News Nation Logo

कैलाश विजयवर्गीय का बूझो तो जानें, एक बच्‍चा कोरोना वायरस के चलते अपनी नानी के घर नहीं जा पाया?

कैलाश विजयवर्गीय ने ट्वीट किया कि बूझो तो जानें, कोरोना के डर से एक बालक छुट्टियां मनाने अपनी नानी के घर न जा सका! कैलाश विजयवर्गीय ने इस ट्वीट के जरिए कांग्रेस पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधा है.

News State | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 18 Mar 2020, 12:57:39 PM
Kailash Vijayvargiya

कैलाश विजयवर्गीय (Photo Credit: फाइल फोटो)

भोपाल:

कोरोना वायरस पूरे विश्व में हाहाकार मचा दिया है. सात हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 1.84 लाख लोग अभी भी इस बीमारी से संक्रमित बताए जा रहे हैं. चीन के बाद अब इटली में कोरोना से सबसे अधिक मामले सामने आ रहे हैं. इटली में दो हजार से अधिक लोगों की कोरोना वायरस के कारण मौत हो चुकी है जबकि करीब 28 हजार लोग अभी भी इस वायरस से संक्रमित हैं. वहीं बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने ट्वीट पर बिना नाम लिए राहुल गांधी पर निशाना साधा है.

यह भी पढ़ेंः कैलाश विजयवर्गीय ने दिग्विजय सिंह की अमिताभ बच्चन से क्यों की तुलना, जानें यहां

कैलाश विजयवर्गीय ने ट्वीट किया कि बूझो तो जानें, कोरोना के डर से एक बालक छुट्टियां मनाने अपनी नानी के घर न जा सका! कैलाश विजयवर्गीय ने इस ट्वीट के जरिए कांग्रेस पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधा है. दरअसल सोनिया गांधी इटली की रहने वाली हैं. इसी को लेकर बीजेपी अक्सर राहुल गांधी के इटली दौरे को लेकर राहुल गांधी पर निशाना साधती रहती हैं.

यह भी पढ़ेंः विधायकों से गुप्त रूप से नहीं खुलेआम मिलने आया हूं, हिरासत में लिए गए दिग्विजय सिंह बोले

इससे पहले कैलाश विजयवर्गीय ने एक और ट्वीट पर मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह पर निशाना साधा है. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि अगर दिग्विजय सिंह बॉलीवुड में होते तो अमिताभ बच्चन को भी मात दे देते. दरअसल दिग्विजय सिंह बुधवार को बेंगलुरु में कांग्रेस के बागी विधायकों से मिलने पहुंचे थे. जब उन्हें विधायकों से नहीं मिलने दिया गया तो वह होटल के बाहर धरने पर बैठ गए. इसके बाद उन्हें थाने ले जाया गया तो वह थाने के बाहर भी धरने पर बैठ गए.

First Published : 18 Mar 2020, 12:06:21 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.