News Nation Logo

उच्चस्तरीय बैठक के बाद राजनाथ ने दिए जम्मू-कश्मीर के हालात सुधारने के निर्देश, एंटी नक्सल ऑपरेशन पर भी हुई चर्चा

जम्मू-कश्मीर में बिगड़ते हालात और सुकमा नक्सली हमले को लेकर गृह मंत्री राजनाथ सिंह के घर पर उच्चस्तरीय बैठक जारी है।

News Nation Bureau | Edited By : Abhishek Parashar | Updated on: 01 May 2017, 01:43:28 PM
गृह मंत्री राजनाथ सिंह के घर उच्चस्तरीय बैठक जारी (फाइल फोटो)

highlights

  • जम्मू-कश्मीर में बिगड़ते हालात और सुकमा नक्सली हमले को लेकर गृह मंत्री राजनाथ सिंह के घर पर उच्चस्तरीय बैठक जारी है
  • गृह मंत्री के घर पर जारी बैठक में गृह सचिव, सीआरपीएफ के डीजी, आईबी चीफ और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार मौजूद हैं

New Delhi:

जम्मू-कश्मीर में बिगड़ते हालात और सुकमा नक्सली हमले को लेकर हुई बैठक के बाद गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने जम्मू-कश्मीर के हालात को जल्द सुधारे जाने का आदेश दिया है। इसके साथ ही एंटी नक्सल ऑपरेशन को लेकर भी चर्चा की गई।

गृह मंत्री राजनाथ सिंह के घर पर उच्चस्तरीय बैठक में गृह सचिव, सीआरपीएफ के डीजी, आईबी चीफ और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार मौजूद थे। 

छत्तीसगढ़ के सुकमा में हुए नक्सली हमले में सीआरपीएफ के 25 जवान मारे गए थे, जिसके बाद गृह मंत्रालय ने आपात बैठक बुलाई थी। सरकार साफ कर चुकी है कि वह नक्सलियों के खिलाफ अपनी रणनीति को बदलने जा रही है।

इसी रणनीति के तहत सरकार ने अब नक्सलियों को उनके ही मांद में घुसकर मुंहतोड़ जवाब देने का फैसला किया है। इस संबंध में 2 मई को राज्य के आला अधिकारियों की बैठक बुलाई गई है, जिसे राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संबोधित करेंगे।

बस्तर संभाग के आईजी विवेकानंद सिन्हा ने कहा, 'नक्सलियों के खिलाफ पलटवार और नई रणनीति के लिए 2 मई को राजधानी रायपुर में आला अधिकारियों की बैठक बुलाई गई है। इस बैठक में विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल भी मौजूद होंगे।'

इसे भी पढ़ेंः पाकिस्तान ने किया सीजफायर का उल्लंघन, दो जवान शहीद

सुकमा हमले के बाद नक्सलियों के खिलाफ कार्रवाई को तेज करने के लिए केंद्रीय गृह मंत्रालय में नक्सल मामलों के सलाहकार विजय कुमार ने सुकमा और डीजी नक्सल ऑपरेशन डीएम अवस्थी ने बीजापुर में डेरा डाल दिया है।

बस्तर संभाग के आईजी विवेकानंद सिन्हा ने कहा, 'नक्सलियों के खिलाफ पलटवार और नई रणनीति के लिए दो मई को राजधानी रायपुर में आला अधिकारियों की बैठक बुलाई गई है। इस बैठक में वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल भी मौजूद होंगे।'

वहीं दूसरी तरफ कश्मीर में जारी हालात को लेकर भी सरकार बेहद चिंतित है। हाल ही में जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती दिल्ली आई थीं, जहां उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री के साथ मुलाकात की थी।

इसे भी पढ़ेंः फेलोशिप और स्कॉलरशिप के लिए आधार नंबर देना होगा अनिवार्य, 30 जून है आखिरी तारीख

गृह मंत्री से मुलाकात के बाद मुफ्ती ने कहा था कि अगले दो से तीन महीनों में घाटी के हालात सामान्य हो जाएंगे। हिजबुल मुजाहिद्दी ने कमांडर बुरहान वानी की मुठभेड़ में हुई मौत के बाद से घाटी में हालात बेहत तनावपूर्ण है।

हाल ही में श्रीनगर लोकसभा सीट पर हुए उपचुनाव में हुई हिंसा में 8 लोग मारे गए हैं और इसके बाद घाटी में पत्थरबाजी की घटनाओं में भी बढ़ोतरी हुई है। हिंसा और विस्फोटक हालात की वजह से चुनाव आयोग अनंतनाग सीट पर होने वाले उपचुनाव को टाल चुकी है।

इसे भी पढ़ेंः दिल्ली के मियांवाली इलाके में गैंगवार, एक पुलिसवाले समेत 3 की मौत, एक कॉन्स्टेबल घायल

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 01 May 2017, 12:23:00 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.