News Nation Logo

हिंसा से आहत होकर JNU के प्रोफेसर ने सरकार के पैनल को अलविदा कहा

JNU Violence: मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक चंद्रशेखर का कहना है कि जेएनयू के मौजूदा हालात को देखते हुए कल की बैठक में शामिल होने में असमर्थ हूं. साथ ही हाल की स्थितियों को देखते हुए देश की मौजूदा सांख्यिकीय प्रणाली भी विश्वास कायम नहीं कर पाएगी.

News Nation Bureau | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 07 Jan 2020, 04:22:53 PM
सी पी चंद्रशेखर (C P Chandrasekhar)

सी पी चंद्रशेखर (C P Chandrasekhar) (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

JNU Violence: जेएनयू में हिंसा से आहत होकर प्रोफेसर सी पी चंद्रशेखर (C P Chandrasekhar) ने केंद्र सरकार के आर्थिक आंकड़ों की समीक्षा करने वाले सरकारी पैनल को अलविदा कह दिया है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जेएनयू के सेंटर ऑफर इकोनॉमिक स्टडीज एंड प्लानिंग (Centre For Economic Studies And Planning) के प्रोफेसर सी पी चंद्रशेखर ने कहा कि विश्वविद्यालय के मौजूदा हालात को लेकर वह काफी चिंतित हैं.

यह भी पढ़ें: Gold Silver Technical Analysis: इंट्राडे में सोना-चांदी में आ सकती है तेजी

JNU, जामिया और अलीगढ़ हिंसा से आहत
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक चंद्रशेखर का कहना है कि जेएनयू के मौजूदा हालात को देखते हुए कल की बैठक में शामिल होने में असमर्थ हूं. साथ ही हाल की स्थितियों को देखते हुए देश की मौजूदा सांख्यिकीय प्रणाली भी विश्वास कायम नहीं कर पाएगी. उन्होंने कहा कि वे जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय, जामिया और अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में हुई हिंसा से काफी आहत हैं. उनका कहना है कि देश में मौजूदा माहौल में एक पारदर्शी और ठोस सांख्यिकी व्यवस्था तैयार करना मुश्किल है. उन्होंने कहा कि CAA और NPR के मुद्दे पर काफी चिंतित है.

यह भी पढ़ें: 2020 में किस भाव पर बिकेंगे सोना-चांदी, जानिए बड़े ब्रोकरेज हाउसेज का अनुमान

वहीं दूसरी ओर जेएनयू (JNU) के वाइस चांसलर एम जगदीश कुमार ने कहा कि यूनिवर्सिटी का माहौल फिर से सामान्य करने के लिए कदम उठा रहे हैं. मीडिया से बातचीत में जेएनयू के वीसी ने कहा, 'रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया फिर से शुरू कर दी गई है.ठप पड़ा सर्वर सिस्टम भी फिर से चलने लगा है. छात्र अब शीतकालीन सत्र के लिए पंजीकरण कर सकते हैं. अतीत को पीछे छोड़ते हुए एक नई शुरुआत करते हैं.' इसके साथ ही जगदीश कुमार ने कहा, '5 जनवरी रविवार को जो भी हुआ वह दुर्भाग्यपूर्ण था. हमारा कैंपस किसी भी मुद्दे को बातचीत और डिबेट के जरिए सुलझाने के लिए जाना जाता है. हम लोग स्थिति सामान्य करने के लिए हर अवसर का प्रयोग करेंगे.'

First Published : 07 Jan 2020, 04:10:36 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.