News Nation Logo

आतंकवादियों के खिलाफ जम्मू-कश्मीर पुलिस ने बनाया 'मास्टर प्लान', DGP दिलबाग सिंह ने खोला राज

जम्मू-कश्मीर पुलिस के महानिदेशक दिलबाग सिंह ने कहा कि यहां की पुलिस आतंकवादियों पर निरंतर दबाव बना कर उन्हें अलग-थलग करने का प्रयास कर रही है ताकि वे आम लोगों को बहका न सकें.

By : Nitu Pandey | Updated on: 18 Aug 2019, 10:37:40 PM
जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटाने के बाद से घाटी में हालात सामान्य बनाने के लिए केंद्र सरकार पूरी कोशिश कर रही है. जम्मू-कश्मीर पुलिस के महानिदेशक दिलबाग सिंह ने कहा कि यहां की पुलिस आतंकवादियों पर निरंतर दबाव बना कर उन्हें अलग-थलग करने का प्रयास कर रही है ताकि वे आम लोगों को बहका न सकें. मीडिया से बातचीत में दिलबाग सिंह ने कानून-व्यवस्था बनाए रखने में राज्य के लोगों के सहयोग के लिए उनका धन्यवाद किया. उन्होंने कहा, 'पुलिस, अर्द्धसैनिकबलों और सेना को सम्मिलित कर बनाई गई सुरक्षा टीमों ने शानदार काम किया है, लेकिन हमें राज्य के लोगों की तरफ से दिए गए सहयोग को भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए.'

जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को 5 अगस्त को केंद्र की ओर से निरस्त किए जाने के बाद राज्य में सुरक्षाबलों की मौजूदगी बढ़ा दी गई थी और कड़ी पाबंदिया लगाई गईं.

इसे भी पढ़ें:अयोध्या मामले में मिल सकती है बड़ी खुशखबरी! पत्थर तराशने के काम में आई तेजी

1987 बैच के आईपीएस अधिकारी सिंह ने राज्य में किए गए संवैधानिक परिवर्तनों पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया लेकिन कहा, 'मेरा मानना है कि राज्य में सकारात्मक विकास के युग की शुरुआत हो रही है. और लोगों को इसके बारे में अच्छी चीजों को समझना चाहिए.'

उन्होंने कहा कि पुलिस बल के प्रमुख के तौर पर यह सुनिश्चित करना उनका कर्तव्य है कि कुछ गिने-चुने आतंकवादी जो मुख्यतया पाकिस्तान से हैं, उन्हें जम्मू -कश्मीर के आम लोगों को बहकाने न दिया जाए.

और भी पढ़ें:पाकिस्तानी महिला ने इमरान खान को दिखाया आईना, कहा- भारत से लड़ने की औकात नहीं

दिलबाग सिंह ने कहा, 'हमारी आतंकवाद रोधी इकाई इन आतंकवादियों को दूर रखने का दबाव बनाए हुए है और निश्चित तौर पर हम ऐसा कर पाएंगे.'

First Published : 18 Aug 2019, 10:37:40 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.