News Nation Logo

हरसिमरत कौर ने सिख विरोधी दंगों के लिए राजीव गांधी को दोषी ठहराया, दिग्विजय सिंह ने दिया ये जवाब

Bhasha | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 05 Dec 2019, 10:38:26 PM
राजीव गांधी

देवास:  

केन्द्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री हरसिमरत कौर (Harsimrat Kaur)  बादल ने वर्ष 1984 में हुए सिख विरोधी दंगों के लिए गुरुवार को पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी (Rajiv gandhi) को दोषी ठहराया और कहा कि इसके लिए गांधी परिवार को माफी मांगनी चाहिए. हरसिमरत ने यहां एक कार्यक्रम में भाग लेने के बाद संवादाताओं से कहा, ‘1984 का सिख कत्लेआम भारत मां के दामन पर काला दाग हैं. इसके जिम्मेदार राजीव गांधी हैं, जिन्होंने सेना को रोके रखा. इसके लिए गांधी परिवार को माफी मांगनी चाहिए.'

इस कार्यक्रम में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh), भाजपा के महासचिव कैलाश विजयवर्गीय और केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग राज्य मंत्री रामेश्वर तेली भी उपस्थित थे. वहीं, हरसिमरत के इस बयान के बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने कहा कि शायद उन्हें (हरसिमरत) जानकारी नहीं है कि सोनिया गांधी इस संबंध में पूर्व में माफी मांग चुकी है.

इसे भी पढ़ें:Ayodhya Case: सुप्रीम कोर्ट में इस दिन पुनर्विचार याचिकाएं दाखिल करेगा मुस्लिम लॉ बोर्ड

दरअसल पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने 1984 के सिख विरोधी दंगों को लेकर बयान दिया है कि जब 84 के दंगे हुए तो इंद्र कुमार गुजराल उस वक्त के गृह मंत्री नरसिम्हा राव के पास गए और उनसे कहा कि स्थिति बहुत नाजुक है. ऐसे में सरकार जितनी जल्दी सेना को बुला ले, उतना ठीक होगा. अगर वह सलाह मान ली गई होती तो 84 में हुए नरसंहार को रोका जा सकता था. दिग्विजय ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने बयान किस संदर्भ में दिया, इसकी उन्हें जानकारी नहीं है. इस कार्यक्रम में हरसिमरत कौर बादल ने मध्यप्रदेश के पहले स्टील साइलो युक्त 52 एकड़ में फैले अवंति मेगा फूड पार्क का उद्घाटन भी किया.

First Published : 05 Dec 2019, 10:38:26 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.