News Nation Logo

अाम आदमी के ''उड़ान'' की हसरत होगी पूरी, 2500 रुपये में कर सकेंगे हवाई यात्रा

इसका उद्देश्य घरेलू विमानन क्षेत्र को प्रोत्साहन देना है

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Kumar | Updated on: 21 Oct 2016, 01:13:27 PM
Image source- Getty Image

नई दिल्ली:

केन्द्र सरकार ने आम नागरिकों को कम दाम में हवाई यात्रा की सुविधा देने के लिए योजना उड़ान की घोषणा कर दी है। उड़ान योजना के तहत अब आम आदमी महज़ 2,500 रुपये में विमान यात्रा कर सकेगा।

सरकार अपनी महत्वाकांक्षी क्षेत्रीय संपर्क योजना उड़ान 'उदय देश का आम आदमी' को 'पंख' देने जा रही है। सरकार ने 1 जुलाई को इस योजना का मसौदा पेश किया था। इसके तहत एक घंटे की उड़ानों के लिए किराया दर 2,500 रुपये होगी। 

इस योजना के ज़रिये टिकट मूल्य की सीमा तय करने के अलावा आम लोगों के लिए विमान सेवाएं उपलब्ध कराना है। इसका उद्देश्य घरेलू विमानन क्षेत्र को प्रोत्साहन देना है। सरकार को उम्मीद है कि क्षेत्रीय संपर्क योजना (आरसीएस) के तहत पहली उड़ान सेवा इस साल के अंत या जनवरी, 2017 में शुरू होगी।

योजना का लक्ष्य गैर सेवा या कम सेवा वाले क्षेत्रों के बीच हवाई सेवाएं उपलब्ध कराना है। देश में अभी 394 हवाई अड्डे ऐसे हैं जहां विमान की सुविधा नहीं है। वहीं 16 अड्डों पर बेहद कम सेवाएं उपलब्ध हैं।

एविएशन मंत्रालय ने कहा, 'हम इस स्कीम के तहत ऐसे प्लान पर काम कर रहे हैं जो लोगों को कम कीमत में बेहतर सुविधाएं दे सके और मार्केट बेस्ड मेकेनिज़्म के तहत हम ऐसा कर पाएंगे।
4 साल में हम 50 से ज़्यादा एयरपोर्ट्स को शुरू करने जा रहे हैं, इसमें केंद्र सरकार, राज्य सरकार और एयरपोर्ट अथॉरिटी सपोर्ट करेगी। इसमें अगले 3 साल तक के लिए एक्साइज ड्यूटी और एटीएफ पर 2 फ़ीसदी की छूट दी जाएगी।

योजना की महत्वपूर्ण बातें

  • उड़ान योजना के तहत अब आम आदमी महज़ 2,500 रुपये में विमान यात्रा कर सकेगा।
  • सरकार ने 1 जुलाई को इस योजना का मसौदा पेश किया था।
  • इसके तहत एक घंटे की उड़ानों के लिए किराया दर 2,500 रुपये होगी।
  • 40% सब्सिडी सीट्स और 50% मार्केट बेस्ड सीट्स होंगी।
  • 500 किलोमीटर तक की दूरी के लिए 50% सीट्स पर टिकट किराया 2500 से ज़्यादा नहीं होगा।
  • इस योजना का लक्ष्य गैर सेवा या कम सेवा वाले क्षेत्रों के बीच हवाई सेवाएं उपलब्ध कराना है।
  • देश में अभी 394 हवाई अड्डे ऐसे हैं जहां कोई सेवा नहीं जाती, जबकि 16 हवाई अड्डों पर सेवाएं बहुत कम हैं।
  • रीजनल कनेक्टिविटी से विदेश यात्रा भी संभव होगी और छोटे शहरों से मेट्रो शहर को जोड़ा जाएगा। 
  • उड़ान स्कीम के तहत ऑपरेटर्स को एयरपोर्ट्स पर बेहतर सुविधाएं दी जाएंगी।
  • उड़ान स्कीम के तहत हेलिकॉप्टर्स के लिए भी किराया तय होगा

सरकार की इस योजना के बाद उम्मीद है कि आम आदमा जो अब तक हवाई यात्रा की सिर्फ ख़्वाहिश किया करते थे अब उन्हें भी उड़ने के लिए 'पंख' मिल जायेंगे।

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 21 Oct 2016, 12:33:00 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो