News Nation Logo
Banner

IIM अहमदाबाद तक पहुंची जामिया प्रोटेस्ट की चिंगारी, प्रदर्शनकारी हिरासत में लिए गए

IIM अहमदाबाद तक पहुंची जामिया प्रोटेस्ट की चिंगारी, प्रदर्शनकारी हिरासत में लिए गए

न्‍यूज स्‍टेट ब्‍यूरो | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 16 Dec 2019, 09:01:51 PM
जामिया मिल्लिया इस्लामिया में प्रोटेस्ट करते छात्र

नई दिल्‍ली:  

देश भर में नागरिकता संशोधन बिल के खिलाफ बवाल मचा हुआ है यह चिंगारी नॉर्थ ईस्ट से शुरू हुई और पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र, बिहार उत्तर प्रदेश और दिल्ली से होते हुए गुजरात के अहमदाबाद तक जा पहु्ंची है. अहमदाबाद के आईआईएम के बाहर छात्रों ने नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया. कुछ प्रदर्शनकारी छात्रों को पुलिस ने हिरासत में लिया हालांकि अभी तक यहां पर किसी भी तरह की कोई हिंसक वारदात की खबर नहीं मिली है. 

जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी और अलीगढ़ यूनिवर्सिटी के छात्रों के हिंसक प्रदर्शन मामले पर दाखिल तीन याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट मंगलवार को सुनवाई करेगा. मुख्य न्यायाधीश की अगुवाई वाली पीठ इस मामले की सुनवाई करेगी. बता दें कि नागरिकता संशोधन एक्ट को लेकर जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी और अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के विद्यार्थियों ने विरोध प्रदर्शन किया.

यह भी पढ़ें-कुलदीप सिंह सेंगर मामले में कानून ने अपना काम किया : स्मृति ईरानी

आपको बता दें कि इसके पहले यह विरोध प्रदर्शन रविवार को हिंसक हो गया. दिल्ली में प्रदर्शनकारियों ने कई बसें और बाइकें फूंक दीं. उपद्रवियों को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने भी लाठीचार्ज और आंसू गैस के गोले छोड़े. इसके बाद पुलिसकर्मियों ने अराजक तत्वों के जामिया मिलिया विश्वविद्यालय में घुसे होने के संदेह पर कैंपस से सभी विद्यार्थियों को बाहर निकाल दिया. उधर, नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) में भी रविवार देर रात हुए प्रदर्शन में 3 छात्र घायल हो गए. पुलिस ने 21 छात्रों को गिरफ्तार किया. इसके साथ ही एएमयू 5 जनवरी तक बंद कर दिया गया.

यह भी पढ़ें- केंद्र, राज्य सरकारें CIC, SIC में 3 महीने के भीतर सूचना आयुक्त नियुक्त करें : न्यायालय

नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ पूरे देश में विरोध प्रदर्शन हो रहा है. दिल्ली समेत देश के दूसरे हिस्सों में भी हिंसा की लपटें पहुंचनी शुरू हो गई हैं. मऊ में उग्र भीड़ ने सड़क पर खड़ी कई गाड़ियों के शीशे तोड़ दिए. उग्र भीड़ ने नरेंद्र मोदी और योगी सरकार के खिलाफ नारेबाजी की. इस विरोध प्रदर्शन का असर दक्षिण टोला थाना क्षेत्र अंतर्गत मिर्जाहादीपुरा चौराहे पर सबसे ज्यादा देखने को मिला. पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर आंसू गैंस के गोले छोड़े हैं. साथ ही उग्र विरोध प्रर्दशन करने वालों को हटाया जा रहा है.

वहीं, नागरिकता कानून के खिलाफ ज्वाइंट एक्शन कमेटी के छात्रों ने प्रदर्शन किया है. बीएचयू के गेट पर एबीवीपी और विरोध करने वाले छात्र आमने-सामने आ गए. मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री के खिलाफ नारे लागाने के कारण एबीवीपी के छात्रों में आक्रोश है. पुलिस और एबीवीपी के छात्रों में धक्का मुक्की हुई है. पुलिस ने एबीवीपी छात्रों और प्रदर्शन करने वाले छात्रों को अलग किया.

First Published : 16 Dec 2019, 08:41:32 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.