News Nation Logo
Banner

कोरोना वायरस से कैसे निपटना है, G-20 के शीर्ष नेताओं को बताएंगे पीएम नरेंद्र मोदी

सऊदी अरब के सुलतान सलमान बिन अब्दुल अजीज अल साऊद जी-20 देशों के आपातकालीन शिखर सम्मेलन की अध्यक्षता करेंगे. यह सम्मेलन बृहस्पतिवार को वीडियो कांफ्रेन्सिंग के जरिये होगा.

Bhasha | Updated on: 25 Mar 2020, 03:12:22 PM
Narendra Modi

कोरोना वायरस से कैसे निपटें, G-20 के शीर्ष नेताओं को बताएंगे पीएम मोदी (Photo Credit: ANI Twitter)

दिल्ली:

सऊदी अरब के सुलतान सलमान बिन अब्दुल अजीज अल साऊद जी-20 देशों के आपातकालीन शिखर सम्मेलन की अध्यक्षता करेंगे. यह सम्मेलन बृहस्पतिवार को वीडियो कांफ्रेन्सिंग के जरिये होगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) समेत दुनिया के अन्य शीर्ष नेता इसमें शामिल होंगे. बैठक में कोरोना वायरस (Corona Virus) महामारी से निपटने के समन्वित उपायों पर चर्चा होगी. इस वायरस के करण अबतक करीब 19,000 लोगों की जा चुकी है जनजीवन और कारोबार पूरी तरह ठप है.

यह भी पढ़ें : कोरोना संकट के बहाने कांग्रेस को फिर याद आई ‘न्याय’ योजना, कही यह बड़ी बात

फिलहाल जी-20 की अध्यक्षता कर रहे सऊदी अरब (Saudi Arabia) ने पिछले सप्ताह वीडियो कांफ्रेन्सिंग के जरिये जी-20 शिखर सम्मेलन आयोजित करने का आह्वान किया. उसने यह आह्वान ऐसे समय किया है इस वैश्विक संकट से निपटने को लेकर समूह की बड़ी अर्थव्यवस्था वाले देशों तेजी से कदम नहीं उठाये जाने को लेकर आलोचना हो रही है. बुधवार को जारी आधिकारिक बयान के अनुसार, ‘‘जी-20 (G-20) के अध्यक्ष सऊदी अरब ने 26 मार्च बृहस्पतिवार को समूह की वीडियो कांफ्रन्सिंग के जरिये असाधारण बैठक बुलायी है. सुलतान सलमान बिन अब्दुल अजीज अल साऊद बैठक की अध्यक्षता करेंगे.

यह बैठक कोरोना वायरस महामारी और उसके मानवीय और आर्थिक प्रभाव से निपेटने को लेकर समन्वित उपायों पर विचार करेगा.’’ इटली, स्पेन, जार्डन, सिंगापुर और स्विट्जरलैंड जैसे जी-20 में शामिल कोरोना वायरस से प्रभावित देशों के प्रतिनिधि इसमें शामिल होंगे. संयुक्त राष्ट्र, विश्वबैंक, विश्व स्वास्थ्य संगठन, विश्व वपार संगठन, अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष और आर्थिक सहयोग एवं विकास संगठन जैसे शीर्ष अंतरराष्ट्रीय संगठन भी इसमें शामिल होंगे.

यह भी पढ़ें : 9,00,00,00,00,00,000 रुपये ले डूबेगा कोरोना वायरस का लॉकडाउन

बैठक में आसियान (दक्षिण पूर्व एशियाई देशों के संगठन), अफ्रीकी संघ, खाड़ी सहयोग परिषद और अफ्रीका के विकास के लिये नई भागीदारी (एनईपीएडी) जैसे क्षेत्रीय संगठनों के प्रतिनिधि भी शामिल होंगे. जी-20 में भारत के अलावा, अर्जेन्टीना, आस्ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा, चीन, जर्मनी, फ्रांस, इंडोनेशिया, इटली, जापान, मेक्सिको, रूस, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, दक्षिण कोरिया, तुर्की, ब्रिटेन और अमेरिका शामिल हैं.

सूत्रों ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस सम्मेलन में शामिल होंगे. रूस के राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन भी इसमें शामिल होंगे. कोरोना वायरस के कारण दुनिया भर में अबतक 18,915 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 4,22,900 लोग संक्रमित हैं.

First Published : 25 Mar 2020, 03:12:22 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×