News Nation Logo
Banner

झारखंड: जेपीएससी सिविल सर्विस मुख्य परीक्षा का कार्यक्रम जारी, प्रारंभिक परीक्षा पर आयोग ने तमाम आपत्तियां खारिज कीं

झारखंड: जेपीएससी सिविल सर्विस मुख्य परीक्षा का कार्यक्रम जारी, प्रारंभिक परीक्षा पर आयोग ने तमाम आपत्तियां खारिज कीं

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 03 Dec 2021, 05:40:01 PM
Jharkhand JPSC

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

रांची:   झारखंड लोक सेवा आयोग (जेपीएससी) ने सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा के रिजल्ट पर उठी सभी तरह की आपत्तियों को खारिज करने के बाद अब मुख्य परीक्षा के लिए कार्यक्रम जारी कर दिया है। आगामी 28 से 30 दिसंबर तक यह परीक्षा राज्य के 14 परीक्षा केंद्रों पर ली जायेगी।

जेपीएससी के सचिव ने परीक्षा केंद्रों से संबंधित जिलों के उपायुक्तों को पत्र लिखकर केंद्रों पर आवश्यक इंतजाम करने को कहा है। मुख्य परीक्षा दो पालियों में ली जायेगी, जिसमें प्रारंभिक परीक्षा में उत्तीर्ण घोषित किये गये कुल 4293 उम्मीदवार शामिल होंगे। बता दें कि झारखंड लोकसेवा आयोग की ओर से सातवीं से दसवीं सिविल सेवा के लिए संयुक्त रूप से प्रारंभिक परीक्षा विगत 19 सितंबर को ली गयी थी। प्रारंभिक परीक्षा का परिणाम 42 दिन के बाद जारी हुआ। इसमें अनारक्षित श्रेणी से 1897, एसटी श्रेणी से 1057, एससी श्रेणी से 389, पिछड़ा वर्ग से 244, अत्यंत पिछड़ा वर्ग से 401 और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग से 305 उम्मीदवार सफल घोषित किये गये हैं।

बता दें कि प्रारंभिक परीक्षा का रिजल्ट जारी होते ही इसमें अनियमितता के गंभीर आरोप लगे। उत्तीर्ण घोषित किये गये परीक्षार्थियों में तकरीबन तीन दर्जन ऐसे हैं, जिनके रोल नंबर लगातार सिरीज में हैं। आरोप यह भी है कि कुछ ऐसे विद्यार्थी भी उत्तीर्ण कर दिये गये, जिनके नंबर निर्धारित कट ऑफ से कम हैं। रिजल्ट को लेकर रांची में परीक्षार्थियों ने दो बार प्रदर्शन भी किया था। आयोग के कार्यालय पहुंचने पर आमादा प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने लाठी चार्ज किया था। इसके बाद प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दीपक प्रकाश तथा भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी की अगुवाई में एक प्रतिनिधिमंडल ने राजभवन पहुंचकर उन्हें ज्ञापन सौंपकर हस्तक्षेप की अपील की थी। राज्यपाल ने इस मुद्दे पर जेपीएससी चेयरमैन को राजभवन तलब कर उनसे स्थिति स्पष्ट करने को कहा था। इसके बाद जेपीएससी ने वेबसाइट पर परीक्षार्थियों द्वारा उठायी गयी आपत्तियों का बिंदुवार जवाब दिया और दावा किया कि परीक्षा के परिणाम में कोई गड़बड़ी नहीं हुई है। अब मुख्य परीक्षा का कार्यक्रम जारी कर दिया गया है।

इधर परीक्षार्थियों का एक समूह प्रारंभिक परीक्षा को रद्द करने की मांग को लेकर रांची के मोरहाबादी मैदान में पिछले 15 दिनों से लगातार धरने पर है। भारतीय जनता पार्टी भी आंदोलित परीक्षार्थियों की मांगों का समर्थन कर रही है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने पीटी परीक्षा से जुड़ी विसंगतियों को गंभीर बताते हुए कहा है कि जेपीएससी के कारनामों से पूरे देश में झारखंड शर्मसार हुआ है।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 03 Dec 2021, 05:40:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.