News Nation Logo
Banner

71वां स्वतंत्रता दिवस: पीएम मोदी लाल किले की प्राचीर से इन मुद्दों पर कर सकते हैं बात

बिहार, यूपी और पूर्वी भारत में बाढ़ से बिगड़ रहे हालात और केंद्र सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयास को लेकर भी अपनी बात रखेंगे।

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Kumar | Updated on: 15 Aug 2017, 05:58:53 AM
पीएम मोदी (फाइल फोटो)

पीएम मोदी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

स्वतंत्रता दिवस के 70 साल पूरे होने पर मंगलवार को लाल किला के प्राचीर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पिछले तीन साल की उपलब्धियों और आगे की संभावनाओं को लेकर अपनी बात रखेंगे। एक बात और भी है कि इस बार पीएम मोदी का भाषण पहले की तुलना में छोटा होगा। माना जा रहा है कि पीएम इस बार जीएसटी लागू होने और भविष्य में इससे होने वाले फायदे को लेकर अपनी बात रखेंगे।

इसके अलावा बिहार, यूपी और पूर्वी भारत में बाढ़ से बिगड़ रहे हालात और केंद्र सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयास को लेकर भी अपनी बात कहेंगे।

आतंकवाद और कश्मीर का मुद्दा

हाल के दिनों में कश्मीर के कई इलाक़ों में भारतीय सुरक्षाकर्मियों द्वारा आतंकियों को चुन-चुन कर मारा जा रहा है। ज़ाहिर है भारत के नज़रिए से ये एक बड़ी उपलब्धि है साथ ही आतंकवाद को लेकर केंद्र सरकार की तरफ से हमेशा ही ज़ीरो टॉलरेंस की नीति अपनाई जाती रही है ऐसे में पीएम मोदी इस मुद्दे पर भी बोल सकते हैं।

गोरखपुर मेडिकल कॉलेज

शुक्रवार को गोरखपुर के बीआरडी (बाबा राघव दास) मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन की कमी से 30 से ज़्यादा बच्चों की मौत हो गई थी। अब तक पीएम ने इस मुद्दे को लेकर एक बार भी किसी मंच पर चर्चा नहीं की है। साथ ही विपक्षी पार्टियां बार- बार इस मुद्दे को लेकर पीएम को घेर रहे हैं कि अब तक पीएम मोदी ने इस मुद्दे पर कुछ भी खुलकर नहीं बोला है। ऐसे में बहुत संभावना है कि पीएम मोदी इस मुद्दे पर बोलें।

भीषण बाढ़ की चपेट में बिहार, 41 की मौत, 65 लाख आबादी प्रभावित

स्वच्छता अभियान

साथ ही सफाई को लेकर भी वो अपनी बात रखेंगे। क्योंकि उत्तरप्रदेश का गोरखपुर इलाका 1978 के बाद से ही इंसेफेलाइटिस बीमारी को झेल रहा है। शुक्रवार को बीआरडी मेडिकल कॉलेज में भर्ती सभी बच्चे इंसेफेलाइटिस से पीड़ित थे। बता दें कि इंसेफेलाइटिस विषाणुजनित (वायरस से होने वाला) रोग है। ऐसे में सफाई अभियान के ज़रिए इस तरह की सभी बीमारी से मुक्ति पाई जा सकती है।

पाकिस्तान और चीन मुद्दा

कश्मीर, पाकिस्तान मुद्दे को लेकर पीएम मोदी एक बार फिर से कोई सख्त निर्देश दे सकते हैं। वहीं चीन के साथ डाकोला में चल रहे विवाद को लेकर पीएम सीधे-सीधे तो नहीं लेकिन भारत के पक्ष में अपनी सैन्य शक्ति और सुरक्षा को लेकर अपनी सक्षमता पर बोल सकते हैं।

स्वतंत्रता दिवस: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद बोले- न्यू इंडिया भेदभाव मुक्त हो, 10 खास बातें (वीडियो)

First Published : 14 Aug 2017, 11:09:36 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो