News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

दुबई के अस्पताल में हिप रिप्लेसमेंट सर्जरी कराने गई भारतीय महिला शेफ, जानिए फिर क्या हुआ

रिपोर्ट में बताया गया है कि रीटा फर्नांडिस की समस्या जन्मजात है, जब से वो पैदा हुई तभी से उसके कूल्हे थोड़ा सा अपनी जगह से विस्थापित थे.

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 13 May 2019, 03:19:52 PM
फोटो - साभार - Facebook

नई दिल्ली:

दुबई के एक निजी अस्पताल में हिप रिप्लेसमेंट करवाने गई भारतीय महिला शेफ की सर्जरी के दौरान मौत हो गई. गल्फ न्यूज के मुताबिक 2 बच्चों की मां 42 वर्षीय बेट्टी रीटा फर्नांडिस को 9 मई के दिन अल जहरा अस्पताल में दो घंटे के लिए बाएं हिप की सर्जरी के लिए भर्ती करवाया गया था. रीटा बेट्टी के निधन की जानकारी उनके परिजनों को 9 मई को ही पारदर्शी तरीके से दे दी गयी थी. अस्पताल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी मोहिम अब्देलघनी ने एक बयान जारी कर उनके परिवार को बताया कि अल जहरा अस्पताल दुबई में बाएं हिप की सर्जरी के दौरान बेट्टी रीटा का निधन हो गया. बयान में यह भी कहा गया कि इस घटना की मौजूदा जानकारी दुबई हेल्थ अथॉरिटी और संयुक्त आयोग इंटरनेशनल के दिशा निर्देशों के अनुसार बहुस्तरीय गहन समीक्षाओं के बाद ही निपटाया जा रहा है. इस दौरान हम उनके परिवार को इस बीच की सभी जानकारियों से अपडेट करवाते रहेंगे.

रिपोर्ट में बताया गया है कि रीटा फर्नांडिस की समस्या जन्मजात है, जब से वो पैदा हुई तभी से उसके कूल्हे थोड़ा सा अपनी जगह से विस्थापित थे. फर्नांडिस के परिवार की मानें तो उसने हिप रिप्लेसमेंट सर्जरी का फैसला दुबई में अल जहर अस्पताल के आर्थोपेडिक सर्जन समीह ताराबीची की सलाह पर किया था

9 मई को फर्नांडिस को बाएं हिप की रप्लेसमेंट के लिए 2 घंटे के लिए एडमिट किया गया था. वो मूल रूप से मुंबई की रहने वाली थीं वो एक शेफ थीं, और 'बेट्टीस केके टेल्स' नाम से एक विशेष किराने की दुकान चलाती थीं जिसका जिक्र उन्होंने अपने फेसबुक पेज पर किया है. दुबई हेल्थ अथॉरिटी उनके पति द्वारा दी गई शिकायत की जांच कर रही है.

हेल्थ रेगुलेशन सेक्टर के सीईओ मारवान अल मुल्ला ने बताया कि फिलहाल मामले की जांच की जा रही है. डीएचए इसे कथित तौर पर लापरवाही के लिहाज से देख रहा है. हेल्थ रेग्युलेशन एरिया ऐेसे मामलों की जांच करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय मानकों के अनुरूप उचित प्रक्रिया का पालन करती है, जहां मामले की जांच के लिए विषय विशेषज्ञों की एक समिति बनाई जाती है. हर मामले की योग्यता के मुताबिक डीम्ड एक्शन लिया जाता है.

First Published : 13 May 2019, 03:19:52 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो