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की थी।

35 वर्षीय मन्नान 2007 में यूएस एंबेसी में शामिल हुए थे। उन्होंने एलजीबीटीक्यू प्लस समुदाय के लिए बांग्लादेश की पहली पत्रिका रूपबान का भी संपादन किया था।

26 वर्षीय टोनी लोक नाट्यदल थिएटर ग्रुप से जुड़े थे। उन्होंने पीपुल्स थिएटर नामक संस्था में बच्चों को नाटक सिखाया।

मन्नान के भाई मिन्हाज मन्नान ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया था।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 01 Sep 2021, 02:15:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.