News Nation Logo

भारत और पाकिस्तान के बीच अहम बातचीत, सीजफायर के लिए बनी सहमति

दोनों देशों ने अपने साझा बयान में दोहराया कि किसी भी अप्रत्याशित स्थिति या गलतफहमी को हल करने के लिए हॉटलाइन संपर्क और बॉर्डर फ्लैग मीटिंग के मौजूदा तंत्र का उपयोग किया जाएगा.

News Nation Bureau | Edited By : Sunil Chaurasia | Updated on: 25 Feb 2021, 04:13:37 PM
भारत और पाकिस्तान के बीच अहम बातचीत, सीजफायर के लिए बनी सहमति

भारत और पाकिस्तान के बीच अहम बातचीत, सीजफायर के लिए बनी सहमति (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • भारत और पाकिस्तान के बीच सीजफायर पर बनी सहमति
  • दोनों पक्षों ने LoC के साथ सभी प्रभावी क्षेत्रों में कड़ाई से सीजफायर का पालन करने पर सहमति जताई
  • भारतीय सेना ने कहा कि वे किसी भी स्थिति से निपटने और खतरे को कम करने के लिए तैयार हैं

नई दिल्ली:

भारत और पाकिस्तान (India and Pakistan) के सैन्य अभियान के निदेशक जनरलों के बीच गुरुवार को हॉटलाइन संपर्क के स्थापित तंत्र पर अहम बातचीत हुई. दोनों देशों ने LoC और अन्य सभी क्षेत्रों में स्वतंत्र, स्पष्ट और सौहार्दपूर्ण वातावरण में मौजूदा परिस्थितियों की समीक्षा की. सीमाओं के साथ पारस्परिक रूप से लाभप्रद और स्थायी शांति प्राप्त करने के हित में, दोनों DGsMO एक-दूसरे के प्रमुख मुद्दों और चिंताओं पर ध्यान देने के लिए सहमत हुए. इनमें शांति भंग करने और हिंसा को बढ़ावा देने की प्रवृत्ति शामिल है. दोनों पक्षों ने LoC के साथ सभी प्रभावी क्षेत्रों में 24/25 फरवरी से कड़ाई के साथ समझौतों, समझ और संघर्ष विराम के पालन के लिए सहमति व्यक्त की है.

ये भी पढ़ें- HC में सरकार का जवाब दाखिल- समलैंगिक वैवाहिक संबंधों को मान्यता देने से इनकार

इसके साथ ही दोनों देशों ने अपने साझा बयान में दोहराया कि किसी भी अप्रत्याशित स्थिति या गलतफहमी को हल करने के लिए हॉटलाइन संपर्क और बॉर्डर फ्लैग मीटिंग के मौजूदा तंत्र का उपयोग किया जाएगा. भारतीय सेना के अधिकारियों ने कहा कि 22 फरवरी को भारत और पाकिस्तान के सैन्य अभियानों के निदेशक जनरलों के बीच हॉटलाइन पर बातचीत के दौरान युद्धविराम को लागू करने को लेकर बातचीत हुई थी.

ये भी पढ़ें- आजम खान पर योगी सरकार की एक और कार्रवाई, लोकतंत्र सेनानी पेंशन पर लगाई रोक

चीन सीमा पर बनी मौजूदा स्थिति की वजह से भारत और पाकिस्तान के साथ युद्ध विराम के लिए सहमति के सवाल पर सेना ने कहा कि पश्चिमी सीमाओं पर नियंत्रण रेखा के साथ-साथ उत्तरी सीमाओं पर स्थिति का कोई असर नहीं है। सभी चुनौतियों को पूरा करने के लिए तैयार सेना, खतरों को कम करने के लिए तैयार है. अतीत में शांति प्रक्रिया या तो आतंक या पाक सेना की हरकतों के कारण पटरी से उतर गई थी. हम हमेशा किसी भी मिशन को पूरा करने के लिए हमेशा तैयार रहते हैं। लेकिन, हम सतर्क आशावादी बने हुए हैं.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 25 Feb 2021, 04:13:37 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.