News Nation Logo

हेलीकॉप्टर क्रैश में नहीं छूटेगा कोई एंगल, जांच पर बोले IAF चीफ वीआर चौधरी

वायुसेना प्रमुख चौधरी ने कहा कि मैं कोर्ट ऑफ इनक्वायरी में सामने आए किसी भी जानकारी को अभी नहीं बता सकता, क्योंकि अभी प्रक्रिया जारी है. एयर मार्शल मानवेंद्र सिंह इस मामले की हर एंगल से जांच कर रहे हैं. एयर मार्शल सिंह बेहद  बारीकी से जांच कर रहे है

News Nation Bureau | Edited By : Keshav Kumar | Updated on: 18 Dec 2021, 03:10:36 PM
cap

एयर चीफ मार्शल विवेक राम चौधरी (Photo Credit: ANI )

highlights

  • हेलीकॉप्‍टर क्रैश के बाद अब सेना के VVIP प्रोटोकॉल्‍स की भी समीक्षा की जाएगी
  • हेलीकॉप्‍टर क्रैश के वजहों की हर एंगल से जांच की जा रही है- वायुसेना प्रमुख
  • एयर मार्शल मानवेंद्र सिंह बारीकी से जांच कर रहे हैं कि आखिर हादसा कैसे हुआ

 

New Delhi:  

तमिलनाडु के कुन्नुर में CDS बिपिन रावत के हेलीकॉप्टर क्रैश की कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी लगातार जारी है. इस हादसे में सीडीएस जनरल रावत और उनकी पत्नी समेत 14 अधिकारियों की मौत के कारणों का पता करने के लिए रक्षा मंत्रालय की ओर से गठित त्रिकोणीय सेवाओं ( Tri Service Inquiry) की जांच अगले दो सप्ताह के भीतर पूरी हो सकती है. वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल विवेक राम चौधरी ने शनिवार को कहा कि इस हादसे के वजहों की हर एंगल से जांच की जा रही है. डुंडीगल में वायु सेना अकादमी (IAF Academy) में कम्बाइंड ग्रेजुएशन परेड के बाद वायुसेना प्रमुख ने कहा कि कुछ हफ्तों में हेलीकॉप्टर क्रैश की जांच हो जाएगी. उन्होंने कहा कि  काफी संवेदनशील होने की वजह से इस जांच के बारे में अभी कुछ भी नहीं कहा जा सकता है. 

हेलीकॉप्‍टर क्रैश में सबसे बड़े नेतृत्‍व को खोने के बाद अब सेना के VVIP प्रोटोकॉल्‍स की भी समीक्षा की जाएगी. एयर चीफ मार्शल विवेक राम चौधरी ने कहा कि जरूरत पड़ने पर प्रोटोकॉल में बदलाव होगा. उन्‍होंने कहा कि हेलीकॉप्‍टर क्रैश की कोर्ट ऑफ इंक्‍वायरी में पता चल जाएगा कि क्‍या गड़बड़ हुई और फिर उसी के आधार पर फाइंडिंग्‍स और सिफारिशें रखी जाएंगी. वायुसेना प्रमुख चौधरी ने कहा कि मैं कोर्ट ऑफ इनक्वायरी में सामने आए किसी भी जानकारी को अभी नहीं बता सकता, क्योंकि अभी प्रक्रिया जारी है. एयर मार्शल मानवेंद्र सिंह इस मामले की हर एंगल से जांच कर रहे हैं. एयर मार्शल सिंह बेहद  बारीकी से जांच कर रहे हैं कि आखिर यह हादसा कैसे हुआ?

लगातार शक्तिशाली हो रही हमारी वायुसेना

इससे पहले एयर चीफ मार्शल विवेक राम चौधरी ने अकादमी में परेड को संबोधित करते हुए कहा कि युद्ध की प्रकृति में मूलभूत परिवर्तन हो रहे हैं. भारत के सुरक्षा परिदृश्य में बहुआयामी खतरे एवं चुनौतियां शामिल हैं. इनके लिए कई क्षेत्रों में क्षमता निर्माण की आवश्यकता होगी. उन्होंने कहा कि वायु सेना राफेल विमान, अपाचे हेलीकॉप्टर और व्यापक अत्याधुनिक प्रणालियों को शामिल करके एक अत्यधिक शक्तिशाली वायु सेना में बदल रही है.  हमें हमारे सभी अभियानों को एक साथ और कम समय में पूरा करना होगा.

ये भी पढ़ें - CDS रावत के उत्‍तराधिकारी की तलाश... रक्षा मंत्री को जल्‍द सौंपी जाएगी लिस्‍ट

वायुसेना प्रमुख ने तमिलनाडु हेलीकॉप्टर हादसे में भदेश  के पहले सीडीएस जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी मधुलिका रावत और सशस्त्र बल के 12 अधिकारियों के असमय निधन पर शोक जताते हुए कहा कि इस दुर्घटना के मद्देनजर परेड के दौरान कई कार्यक्रमों को आयोजित नहीं करने का फैसला किया गया. इससे पहले कार्यकारी सीडीएस और आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे ने भी कहा था कि जांच में अगर कोई साजिश सामने आई तो दुनिया को उसका अंजाम देखने के लिए तैयार रहना होगा.

सरकारी सूत्रों का दावा- दो हफ्ते में पूरी होगी जांच

दूसरी ओर सरकारी सूत्रों से ये बात सामने आई है कि जांच दल गवाहों के बयान दर्ज कर रहा है, जिसमें तमिलनाडु के नीलगिरी जिले में दुर्घटनास्थल के पास घटनास्थल पर मौजूद लोग शामिल हैं. टीम के अगले दो सप्ताह में अपनी कार्यवाही पूरी करने की उम्मीद है. घटना के अगले ही दिन जांच टीमों ने अपना काम शुरू कर दिया था. उन्होंने कहा कि बयान दर्ज किए जा रहे हैं. एक या दो मामलों में कुछ लोगों ने घटनाओं का लेखा-जोखा बदल दिया है.

First Published : 18 Dec 2021, 02:22:42 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.