logo-image
लोकसभा चुनाव

बांग्लादेश जा रहे 15 म्यांमार रोहिंग्या असम में गिरफ्तार

बांग्लादेश जा रहे 15 म्यांमार रोहिंग्या असम में गिरफ्तार

Updated on: 25 Jul 2021, 01:10 AM

सिलचर (असम):

म्यांमार के तीन रोहिंग्याओं, जिनमें तीन महिलाएं और छह बच्चे शामिल हैं, को शनिवार को दक्षिणी असम में उस समय गिरफ्तार किया गया, जब वे ट्रेन से उत्तर प्रदेश से त्रिपुरा जा रहे थे। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

अधिकारियों ने कहा कि रोहिंग्या त्रिपुरा के रास्ते बांग्लादेश वापस जाने की कोशिश कर रहे थे, जो बांग्लादेश के साथ 856 किलोमीटर की सीमा साझा करता है।

रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) के जवानों ने 15 रोहिंग्याओं को दक्षिणी असम के करीमगंज जिले के बदरपुर रेलवे स्टेशन पर हिरासत में लिया, जब वे उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ से आ रहे थे और त्रिपुरा जाने वाली ट्रेन पकड़ने की कोशिश कर रहे थे।

आरपीएफ कर्मियों ने उन्हें राजकीय रेलवे पुलिस (जीआरपी) को सौंप दिया।

जीआरपी के एक अधिकारी ने कहा कि प्रारंभिक पूछताछ के बाद रोहिंग्याओं ने कबूल किया कि वे कुछ महीने पहले उत्तर प्रदेश गए थे और नौकरी की तलाश में अलग-अलग शहरों में रहे।

दक्षिण-पूर्व बांग्लादेश में शरणार्थी शिविरों से रोहिंग्या अक्सर नौकरी की तलाश में भारत के पूर्वोत्तर राज्यों में अवैध रूप से प्रवेश करते हैं या मानव तस्करी में फंस जाते हैं।

बॉर्डर गार्ड बांग्लादेश (बीजीबी) के अधिकारियों ने कहा है कि रोहिंग्या शरणार्थी एक बड़ी समस्या हैं और जब तक वे म्यांमार नहीं लौटेंगे, समस्या भारत, बांग्लादेश और अन्य देशों के लिए बनी रहेगी।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.