News Nation Logo
Banner

ज्ञानवापी मस्जिद सर्वे पर BJP ने ओवैसी- मुफ्ती को इतिहास पढ़ने का दिया सुझाव

उत्तर प्रदेश के वाराणसी की ज्ञानवापी मस्जिद सर्वे का काम तीसरे दिन सोमवार को पूरा हो गया है. हिंदू पक्ष का दावा है कि नंदी के मुख के सामने मस्जिद के वजू खाने से 12 फीट 8 इंच का शिवलिंग प्राप्त हुआ है.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 16 May 2022, 08:07:51 PM
owaisis

ज्ञानवापी मस्जिद पर BJP ने ओवैसी- मुफ्ती को इतिहास पढ़ने का दिया सुझाव (Photo Credit: File Photo)

नई दिल्ली:  

उत्तर प्रदेश के वाराणसी की ज्ञानवापी मस्जिद सर्वे का काम तीसरे दिन सोमवार को पूरा हो गया है. हिंदू पक्ष का दावा है कि नंदी के मुख के सामने मस्जिद के वजू खाने से 12 फीट 8 इंच का शिवलिंग प्राप्त हुआ है. इस पर कोर्ट ने शिवलिंग वाले एरिया को पूरी तरह से सील करने का आदेश दिया था. इसके बाद जिला प्रशासन की टीम ने देर शाम को वजू खाने वाले एरिया को सील कर दिया है. ज्ञानवापी मस्जिद मुद्दे पर केंद्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखी ने असदुद्दीन ओवैसी और महबूबा मुफ्ती पर निशाना साधा है. 

केंद्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखी ने कहा कि मैं उनसे (असदुद्दीन ओवैसी और महबूबा मुफ्ती) शांति और भाईचारा बनाए रखने के लिए कहना चाहता हूं और फिर से उन्हें इतिहास पढ़ने का सुझाव देना चाहता हूं. कोर्ट में मामला है, उन्हें हस्तक्षेप नहीं करना चाहिए और पर्यावरण को परेशान नहीं करना चाहिए.

आपको बता दें कि इससे पहले ज्ञानवापी मस्जिद में शिवलिंग मिलने के हिंदू पक्ष के दावों के बीच एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी ने अदालत के उस आदेश की निंदा की है, जिसमें सर्वेक्षण में शिवलिंग की खोज की जगह को सील करने का निर्देश दिया गया है. ओवैसी ने ट्वीट किया कि यह बाबरी मस्जिद में दिसंबर, 1949 में हुए वाकये का दोहराव है. यह आदेश ही मस्जिद के धार्मिक स्वरूप को बदल देता है. यह 1991 के अधिनियम का उल्लंघन है. ऐसी मेरी आशंका थी और अब यह सच हो गया है. ज्ञानवापी मस्जिद थी और रहेगी, फैसले के दिन तक मस्जिद रहेगी. इंशाअल्लाह!

इससे पहले ज्ञानवापी मस्जिद सर्वे को लेकर PDP चीफ महबूबा मुफ्ती ने कहा था कि हो सकता है कि इनको भगवान मस्जिद में ही मिलता है. उन्होंने सवाल करते हुए पूछा कि ज्ञानव्यापी मस्जिद के पीछे पड़े हैं, क्या इसके बाद सब बंद हो जाएगा? यहां माहौल बदलने की जरूरत है. हिन्दू-मुस्लिम मिलकर एक साथ रहे, लोग प्रदर्शन नहीं कर रहे हैं, क्योंकि उनको लग रहा है हम प्रदर्शन करेंगे तो हमारे ऊपर मुकदमा दर्ज करेंगे. 

First Published : 16 May 2022, 08:07:51 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.