News Nation Logo

रायपुर में आदिवासी नृत्य महोत्सव का हेमंत सोरेन ने किया उद्घाटन, कहा- यह आदिवासियों के सम्मान का उत्सव

रायपुर में आदिवासी नृत्य महोत्सव का हेमंत सोरेन ने किया उद्घाटन, कहा- यह आदिवासियों के सम्मान का उत्सव

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 28 Oct 2021, 07:50:01 PM
Hemant Soren

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

रायपुर/रांची: झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने गुरुवार को छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में शुरू हुए आदिवासी नृत्य महोत्सव और राज्योत्सव 2021 का बतौर मुख्य अतिथि उद्घाटन किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि यह सिर्फ नृत्य महोत्सव नहीं, बल्कि ऐसे वर्गों के लिए सम्मान है जो शैक्षणिक, सामाजिक और आर्थिक रूप से पिछड़े रहे हैं। यह पूरी दुनिया के लिए संदेश है कि अगर हम चाहें तो आदिवासी समाज वर्ग सबके साथ कदम से कदम मिला कर चल सकता है।

हेमंत सोरेन ने इस आयोजन में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का आभार जताते हुए कहा कि आदिवासी नृत्य महोत्सव का कार्यक्रम अपने आप में अनूठा है। जनजातीय समाज अपनी सभ्यता, संस्कृति और परंपरा को बचाने में संघर्षरत हैं। ऐसे में इस कार्यक्रम से जनजाति वर्ग को एक ऊर्जा मिलेगी और वे अपनी सभ्यता एवं संस्कृति को अक्षुण रख सकेंगे। साथ ही, परिसर में आयोजित मेला में इन वर्गों की अद्भुत आंतरिक क्षमता भी देखने को मिलेगी।

रायपुर के साइंस कॉलेज मैदान में शुरू हुए राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव में सात देशों के नर्तक दल सहित देश के 27 राज्यों तथा छह केन्द्र शासित प्रदेशों के 59 आदिवासी नर्तक दल शामिल हो रहे हैं। महोत्सव में श्रीलंका, उज्बेकिस्तान, स्वाजीलैण्ड, नाइजीरिया, मालदीव और युगांडा के नर्तक दल भी भाग लेने पहुंचे हैं। इनके बीच विवाह संस्कार, पारंपरिक त्योहार, अनुष्ठान, फसल कटाई, कृषि एवं अन्य पारंपरिक विधाओं पर नृत्य प्रतियोगिता का आयोजन होगा। प्रतियोगिता में झारखण्ड की ओर से विवाह संस्कार की विधा के तहत कड़सा, फसल कटाई के तहत उरांव एवं छऊ नृत्य की प्रस्तुति आदिवासी समुदाय के कलाकार करेंगे।

नर्तक दलों को कुल 20 लाख रुपए की पुरस्कार राशि, प्रमाण पत्र और ट्रॉफी प्रदान की जाएगी। प्रत्येक विधा में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले दल को पांच लाख रुपए, द्वितीय स्थान प्राप्त करने वाले दल को तीन लाख रुपए तथा तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले दल को दो लाख रुपए की पुरस्कार राशि से सम्मानित किया जाएगा।

महोत्सव के शुरुआत के मौके पर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, छत्तीसगढ़ के विधानसभा अध्यक्ष चरणदास महंत, संस्कृति मंत्री श्री अमरजीत भगत भी उपस्थित रहे।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 28 Oct 2021, 07:50:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.