News Nation Logo

Corona Virus : केरल टेक्निकल यूनिवर्सिटी की लास्ट सेमेस्टर की परीक्षाएं होंगी ऑनलाइन, 15 जून से होगी शुरुआत

कोविड महामारी की दूसरी और घातक लहर से बाहर आने की उम्मीद इससे जगने लगी है कि देश में कोरोना के मामलों में तेजी से गिरावट आई है.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 27 May 2021, 12:13:00 AM
Patna

Live : पटना में वैक्सीन न होने पर टीकाकरण केंद्रों पर लगे ताले (Photo Credit: News Nation)

नई दिल्ली:

कोविड महामारी की दूसरी और घातक लहर से बाहर आने की उम्मीद इससे जगने लगी है कि देश में कोरोना के मामलों में तेजी से गिरावट आई है. पिछले 21 दिनों में देश में कोरोना के दैनिक मामले घटकर 50 फीसदी से भी कम हो गए हैं. देश में जहां मई की शुरुआत में 4 लाख से भी ज्यादा मामले दर्ज किए गए थे तो महीने की आखिरी में यह संख्या अब घटकर 2 लाख से नीचे आ पहुंची है, जिससे यही माना जा रहा है कि कोरोना की दूसरी लहर अब थमनी शुरू हो गई है और देश इस घातक लहर के बाहर निकल रहा है. लेकिन अभी हालात इतने भी सामान्य नहीं हैं. कोरोना के मामले भले ही कम हुए हैं, मगर मौतों का आंकड़ा चिंताजनक बना हुआ है. फिलहाल कोरोना की दूसरी लहर पर काबू पाए जाने के बाद देश अब अनलॉक की ओर रुख करने को तैयार है.

देखें : न्यूज नेशन LIVE TV

Corona Virus Live Updates:- 

तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने मौजूदा कोरोना महामारी की स्थिति को ध्यान में रखते हुए जूनियर डॉक्टरों से अपनी हड़ताल वापस लेने को कहा है. उन्होंने  कहा कि सरकार उनकी जायज मांगों को हल करने के लिए तैयार है.

केरल टेक्निकल यूनिवर्सिटी की लास्ट सेमेस्टर की परीक्षाएं होंगी ऑनलाइन, 15 जून से होगी शुरुआत

दिल्ली में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 1491 नए मामले आए सामने

दिल्ली में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 1491 नए मामले सामने आए हैं. साथ ही कोरोना से मौतों के मामलों में भी कमी आई. बीते 24 घंटे में 130 मरीजों ने कोरोना से दम तोड़ दिया है. संक्रमण दर 2 प्रतिशत से नीचे पहुंच गई. संक्रमण दर 1.93 फीसदी दर्ज की गई. 

पटना में वैक्सीन न होने पर टीकाकरण केंद्रों पर लगे ताले

2.06PM बिहार की राजधानी पटना में वैक्सीन नहीं होने की वजह से कई केंद्रों पर वैक्सीनेशन बंद है. तस्वीरें पटना वीमेंस कॉलेज और ए.एन. कॉलेज से सामने आई हैं.

राष्ट्रीय राजधानी में ‘ब्लैक फंगस’ के करीब 620 मामले

12.56PM : दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में ‘ब्लैक फंगस’ के करीब 620 मामले सामने आए हैं. उसके उपचार के लिए इंजेक्शन की कमी का मुद्दा भी उन्होंने उठाया.

दिल्ली को बड़ी राहत, राजधानी में पॉजिटिविटी रेट घटकर 2 फीसदी हुई

11.48AM: राजधानी दिल्ली में पॉजिटिविटी रेट 2.1 फीसदी है. पॉजिटिविटी रेट एक समय 36 फीसदी था, जो अब 2 फीसदी तक आ गई है. लॉकडाउन की वजह से दिल्ली में अब कोरोना के मामले और पॉजिटिविटी रेट दोनों ही कम हैं. दिल्ली में ICU में कुल 6,800 बेड में से 2,900 बेड खाली है. दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने इसकी जानकारी दी है.

उत्तर प्रदेश में ब्लैक फंगस के अब तक करीब 700 मरीज मिले

10.00AM: उत्तर प्रदेश में ब्लैक फंगस के अब तक करीब 700 मरीज मिले हैं. सबसे ज्यादा लखनऊ में 240 मरीज सामने आए हैं. इनमें से 35 मरीजों की मौत हो गई, जकि बाकी का इलाज चल रहा है. 

भारत में आज फिर 2 लाख से ऊपर नए केस, मौतें भी 4 हजार पार

9.54AM: भारत में आज फिर कोरोना वायरस के 2 लाख से ऊपर नए केस दर्ज किए गए हैं. पिछले 24 घंटे में देश में कोविड के 2,08,921 नए मामले आए. जिसके बाद कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 2,71,57,795 हो गई है. इसके अलावा पिछले 24 घंटे में 4,157 नई मौतों के बाद कुल मौतों की संख्या 3,11,388  हो गई है. इस अवधि में 2,95,955 नए डिस्चार्ज के बाद कुल डिस्चार्ज की संख्या 2,43,50,816 हुई. देश में सक्रिय मामलों की कुल संख्या 24,95,591 है.

भारत में कल कोरोना वायरस के लिए 22,17,320 सैंपल टेस्ट

9.16AM भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) के अनुसार, भारत में मंगलवार को कोरोना वायरस के लिए 22,17,320 सैंपल टेस्ट किए गए. इसी के साथ 25 मई तक कुल 33,48,11,496 सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं.

कोरोना काल में भारत को मदद जारी

8.35AM: भारतीय वायुसेना का एक C-17 विमान जर्मनी के हैम्बर्ग से 4 ऑक्सीजन आपूर्ति प्रणाली ट्रकों को लेकर भारत पहुंचा है. इन ट्रकों में प्रत्येक की क्षमता 270 किलोलीटर है. इन ट्रकों का उपयोग ऑक्सीजन को सीधे ऑक्सीजन सिलेंडर में चार्ज करने और सीधे अस्पतालों में आपूर्ति करने के लिए किया जा सकता है. 

राजस्थान में कोरोना की दूसरी लहर में 37 डॉक्टर्स की मौत

7.47AM: राजस्थान में कोविड महामारी की दूसरी लहर में अब तक 37 डॉक्टर्स की मौत हो चुकी है. 65 फीसदी डॉक्टरों की मौत का कारण कोरोना रहा है.

महामारी के बीच आज देशभर में किसानों का प्रदर्शन

6.29AM: कोरोना महामारी के बीच संयुक्त किसान मोर्चा ने नए कृषि कानूनों के खिलाफ 26 मई को देशभर में काला दिवस मनाने का आह्वान किया है, क्योंकि इसी दिन विरोध प्रदर्शन के छह महीने पूरे होने जा रहे हैं. महामारी के बीच दिल्ली की सीमाओं पर बड़ी संख्या में किसानों के पहुंचने की संभावना है. ऐसे में किसानों के इस प्रदर्शन से कोरोना को फिर से रफ्तार मिलने का भी डर सता रहा है.

बैकग्राउंड


फिलहाल कोरोना के आंकड़ों की बात करें तो देश में रोजाना कोविड-19 के नमूनों के संक्रमित आने की दर 9.54 प्रतिशत हो गई है. वहीं लगातार 12वें दिन संक्रमण के रोजाना मामलों में भी गिरावट आई है. केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को बताया कि देश में अभी 25,86,782 लोगों का कोरोना वायरस संक्रमण का इलाज चल रहा है, जो कुल मामलों का 9.60 प्रतिशत है. उपचाराधीन मामलों में 10 मई के बाद से लगातार कमी आ रही है. मंत्रालय के अनुसार, देश में लगातार 12वें दिन संक्रमण मुक्त हुए लोगों की संख्या, सामने आए नए मामलों से अधिक रही. मंगलवार को संक्रमण से 3,26,850 लोगों के उबरने के बाद संक्रमण मुक्त हुए लोगों की संख्या बढ़कर 2,40,54,861 हो गई.

यह भी पढ़ें : कोरोना की किसी भी चुनौती से निपटने के लिए राज्य सरकार तैयारः भूपेश बघेल 

आंकड़ों के मुताबिक, देश में अभी तक कुल 33,25,94,176 नमूनों की जांच की गई है, जिनमें से 20,58,112 नमूनों की जांच पिछले 24 घंटे में की गई. रोजाना जांच में संक्रमित आने की दर गिरकर 9.54 प्रतिशत हो गई है. कोविड-19 के निपटने की दिशा में भारत के लिए यह अच्छा संकेत है, देश में मंगलवार को 1,96,427 नए मामले सामने आए, 41 दिनों बाद देश में दो लाख से कम नए मामले सामने आए. इससे पहले 14 अप्रैल को एक दिन में संक्रमण के 1,84,372 नए मामले सामने आए थे.

यह भी पढ़ें : राहुल की पार्टी कार्यकतार्ओं से यास से प्रभावित लोगों की मदद करने की अपील

आंकड़ों के अनुसार, मंगलवार तक देश में 19,85,38,999 लोगों को कोविड-19 रोधी टीके लग चुके हैं. मंत्रालय ने बताया कि 97,79,304 स्वास्थ्य कर्मियों को टीके की पहली खुराक और 67,18,723 कर्मियों को दोनों खुराकें दी जा चुकी हैं. वहीं, अग्रिम मोर्चे पर तैनात 1,50,79,964 कर्मियों को पहली और 83,55,982 कर्मियों को दूसरी खुराक दी जा चुकी है. 18 से 44 वर्ष के आयुवर्ग के 83,55,982 लोगों को टीके की पहली खुराक दी जा चुकी है. मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, मंगलवार को 18 से 44 वर्ष के आयुवर्ग के 12.82 लाख से अधिक लोगों को टीके लगाए गए.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 26 May 2021, 06:30:01 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.