News Nation Logo

तेज हवा और बज्रपात को देखते हुए जिला प्रशासन ने जारी किए हेल्पलाइन

आम-जनमानस हेतु आवश्यक है कि आंधी तूफान/चक्रवात से पहले क्या करें आदि की जानकारी हो. शांत रहें, घबराएं नही व अफवाहों पर ध्यान न दें. सम्पर्क क्षेत्र में बने रहने के लिए अपने मोबाइल फोन चार्ज रखें, मोबाइल एसएमएस का इस्तमाल करें.

News Nation Bureau | Edited By : Ritika Shree | Updated on: 26 May 2021, 05:00:00 AM
Yass Cyclone

Yass Cyclone (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • अपने जरूरी कागजात व कीमती सामान एक जलरोधक थैले में रखें
  • एक आपदा किट अवश्य तैयार रखें, जिसमें सुरक्षित रहने का आवश्यक सामान हो
  • टार्च एवं सोलर लाइट घर में अवश्य रखें

वाराणसी:

भारत मौसम विज्ञान केन्द्र द्वारा आगामी 26 व 27 मई, 2021 के मध्य गर्जन के साथ बिजली चमकने एवं तेज हवा चलने की सम्भावना व्यक्त की गयी है, जिसका असर जनपद वाराणसी में भी देखने को मिल सकता है. उक्त के दृष्टिगत आम-जनमानस हेतु आवश्यक है कि आंधी तूफान/चक्रवात से पहले क्या करें आदि की जानकारी हो. शांत रहें, घबराएं नही व अफवाहों पर ध्यान न दें. सम्पर्क क्षेत्र में बने रहने के लिए अपने मोबाइल फोन चार्ज रखें, मोबाइल एसएमएस का इस्तमाल करें. मौसम की अद्यतन जानकारी के लिए रेडियो सुनें, टीवी देखें व समाचार पत्र पढ़ें. अपने जरूरी कागजात व कीमती सामान एक जलरोधक थैले में रखें. एक आपदा किट अवश्य तैयार रखें, जिसमें सुरक्षित रहने का आवश्यक सामान हो. बच्चों हेतु पूर्व में ही दूध एवं दवा का प्रबंध करे. बुजुर्ग या घर में कोई बीमार हो तो उसकी दवा का प्रबंध पूर्व में ही कर लें. टार्च एवं सोलर लाइट घर में अवश्य रखें. यदि आपका घर असुरक्षित है, तो आंधी तूफान/चकवात से पूर्व किसी सुरक्षित स्थान पर चले जाएं. अपने घरों, इमारतों को सुदृढ़ करें, जरूरी मरम्मत कराएं व नुकीलें सामान को खुला न छोड़ें. मवेशियों व पशुओं की सुरक्षा के लिए उन्हें असुरक्षित स्थान पर बांधकर न रखें. 
     
आंधी तूफान/चक्रवात के दौरान यदि आप घर के अन्दर हैं तो बिजली का मेन स्विच व गैस सप्लाई तुरंत बन्द कर दें. दरवाजे एवं खिड़की बन्द रखें.

उबला हुआ या क्लोरीनयुक्त पानी ही पिएं. सिर्फ अधिकारिक चेतावनी पर ही विश्वास करें एवं अफवाहों पर ध्यान न दें और न ही अफवाह
फैलायें. आंधी तूफान/चक्रवात के दौरान यदि आप बाहर हैं, तो क्षतिग्रस्त इमारत में न जाएं. बिजली के खम्भों, तारों व दूसरी नुकीली चीजों से बच कर रहें.

जल्द से जल्द किसी सुरक्षित स्थान पर पहुंच कर आश्रय ले

 नाविक /मछुआरे खराब मौसम होने पर नदी में नाव को न ले जायें और न ही स्वयं नदी में जायें. नावों को सुरक्षित जगह पर बॉध कर रखें. चक्रवात से सम्बन्धित किसी नुकसान की सूचना, चक्रवात से सम्बंधित जानकारी प्राप्त करने तथा सहायता हेतु 
0542-2221937, 2221939, 2221941, 2221942, 2221944 एवं टोल फ्री नंबर-1077 नम्बरों पर सम्पर्क करें.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 26 May 2021, 05:00:00 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.