News Nation Logo
Banner

हैदराबाद निगम चुनाव में अमित शाह, नड्डा और योगी बनाएंगे माहौल

ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव में भाजपा ने धुआंधार चुनाव प्रचार अभियान शुरू किया है. भाजपा के लगभग सभी बड़े दिग्गज इस चुनाव में उतरने जा रहे हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 27 Nov 2020, 07:42:51 AM
Amit Shah JP Nadda Yogi Adityanath

बीजेपी ने हैदराबाद निगम चुनाव को बनाया प्रतिष्ठा का सवाल. (Photo Credit: न्यूज नेशन.)

नई दिल्ली:

तेलंगाना के ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव में भाजपा ने धुआंधार चुनाव प्रचार अभियान शुरू किया है. भाजपा के लगभग सभी बड़े दिग्गज इस चुनाव में उतरने जा रहे हैं. राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा शुक्रवार से इस आक्रामक कैंपेनिंग की शुरूआत करने जा रहे हैं. वह हैदराबाद में रोड शो करेंगे और फिर बुद्धिजीवियों से संवाद करेंगे. राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के दौरे के अगले दिन उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हैदराबाद पहुंचेंगे. योगी आदित्यनाथ से भी हैदराबाद में रोड शो कराने की तैयारी है. योगी आदित्यनाथ अपने आक्रामक तेवर और तीखे बयानों के लिए जाने जाते हैं. उनके बयानों से हैदराबाद नगर निगम चुनाव में भाजपा के लिए वोटों का ध्रुवीकरण हो सकता है. भाजपा इस बार ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव जीतने के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगा रही है.

पार्टी सूत्रों का कहना है कि दो बड़े नेताओं का दौरा निपटने के बाद 29 नवंबर को गृहमंत्री अमित शाह भी नगर निगम चुनाव के मैदान में उतरेंगे. पार्टी का मानना है कि गृहमंत्री अमित शाह का दौरा कार्यकर्ताओं में जोश भरेगा. इससे पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर और स्मृति ईरानी हैदराबाद में पहुंचकर भाजपा के पक्ष में माहौल बनाने की कोशिश कर चुके हैं. प्रकाश जावडेकर ने तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव की सरकार के खिलाफ कई आरोप लगाए थे. स्मृति ईरानी भी राज्य की सरकार पर हमलावर रहीं.

भाजपा के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने कहा, 'बिहार में एनडीए को चुनाव जिताने में अहम भूमिका निभाने वाले राष्ट्रीय महासचिव भूपेंद्र यादव को ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव का प्रभारी बनाकर भाजपा ने पहले ही अपने इरादे साफ कर दिए थे कि वह इस चुनाव को बहुत गंभीरता से ले रही है.' बता दें कि ग्रेटर हैदराबाद म्युनिसिपल कार्पोरेशन की कुल 150 निकाय सीटों के लिए एक दिसंबर को मतदान होगा. पिछली बार हुए चुनाव में 99 सीटें जीतकर राज्य की सत्ताधारी तेलंगाना राष्ट्रीय समिति (टीआरएस) ने मेयर पद पर कब्जा जमाया था. तब भाजपा को सिर्फ चार और ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम को 44 सीटें मिलीं थीं.

First Published : 27 Nov 2020, 07:42:51 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.