News Nation Logo
अनन्या पांडे से सोमवार को फिर पूछताछ करेगी NCB अभिनेत्री अनन्या पांडे एनसीबी कार्यालय से रवाना हुईं, करीब 4 घंटे चली पूछताछ DRDO ने ओडिशा के चांदीपुर रेंज से हाई-स्पीड एक्सपेंडेबल एरियल टारगेट (HEAT) का सफल परीक्षण किया कल जम्मू-कश्मीर जाएंगे गृहमंत्री अमित शाह दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की बैठक 27 अक्टूबर को, छठ पूजा उत्सव के लिए ली जाएगी अनुमति 1971 के भारत-पाक युद्ध ने दक्षिण एशियाई उपमहाद्वीप के भूगोल को बदल दिया: सीडीएस जनरल बिपिन रावत माता वैष्णों देवी मंदिर में तीर्थयात्रियों के बीच कोरोना का प्रसार रोकने के लिए नए दिशा-निर्देश जारी दिल्ली जा रही फ्लाइट में एक आदमी की अचानक तबीयत ख़राब होने पर फ्लाइट की इंदौर में इमरजेंसी लैंडिंग 1971 का युद्ध, इसमें भारतीयों की जीत और युद्ध का आधार बेहद खास है: राजनाथ सिंह केंद्र सरकार की टीम उत्तराखंड में आपदा से हुई क्षति का आकलन कर रही है: पुष्कर सिंह धामी रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने आज बेंगलुरु में वैमानिकी विकास प्रतिष्ठान का दौरा किया शिवराज सिंह चौहान ने शोपियां मुठभेड़ में शहीद जवान कर्णवीर सिंह को सतना में श्रद्धांजलि दी मुंबई के लालबाग इलाके में 60 मंजिला इमारत में लगी भीषण आग उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव: कल शाम छह बजे सोनिया गांधी के आवास पर कांग्रेस सीईसी की बैठक

JNUSU अध्यक्ष आइशी घोष ने हत्या के प्रयास की शिकायत दर्ज कराई

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) छात्रसंघ की अध्यक्ष आइशी घोष ने बुधवार को हत्या के प्रयास और उन्हें अवैध रूप से बंधक बनाए रखने का आरोप लगाते हुए एक शिकायत पुलिस में दर्ज कराई है.

News Nation Bureau | Edited By : Vineeta Mandal | Updated on: 08 Jan 2020, 01:03:28 PM
Aishe Ghosh

Aishe Ghosh (Photo Credit: (फाइल फोटो))

नई दिल्ली:

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) छात्रसंघ की अध्यक्ष आइशी घोष ने बुधवार को हत्या के प्रयास और उन्हें अवैध रूप से बंधक बनाए रखने का आरोप लगाते हुए एक शिकायत पुलिस में दर्ज कराई है. वहीं बता दें कि मंगलवार कोआइशी घोष के खिलाफ दिल्ली पुलिस ने जेएनयू प्रशासन की शिकायत पर केस दर्ज कराया है. ये शिकाय सुरक्षाकर्मियों पर हमला करने, सर्वर रूम को तबाह (4 जनवरी का मामला) करने को लेकर की गई है.

ये एफआईआर जेएनयू प्रशासन की शिकायत के बाद 5 जनवरी को दर्ज की गई थी. जिसके बाद जेएनयू प्रशासन द्वारा करवाई गई एफआईआर के खिलाफ मंगलवार शाम जेएनयू के पूर्व छात्र भी अपना विरोध दर्ज कराने विश्वविद्यालय पहुंचे.

ये भी पढ़ें: हिंसा से आहत होकर JNU के प्रोफेसर ने सरकार के पैनल को अलविदा कहा

वहीं बता दें कि रविवार को कुछ नकाबपोशों ने जेएनयू परिसर में घुसकर छात्रों और प्रोफेसरों की लाठी-डंडो व रॉड से पिटाई कर दी थी. लोहे की रॉड से किए गए हमले में आइशी का सिर फूट गया, लहूलुहान आइशी की तस्वीर कई चैनलों और अखबारों में देखी गई थी.  घोष ने इस घटना के लिए एबीवीपी को जिम्मेदार ठहराया था. गौरतलब है कि हमले के दौरान हॉस्टल के कमरे और लॉबियों में तोड़फोड़ की गई, जबकि सड़कों पर खड़े कई वाहनों को अज्ञात उपद्रवियों ने क्षतिग्रस्त कर दिया था.

First Published : 08 Jan 2020, 12:56:21 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो