News Nation Logo

पारस परिवार के छोटे से सामाजिक कार्यकर्ता श्रीपारस भाई जी बोले- अब अयोध्या में गूंजेंगे जय श्रीराम के नारे

शक्ति के प्रचार-प्रसार में अपना जीवन देने वाले श्री पारस भाई जी (Shri Paras Bhai Ji) ने हमारे देश की संस्कृति, सनातन धर्म, देश की आत्मा और देश की भावना से जुड़े अयोध्या के राम मंदिर विवाद के समापन और भव्य राम मंदिर के नवनिर्माण पर सुप्रीम कोर्ट के दिए फैसले का स्वागत किया है.

न्यूज स्टेट ब्यूरो | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 14 Nov 2019, 04:10:49 PM
श्री पारस भाई जी ने अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का किया स्वागत

नई दिल्ली:

शक्ति के प्रचार-प्रसार में अपना जीवन देने वाले श्री पारस भाई जी (Shri Paras Bhai Ji) ने हमारे देश की संस्कृति, सनातन धर्म, देश की आत्मा और देश की भावना से जुड़े अयोध्या के राम मंदिर विवाद के समापन और भव्य राम मंदिर के नवनिर्माण पर सुप्रीम कोर्ट के दिए फैसले पर खुशी जताई है. उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला आते ही श्रीराम चंद्रजी की नगरी अयोध्या जय श्री राम के नारों से गूंज उठी.

यह भी पढ़ेंः मेहनत और काबिलियत के बावजूद नहीं मिल रहा मुकाम तो आजमाएं श्रीश्री पारस भाई जी के उपाय

श्रीपारस भाई जी (Shri Paras Bhai Ji) ने सुप्रीम कोर्ट और पीएम नरेंद्र मोदी का धन्यवाद करते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने इलाहाबाद हाई कोर्ट से इतर ऐतिहासिक फैसला देकर हिन्दू-मुस्लिम के विवाद को हमेशा के लिए खत्म कर दिया है. पारस भाई जी का कहना है कि हमारी संस्कृति राम से जुड़ी है और देश का बच्चा चाहता था कि अयोध्या में राम मंदिर ही बने.

उन्होंने आगे कहा कि हिन्दू-मुस्लिम तो धर्म है पर राम सनातन धर्म, संस्कृति और देश की धरोहर है और उस देश का विकास कभी नहीं हो सकता जो देश अपनी संस्कृति, वैदिक और देश की धरोहर को संभाल कर ना रख सके, इसलिए राम केवल हिन्दुओं के नहीं अपितु हर धर्म, हर जात और हर बोली से जुड़े हैं और इसी कारण देश के हर धर्म चाहे हिन्दू हो या मुस्लिम उन सब ने इस फैसले पर एक सुर में राम मंदिर के दिए फैसले का स्वागत किया है.

यह भी पढ़ेंः अब भारतवर्ष में नरेंद्र मोदी को रोकना होगा असंभव, जानें मोदी के ग्रहों पर क्या बोले पारस भाई जी

श्री पारस भाई जी (Paras Bhai ji) ने कहा, अयोध्या में अब राम मंदिर बनने जा रहा है. उन्होंने मुस्लिम पक्ष को मस्जिद निर्माण के लिए 5 एकड़ जमीन देने के फैसले का भी स्वागत किया है. उन्होंने कहा कि समाज के विकास के लिए सभी को साथ रहने की जरूरत है.

श्रीपारस भाई गुरु जी (Shri Paras Bhai Guru ji) ने कहा, सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद पूरे देश में खुशी का माहौल है. उन्होंने भी अयोध्या पर फैसला आने के बाद दीया जलाकर अपने भक्तों के साथ जश्न मनाया. उन्होंने कहा कि बड़े धूमधाम और हर्षोल्लास के साथ हर धर्म, हर जाति के लोगों यानि पूरे देश को मिलकर जन्मस्थल पर श्रीराम जी की मूर्ति स्थापित करनी चाहिए. ताकि भारत पूरी दुनिया में एक मिसाल बन जाए. दुनिया हमसे शांति व प्रेम सीखें और धर्म के नाम पर चल रही दुकानें और रोजाना होते दंगे बंद हो और सब मिलजुल कर राष्ट्र के निर्माण में अपनी मदद दे.

यह भी पढ़ेंः बिना किसी लालच के करें मतदान, चुनें ईमानदार और देशभक्त प्रधानमंत्री : पारस भाई गुरु जी

बता दें कि एस्ट्रोलॉजर (Astrologer), बेहतरीन मोटिवेटर (Motivator), मां भगवती व शिव के भजनों (Maa Bhagwati bhajans) से दुनिया को मंत्रमुग्ध कर देने वाले पारस परिवार (Paras Parivaar) के मुखिया श्री पारस भाई जी (Shri Paras Bhai Ji) की जिंदगी का मुख्य उद्देश्य सनातन धर्म (Sanatan Dharm) का प्रचार, आडंबरों से मुक्ति व गरीबों और बुजुर्गों की सेवा कर नए राष्ट्र का नव निर्माण करना है.

First Published : 14 Nov 2019, 03:59:47 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो