News Nation Logo

एयरो डिजाइन चैलेंज-2021 भारत की 60 इंजीनियरिंग टीमों में जामिया दूसरे स्थान पर

एयरो डिजाइन चैलेंज-2021 भारत की 60 इंजीनियरिंग टीमों में जामिया दूसरे स्थान पर

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 24 Aug 2021, 07:10:01 PM
Jamia Millia

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

नई दिल्ली: जामिया मिल्लिया इस्लामिया (जेएमआई) के मैकेनिकल इंजीनियरिंग और इलेक्ट्रॉनिक्स एवं संचार इंजीनियरिंग विभाग के तीन छात्रों और चार छात्राओं वाली एक सात सदस्य टीम ने एयरो डिजाइन चैलेंज में दूसरा स्थान हासिल किया है। यह चैलेंज प्रतिष्ठित वैश्विक संस्था सोसाइटी ऑफ ऑटोमोटिव इंजीनियर्स (एसएई) द्वारा आयोजित किया गया था। इस प्रतियोगिता में देशभर के छात्रों ने हिस्सा लिया था।

जामिया की इस टीम के सात सदस्यों में से चार छात्राएं हैं। चैलेंज में दूसरा स्थान जीतने जामिया टीम लीडर इनमें से ही एक छात्रा है। इस प्रतियोगिता में पूरे भारत के इंजीनियरिंग कॉलेजों की 60 से अधिक टीमों ने भाग लिया।

सोसाइटी ऑफ ऑटोमोटिव इंजीनियर्स इंडिया साउदर्न सेक्शन (एसएईआईएसएस) ऑटो-परिवहन क्षेत्र में विकास और प्रगति को बढ़ावा देता है।सोसाइटी ऑफ ऑटोमोटिव इंजीनियर्स एसएई अपने क्षेत्र में एक वैश्विक लीडर है। इसी के अंतर्गत विभिन्न विश्वविद्यालयों एवं संस्थानों के छात्रों के लिए एयरो डिजाइन चैलेंज-2021 आयोजित किया गया।

जामिया विश्वविद्यालय के मुताबिक जामिया के छात्रों ने एक चैलेंज की नियमित श्रेणी के अंतर्गत डिजाइन में दूसरा स्थान हासिल किया है। एसएई एक वैश्विक लीडर है जो ऑटो-परिवहन क्षेत्र में विकास और प्रगति को बढ़ावा देता है।

टीम के सदस्यों को बधाई देते हुए, प्रोफेसर नजमा अख्तर, कुलपति, जामिया ने कहा कि इस तरह की एलीट सोसाइटी एसएई से पुरस्कार प्राप्त करने से जामिया की शिक्षण-अधिगम क्षमता को बढ़ावा मिलता है और अग्रणी संस्थान के रूप में उसकी छवि निखरती है। प्रो. एस.एम. मुजक्किर, मैकेनिकल इंजीनियरिंग विभाग, जेएमआई ने फिक्स्ड विंग अनमेंड व्हीकल के डिजाइन के लिए टीम के परामर्शदाता थे।

गौरतलब है कि जामिया विश्वविद्यालय में रिसर्च कार्य पर एक विशेष ऑनलाइन पाठ्यक्रम भी आयोजित किया जा रहा है। जामिया मिल्लिया इस्लामिया द्वारा भारतीय सामाजिक विज्ञान अनुसन्धान परिषद् (आईसीएसएसआर) के सहयोग से 30 अगस्त शोध प्रविधि पर यह ऑनलाइन पाठ्यक्रम, आयोजित किया जा रहा है। इसके लिए गूगल कक्षा भी बनाई गई है।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 24 Aug 2021, 07:10:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.