News Nation Logo

जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल ने 7 बिजली बुनियादी ढांचा परियोजनाओं का किया उद्घाटन

जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल ने 7 बिजली बुनियादी ढांचा परियोजनाओं का किया उद्घाटन

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 23 Jul 2021, 04:05:02 PM
J&K LG

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने शुक्रवार को 10.11 करोड़ रुपये की सात बिजली बुनियादी ढांचा परियोजनाओं का उद्घाटन किया, जिसमें कश्मीर डिवीजन में एक नया रिसीविंग स्टेशन और बिजली वृद्धि शामिल है।

इस अवसर पर बोलते हुए, उन्होंने कहा कि जम्मू एवं कश्मीर में पिछले एक साल में बिजली पारेषण और वितरण क्षेत्र में बदलाव से विश्वसनीय, गुणवत्ता और टिकाऊ बिजली आपूर्ति प्राप्त करने में मदद मिली है।

नई परियोजनाएं पुलवामा, बांदीपोरा, गांदरबल और बडगाम के चार जिलों को लक्षित करती हैं और इससे 30,400 परिवारों को लाभ होगा।

सुस्त परियोजना के तहत पुलवामा में नए रिसीविंग स्टेशन के निर्माण से 3,350 घरों को विश्वसनीय बिजली आपूर्ति मिलेगी।

सिन्हा ने कहा, जम्मू एवं कश्मीर में बिजली के बुनियादी ढांचे को मजबूत करने के लिए पिछले तीन दशकों में शायद ही कोई काम किया गया हो। हमें बिजली उत्पादन, पारेषण और वितरण क्षेत्रों के सामने आने वाली समस्याओं का ढेर विरासत में मिला है। लेकिन, हम समस्याओं के समयबद्ध समाधान के लिए प्रतिबद्ध हैं।

उन्होंने कहा, बिजली के बुनियादी ढांचे को बदलने के लिए 5,000 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं और मुझे यकीन है कि व्यावहारिक ²ष्टिकोण के साथ हम इस क्षेत्र की चुनौतियों को कम करने में सक्षम होंगे।

बांदीपोरा में तीन रिसीविंग स्टेशनों को लोगों के लाभ के लिए पर्याप्त एमवीए क्षमता के साथ जोड़ा गया है।

अतिरिक्त 3.7 एमवीए क्षमता के साथ शादीपोरा, बांदीपोरा में मौजूदा रिसीविंग स्टेशन के विस्तार से 5,000 परिवारों को लाभ होगा।

इसी तरह, अजस में 2.3 एमवीए क्षमता के जुड़ने से 2,900 परिवारों को लाभ होगा और 7.4 एमवीए की अतिरिक्त क्षमता वृद्धि के साथ मारकुंडल से जिलों के 5,700 परिवारों को लाभ होगा।

बांदीपोरा में क्षमता वृद्धि से कुल मिलाकर 13,600 परिवारों को लाभ होगा।

उपराज्यपाल ने कहा, सरकार को बिजली क्षेत्र में भारी नुकसान हो रहा है, क्योंकि लोग अपने बिलों का भुगतान नहीं कर रहे हैं। कोई भी सरकार विश्वसनीय बिजली प्रदान नहीं कर सकती, जब तक कि नागरिक भुगतान करने का फैसला नहीं करते हैं। लोगों से बिजली बिलों का भुगतान करने की मेरी विनम्र अपील है। यह केंद्र शासित प्रदेश के हित में है।

उन्होंने बिजली विभाग के पदाधिकारियों को राजस्व रिकवरी बढ़ाने के उद्देश्य से पहल की योजना और क्रियान्वयन में जनमत को शामिल करने की सलाह दी।

पिछली बैठकों में पारित निदेशरें को दोहराते हुए सिन्हा ने बिजली विभाग को ट्रांसफार्मरों के लिए विशिष्ट पहचान संख्या पर काम प्राथमिकता के आधार पर पूरा करने के निर्देश दिए।

कश्मीर पावर डिस्ट्रीब्यूशन कॉपोर्रेशन लिमिटेड (केपीडीसीएल) द्वारा सात नई बिजली बुनियादी ढांचा परियोजनाओं को सुस्त और पीएमडीपी-ग्रामीण योजनाओं के तहत निष्पादित किया गया है।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 23 Jul 2021, 04:05:02 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.