News Nation Logo
Banner

जैश-ए-मोहम्मद के चार आतंकी दिल्ली में घुसे, लश्कर और मुजाहिदीन के साथ हमलों की फिराक में

खिसियाए पाकिस्तान की शह पर जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी भारत में घुस आए हैं. इनमें से चार आतंकियों के राजधानी दिल्ली में होने की भी सूचना है.

By : Nihar Saxena | Updated on: 06 Oct 2019, 12:53:54 PM
दिवाली से पहले आतंकी हमलों की सूचना पर कड़ी की गई सुरक्षा.

दिवाली से पहले आतंकी हमलों की सूचना पर कड़ी की गई सुरक्षा. (Photo Credit: (फाइल फोटो))

highlights

  • खुफिया इनपुट्स के मुताबिक जैश-ए-मोहम्मद के चार आतंकी दिल्ली में घुसे.
  • इनके निशाने पर दिल्ली के भीड़-भाड़ वाले चार प्रमुख बाजार हैं.
  • जैश ने लश्कर-ए-तैयबा और हरकत-उल-मुजाहिदीन से भी हाथ मिलाया है.

नई दिल्ली:

दिवाली से पहले पाकिस्तान परस्त आतंकी भारत की रातें काली करने की फिराक में हैं. हालिया खुफिया इनपुट्स भी इस ओर इशारा कर रहे हैं. इसके मुताबिक जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने और समग्र विश्व के इस मसले पर भारत के साथ आ खड़े होने से खिसियाए पाकिस्तान की शह पर जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी भारत में घुस आए हैं. इनमें से चार आतंकियों के राजधानी दिल्ली में होने की भी सूचना है. इस खुफिया इनपुट्स के बाद दिल्ली में सुरक्षा और भी कड़ी कर दी गई है.

यह भी पढ़ेंः अब लापरवाही से की ड्राइविंग की तो लगेगी आईपीसी की धारा भी, सजा होगी और कठोर

जैश ने लश्कर-मुजाहिदीन से मिलाया हाथ
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जैश-ए-मोहम्मद ने अपने नापाक इरादों को अमल में लाने के लिए लश्कर-ए-तैयबा और हरकत-उल-मुजाहिदीन से भी हाथ मिलाया है. भारत खासकर राजधानी दिल्ली समेत अन्य बड़े शहरों को आतंकी हमलों से दहलाने के लिए आतंकी दस्ते की जैश कमांडर अबू उस्मान कर रहा है. उसने ही पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) और जम्मू-कश्मीर में सक्रिय आतंकियों को बीते सप्ताह बांदीपुरा इलाके के मीर मोहल्ले में सेब के एक बाग में हुई बैठक में तबाही का आदेश दिया था. आतंकियों को जमीनी मदद पहुंचाने के लिए जैश के स्लीपर सेल भी सक्रिय कर दिए गए हैं.

यह भी पढ़ेंः पाकिस्तान परस्त आतंकी अब रेलवे की सुरक्षा को भेद नहीं पाएंगे, रेलवे ने अपनाई नई तकनीक

जैश कमांडर अबु उस्मान कर रहा है नेतृत्व
सुरक्षा एजेंसियों के मुताबिक इस बैठक में आतंकी अबू उस्मान ने दहशतगर्दों से कहा था कि कश्मीर के लोग जल्द ही अच्छी खबर सुनेंगे और ये खुशी की खबर जम्मू और दिल्ली में बड़े धमाकों के साथ आएगी. तभी से दिल्ली-एनसीआर में स्पेशल सेल संदिग्धों की धरपकड़ के लिए छापेमारी कर रही है. वहीं, खुफिया इकाइयां जैश के इस मॉड्यूल से जुड़ी हर सूचना एकत्र करने में जुटी हैं. गौरतलब है कि हरकत-उल-मुजाहिदीन पाकिस्तान स्थित है और कश्मीर में आतंकी गतिविधियां चलाने वाला मुख्य आतंकी संगठन है, जबकि लश्कर ने पाकिस्तान से लेकर भारत तक इंडियन मुजाहिद्दीन के जरिए अपना नेटवर्क बना रखा है.

यह भी पढ़ेंः कांग्रेस को मंझधार में छोड़कर राहुल गांधी गए बैंकॉक, BJP ने खड़े किए सवाल

जैश के स्लीपर सेल भी हुए सक्रिय
यहां यह भूलना नहीं चाहिए कि अमेरिकी खुफिया एजेंसियों ने समय-समय पर लश्कर-ए-तैयबा का संबंध ओसामा बिन लादेन और अलकायदा से होने की बात कही है. वैसे भारतीय एजेंसियों के लिए जैश-ए-मोहम्मद हमेशा सिरदर्द बना रहा है, जिसके स्लीपर सेल उत्तर भारत में सक्रिय रहे हैं. जैश-ए-मोहम्मद का दिल्ली में संसद पर हमले सहित कई अन्य हमलों में हाथ रहा है, इसलिए इसके नेटवर्क को खुफिया और सुरक्षा एजेंसियां खंगाल रही हैं.

यह भी पढ़ेंः T-20 Series: लंका ने पाकिस्तान को 64 रन से दी करारी शिकस्त

दिल्ली की घनी आबादी वाले इलाके हैं लक्ष्य
हालिया खुफिया जानकारी के मुताबिक जैश के कमांडर अबू उस्मान के नेटवर्क से जुड़ा एक मॉड्यूल दिल्ली के घनी आबादी वाले इलाके में घुसकर अपना ठिकाना बना रहा है, ताकि त्योहारों में भीड़भाड वाले इलाकों में बड़ी तबाही कर सकें. इनके निशाने पर दिल्ली में चार प्रमुख बाजार हैं. इनमें दक्षिणी दिल्ली का एक, मध्य दिल्ली के दो और यमुनापार का एक बाजार शामिल है. इस जानकारी के बाद दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने अब तक 53 जगहों पर छापेमारी की है और 69 संदिग्धों से पूछताछ की है. इसके अलावा करीब 12 मोबाइल नंबरों की कॉल डिटेल रिकॉर्ड भी निकाला है, जबकि कुछ मोबाइल नंबरों को भी सर्विलांस पर लगाया गया है.

First Published : 06 Oct 2019, 09:20:28 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो