News Nation Logo

भारत ने अग्नि-2 बैलिस्टिक मिसाइल का किया सफल परीक्षण, पाकिस्तान के गली-मोहल्ले तक होगी पहुंच

भारत (India) ने शनिवार को अग्नि -2 बैलिस्टिक मिसाइल (Agni-2 ballistic missile) का सफल परीक्षण किया.

By : Deepak Pandey | Updated on: 16 Nov 2019, 08:42:10 PM
भारत ने अग्नि-2 बैलिस्टिक मिसाइल का किया सफल परीक्षण

भारत ने अग्नि-2 बैलिस्टिक मिसाइल का किया सफल परीक्षण (Photo Credit: न्यूज स्टेट)

नई दिल्ली:

भारत (India) ने गुरुवार की रात को अग्नि-2 बैलिस्टिक मिसाइल (Agni-2 ballistic missile) का सफल परीक्षण किया. सरकार (बालासोर, ओडिशा) के सूत्रों का कहना है कि इस अग्नि-2 बैलिस्टिक मिसाइल में 2000 किलोमीटर तक मार करने की क्षमता है. अर्थात यह मिसाइल पाकिस्तान के गली-गली और मोहल्लों तक किसी भी दुश्मन को निशाना बना सकती है. 

यह भी पढ़ेंः 'सबरीमाला मंदिर में महिलाओं को नहीं मिलेगा प्रवेश, सुप्रीम कोर्ट भगवान से बड़ा नहीं'

सरकारी सूत्रों के अनुसार, ओडिशा के तट से स्ट्रैटेजिक फोर्सेज कमांड द्वारा अग्नि-2 बैलिस्टिक मिसाइल का टेस्ट किया गया है. रात में भारत की ओर से इस मिसाइल से गोलीबारी की गई थी. बता दें कि इससे पहले ओडिशा तट के नजदीक एपीजे अब्दुल कलाम द्वीप पर परमाणु बैलिस्टिक मिसाइल अग्नि- 2 का सफल परीक्षण एकीकृत परीक्षण रेंज के लॉन्चपैड नंबर- 4 से किया गया था.

इस बार भारत ने 2,000 किलोमीटर की मारक क्षमता वाली अग्नि -2 बैलिस्टिक मिसाइल का सफल रात्रि परीक्षण किया है. अब भारत रात में भी दुश्मनों पर लक्ष्य निर्धारित कर सकता है. इससे भारतीय सेना (Indian Army) की ताकत बढ़ी है. अब भारतीय सेना पाकिस्तान में बैठे दुश्मनों और आतंकवादियों को रात के समय भी मार गिराएगी.  

यह भी पढ़ेंः अनिल अंबानी ने रिलायंस कम्युनिकेशंस के डायरेक्टर पद से दिया इस्तीफा, जानें क्यों

अग्नि- 2 की ताकत का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि यह 2 हजार किलोमीटर तक की रेंज में दुश्मनों को ढेर कर सकती है. भारत की अदम्य शक्ति का नमूना अग्नि- 2 पाकिस्तान में कहीं भी कहर बनकर टूट सकती है. इसके साथ ही यह चीन और यूरोप के कई इलाकों में भी भयानक हमले कर सकती है.

गौरतलब है कि भारत की अग्नि- IV मिसाइल एक टन वजन का परमाणु हथियार भी ढोने में सक्षम है. 20 मीटर की लंबाई वाली अग्नि-IV मिसाइल का वजन 17 हजार किलोग्राम है. बता दें कि इसे डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गनाइजेशन (DRDO) ने डिजाइन किया है. रक्षा सूत्रों की मानें तो अग्नि- IV मिसाइल का इंजन दुश्मनों की आखिरी सोच से भी ज्यादा ताकतवर है. इस ताकतवर मिसाइन का इस्तेमाल अब रणीनीतिक फोर्स कमांड द्वारा किया जा सकेगा. बता दें कि अग्नि-IV मिसाइल जमीन से जमीन पर हमला करने वाली एक शक्तिशाली मिसाइल है.

First Published : 16 Nov 2019, 08:16:52 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.