News Nation Logo

राहुल गांधी ने कहा- मैं कांग्रेस अध्‍यक्ष नहीं हूं, सोनिया गांधी से मिले अशाेक गहलोत

लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद राहुल गांधी ने बुधवार को बड़ा बयान दिया है. राहुल गांधी ने कहा, अब मैं कांग्रेस अध्‍यक्ष नहीं हूं. मैं पार्टी अध्‍यक्ष पद से इस्‍तीफा दे चुका हूं.

News Nation Bureau | Edited By : Sunil Mishra | Updated on: 03 Jul 2019, 04:03:20 PM
राहुल गांधी (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली:  

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections 2019) में करारी हार के बाद राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने बुधवार को बड़ा बयान दिया है. राहुल गांधी ने कहा, अब मैं कांग्रेस अध्‍यक्ष नहीं हूं. मैं पार्टी अध्‍यक्ष पद से इस्‍तीफा दे चुका हूं. कांग्रेस अध्‍यक्ष जल्‍द ही चुना जाना चाहिए. उन्‍होंने कहा, कांग्रेस कार्यसमिति (Congress Working Committee) की बैठक बुलाकर नए अध्‍यक्ष का चुनाव होना चाहिए. उन्‍होंने यह भी कहा कि कार्यसमिति की बैठक कब हो, सदस्‍य जल्‍द ही इस पर फैसला लें. उधर कांग्रेस में नेतृत्‍व संकट के बीच राजस्‍थान के मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को सोनिया गांधी से मुलाकात की.

बता दें कि लोकसभा चुनावों में मिली करारी हार के बाद 25 मई को कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने अपने इस्‍तीफे की पेशकश की थी, लेकिन सदस्‍यों ने इसे नामंजूर कर दिया था. हालांकि राहुल गांधी अपने फैसले पर अडिग रहे. अब एक महीने से अधिक समय बाद उन्‍होंने एक बार फिर यह बड़ी बात कही है. इससे अब तय हो गया है कि जल्‍द ही कांग्रेस को नया अध्‍यक्ष मिल जाएगा, जो गांधी परिवार से नहीं होगा.

लोकसभा चुनाव में निराशाजनक प्रदर्शन के बाद कांग्रेस में नेतृत्व संकट के बीच, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को संयुक्त प्रगतिशील गठंबधन (सप्रंग) अध्यक्ष व पार्टी की वरिष्ठ नेता सोनिया गांधी से उनके आवास पर मुलाकात की. पार्टी सूत्रों ने बताया कि सोनिया गांधी के साथ गहलोत की मुलाकात 40 मिनट से ज्यादा चली. राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, 2019 लोकसभा चुनाव में पार्टी की हार के लिए मैं जिम्मेदार हूं. पार्टी के भविष्य के लिए जवाबदेही महत्वपूर्ण है. इस कारण मैंने कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है.

यह भी पढ़ें : मोस्‍ट वांटेड दाऊद इब्राहिम के बारे में अमेरिका से आई सबसे बड़ी जानकारी, पढ़ें पूरी खबर

कांग्रेस के पांचों मुख्यमंत्रियों के सोमवार को राहुल गांधी से मुलाकात कर उन्हें कांग्रेस प्रमुख पद पर बने रहने का आग्रह करने के दो दिन बाद गहलोत ने सोनिया से मुलाकात की है. हालांकि, राहुल गांधी ने मुख्यमंत्रियों की मांगों को खारिज कर दिया है और उन्हें नए पार्टी अध्यक्ष की तलाश करने को कहा है.

यह भी पढ़ें : जयपुर-दिल्ली हाईवे पर 100 करोड़ रुपए की 64 बेनामी संपत्तियां अटैच

राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव में पार्टी के बेहद खराब प्रदर्शन के बाद 25 मई को कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने की पेशकश की. कांग्रेस ने चुनाव में महज 52 सीटें जीती। राहुल खुद अपने गढ़ उत्तर प्रदेश के अमेठी में हार गए लेकिन केरल के वायनाड से जीतकर संसद पहुंचने में कामयाब रहे.

First Published : 03 Jul 2019, 02:35:18 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.