News Nation Logo
Banner

भारत में जेहाद को बढ़ावा देने की नई पाकिस्तानी साजिश, जमात का Hightech प्लान

पाकिस्तान पोषित प्रतिबंधित आतंकी संगठन जमात-उद-दावा (JuD) भारत के खिलाफ जिहाद (Jihad) को बढ़ावा देने के लिए बच्चों एवं युवाओं का ब्रेनवॉश करने के लिए गेमिंग एप्लिकेशंस (Gaming Apps) का उपयोग कर रहा है.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 18 Sep 2020, 07:08:32 AM
JDU Jihad Game

जेहादी आतंकवाद को भारत में बढ़ावा देने की जमात उद दावा की नई साजिश. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

इस्लामाबाद/नई दिल्ली:

पाकिस्तान पोषित प्रतिबंधित आतंकी संगठन जमात-उद-दावा (JuD) भारत के खिलाफ जिहाद (Jihad) को बढ़ावा देने के लिए बच्चों एवं युवाओं का ब्रेनवॉश करने के लिए गेमिंग एप्लिकेशंस (Apps) का उपयोग कर रहा है. आतंकी संगठन एप्स के जरिए पैगंबर मोहम्मद की शिक्षाओं का ढोंग और युवाओं को शिक्षित करने का दावा करते हुए ऐसे कदम उठा रहा है. जेयूडी प्रतिबंधित आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा (LeT) से जुड़ा हुआ है. एक सूत्र ने कहा कि जेयूडी के गेमिंग एप्स के माध्यम से लश्कर-ए-तैयबा ने भारत में जिहाद फैलाने की साजिश रची है. संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) ने जमात-उद-दावा पर प्रतिबंध लगाए हैं और इसके प्रमुख चार नेताओं को आतंकवादी घोषित किया था, जिसमें जेयूडी प्रमुख हाफिज सईद (Hafiz Saeed) और मुंबई हमले के मास्टरमाइंड जकी-उर-रहमान लखवी शामिल हैं.

यह भी पढ़ेंः राहुल गांधी बोले- मोदी के कुछ 'मित्र' नए भारत के 'जमींदार' होंगे, जानें कैसे

हाफिज सईद ने भारत में खोली शाखाएं
भारत में 26/11 आतंकी हमले के मास्टरमाइंड लश्कर-ए-तैयबा के प्रमुख हाफिज सईद ने पाकिस्तान में 45 स्थानों पर कार्यालय खोले हैं. सूत्र ने कहा कि युवाओं को गेम्स के बारे में अवगत कराया जाता है और इन केंद्रों में स्थापित कंप्यूटरों का उपयोग करने की अनुमति दी जाती है. जेयूडी ने गेम और मोबाइल फोन एप विकसित करने के लिए कंप्यूटर प्रोग्रामर से मदद मांगी है. गेम और एप्स को विकसित करने के लिए जेयूडी की ऐसी योजनाओं के बारे में पहला संकेत जेयूडी ऑफिशियल के अकाउंट से माइक्रो-ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर किए गए कुछ ट्वीट्स के रूप में 2018 में सामने आया था.

यह भी पढ़ेंः  इधर रिया ने CBI के सामने खोली जुबान, उधर करण जौहर ने परिवार संग छोड़ी मुंबई!

गेमिंग एप्स से बना रहे निशाना
तब आतंकी समूह ने कहा था कि वे गेम और एप विकसित करने की योजना बना रहे हैं, जो जाहिर तौर पर पैगंबर मोहम्मद की शिक्षाओं से प्रेरित हैं. हाल के महीनों में भारत में अशांति फैलाने के उद्देश्य से फंड जुटाने और प्रसार के लिए जेयूडी ने ट्विटर और फेसबुक सहित सोशल मीडिया के उपयोग को आगे बढ़ाया है. भारत के खिलाफ हजारों नकली प्रचार सामग्री और देश में दंगे फैलाने की साजिश के साथ, जेयूडी की सोशल मीडिया टीम ने हैशटैग के माध्यम से भारत के खिलाफ नफरत फैलाई.

यह भी पढ़ेंः सुपरस्टार रजनीकांत ने अलग अंदाज में पीएम मोदी को जन्मदिन की दी बधाई

भारत के खिलाफ ब्रेन वॉश
सईद की सोशल मीडिया टीम को 'जेयूडी साइबर टीम' के रूप में भी जाना जाता है. इस साल दिल्ली में हुई हिंसा के संदर्भ में जेयूडी के एक साइबर सेल ने ट्विटर और फेसबुक पर भारत के खिलाफ बड़ी संख्या में आपत्तिजनक पोस्ट साझा किए. विभिन्न हैशटैग के माध्यम से, भारत में मुसलमानों पर अत्याचार की झूठी खबरों के तहत कई पोस्ट साझा किए गए. भारतीय एजेंसियों ने दावा किया कि पाकिस्तान इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस (आईएसआई) ने भारत के खिलाफ खाड़ी देशों को आगे बढ़ाने के लिए जेयूडी के साथ एक बड़ी भूमिका निभाई है.

First Published : 18 Sep 2020, 06:46:11 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो