News Nation Logo
Banner

कुलभूषण जाधव मामले में भारत का कूटनीतिक प्रयास जारी, ICJ के आदेश को पूरी तरह लागू करे पाकिस्तानः विदेश मंत्रालय

कुलभूषण जाधव मामले में विदेश मंत्रालय ने प्रेसवार्ता कर पाकिस्तान को जमकर लताड़ा है.

By : Deepak Pandey | Updated on: 12 Sep 2019, 05:36:34 PM
विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार (ANI)

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार (ANI)

नई दिल्ली:

कुलभूषण जाधव मामले में विदेश मंत्रालय ने प्रेसवार्ता कर पाकिस्तान को जमकर लताड़ा है. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार (Raveesh Kumar) ने कहा कि कुलभूषण जाधव मामले में भारत का प्रयास जारी है. आईसीजे (ICJ) के दबाव में पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव (Kulbhushan Jadhav) को काउंसलर एक्सेस दिया था. अब पाकिस्तान (Pakistan) ने दोबारा काउंसलर एक्सेस देने से इनकार कर दिया है. हमारा प्रयास है कि आईसीजे के आदेश को पाकिस्तान पूरी तरह लागू करे. 

यह भी पढ़ेंःइस दिग्गज अमेरिकी कंपनी ने हिमा दास को बनाया भारत का ब्रांड एंबेसडर

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने आगे कहा, कुलभूषण जाधव को काउंसलर एक्सेस 2 सितंबर को मिला था. हमने पाक को कहा है कि इसकी पूरी तरह से इम्प्लीमेंटेंशन हो. आईसीजे के आदेश का पूरी तरह लागू हो. हम डिप्लोमेटिक रास्ते से पाकिस्तान से वार्ता करेंगे. उन्होंने आगे कहा, आईसीजे का फैसला भारत के हक में आया था. अगर पाकिस्तान ने दोबारा काउंसलर एक्सेस नहीं दिया तो हम राजनयिक के माध्यम से पाकिस्तान से संपर्क करेंगे. 

यह भी पढ़ेंःNRC को लेकर मोदी सरकार पर ममता बनर्जी ने किया वार, कहा-असम की तरह बंगाल को नहीं करा सकते चुप

उन्होंने जम्मू-कश्मीर में मौजूदा स्थिति को लेकर कहा, राज्य में दवाओं की कोई कमी नहीं है. जम्मू-कश्मीर में 95 प्रतिशत डॉक्टर ड्यूटी पर तैनात हैं. बैंकिंग सुविधाएं सामान्य रूप से चल रही हैं. राज्य में 92 प्रतिशत कोई प्रतिबंध नहीं है. रवीश कुमार ने आगे कहा, संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (UNHRC) में हमारे प्रतिनिधिमंडल ने अपना पक्ष रखा. हमने पाकिस्तान के झूठ और विकृत बयान का जवाब दिया. अपने देश में आतंकवादी की मदद करने वाले पाकिस्तान के बारे में वैश्विक समुदाय का बताया गया. 

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में पाकिस्तान कश्मीर (Kashmir) के मुद्दे को लेकर गया था, लेकिन वहां से भी उसे निराशा ही हाथ लगी है. इसके बारे में भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा है, संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (UNHRC) में हमारे प्रतिनिधिमंडल ने हमारे पक्ष को रखा. हमने पाकिस्तान के झूठों और तोड़-मरोड़कर पेश किए गए बयानों का जवाब दिया. अंतरराष्ट्रीय समुदाय पाकिस्तान के अंदर आतंकवाद को बढ़ावा देने के पाकिस्तान के रोल के बारे में जानता है.

इतना ही नहीं रवीश कुमार ने पाकिस्तान की खिल्ली उड़ाते हुए कहा कि पाकिस्तान, जो कि खुद वैश्विक आतंकवाद का गढ़ है, उसके लिए वैश्विक समुदाय के सामने नागरिक अधिकारों के बारे में बोलने का नाटक करने की बात काफी साहसिक रही होगी. यह बड़ी बात है. उन्हें यह समझ लेना चाहिए कि एक झूठ को बार-बार दोहराने से वह सच नहीं हो जाता है, यही बात इस बैठक के दौरान भी सामने आई.

First Published : 12 Sep 2019, 04:12:05 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×